शारदा विश्विद्यालय : स्वामी मुकुदानंदा ने बताया खुशी, सफलता और पूर्ति के सात मन्त्र

ग्रेटर नोएडा : शारदा विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ हुमिनिटीज़ एंड सोशल साइंसेज द्वारा “खुशी, सफलता और पूर्ति के लिए 7 मंत्रो” पर ज्ञानवर्धक वार्ता का आयोजन किया गया। आध्यात्मिक लेखक और अध्यापक स्वामी मुकुदानंदा जी वक्ता के रूप में मौजूद थे। उनका स्वागत शारदा विश्वविद्यालय वाईस चांसलर डॉ जी. आर. सी. रेड्डी और डीन (हुमिनिटीज़ एंड सोशल साइंसेज) प्रो . प्रमोद कुमार मित्रा ने किया। इस वार्ता में विभाग के सारे अध्यक्ष, अधिकारी और अन्य संकायों के डीन भी मौजूद थे ।

स्वामी मुकुदानंदा ने कहा कि एक अच्छा प्रशिक्षित दिमाग हमारे जीवन में सकारात्मक दृष्टिकोण और सफलता का सबसे बड़ा संसाधन है। स्वामी मुकुंदानंद जी ने बताया कि उन्होंने मन के सिद्धांतों के अध्ययन और अभ्यास में साढ़े तीन दशक का समय बिताया है। स्वामी मुकुंदानंद जी ने कहा मन प्रबंधन की शक्तिशाली तकनीकें वेदों के शाश्वत सत्य का विस्तार हैं, जिसने हजारों लोगों को इन सिद्धांतों को सीखने और लागू करने से उनके दिमाग और उनके जीवन को बदलने में मदद मिल रही है।

विचार और भावनाएँ जो समय के साथ बनी रहती हैं वे एक दृष्टिकोण में कठोर हो जाती हैं। यदि आप एक दृष्टिकोण के साथ लंबे समय तक रहते हैं, तो यह दूसरा स्वभाव बन जाता है । गलत मानसिकता आपको संतोष, आनंद, आत्मज्ञान का मार्ग दिखा सकती है और सही मानसिकता में जीवन आपको सफलता और असाधारण जीवन की ओर ले जाने की राह की ओर इशारा करेगा।

सफलता, खुशी और पूर्ति के लिए दुख से दूर और परमानंद की एक स्थायी और सामंजस्यपूर्ण स्थिति में अपने सरल, प्रभावी और त्रुटिहीन चित्रण का सबसे सरल मार्ग है।

प्रो . मित्रा ने कहा की स्वामीजी के ज्ञानवर्धक प्रवचन वैदिक शास्त्रों में बुद्धि, हास्य और परिपूर्ण तर्क के साथ सबसे गहरी अवधारणाओं को स्पष्ट करते हैं।

वाईस चांसलर डॉ जी. आर. सी. रेड्डी ने कहा की स्वामीजी मुकुंदानंद जी ने अपने व्याख्यान में वेद, उपनिषद, श्रीमद भागवतम्, पुराण, भगवद गीता, रामायण, और अन्य पूर्वी धर्मग्रंथों और पश्चिमी दर्शन की शिक्षाओं को शामिल किया है।

वाईस चांसलर डॉ जी. आर. सी. रेड्डी ने स्वामी मुकुंदानंद जी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया

यह भी देखे:-

जीएल बजाज : प्रबंधन छात्रों का 12 वां  वार्षिक दीक्षांत समारोह का आयोजन 
शारदा विश्वविधालय में धूमधाम से मन गणतंत्र दिवस समारोह, पांच गाँव गोद लेने की घोषणा
GBU की प्रोफेसर डॉ. संध्या तरार यंग रिसर्चर अवार्ड हुई सम्मानित बेस्ट
शारदा विश्वविधालय के विभिन्य संकायों द्वार बजट से सम्बंधित कार्यक्रम आयोजित
शारदा विश्विद्यालय में बास्केटबॉल प्रशिक्षण शिविर का समापन, चांसलर पी.के . गुप्ता ने चयनित खिलाडिय...
डेल्टा प्लस वैरिएंट : डराने लगा कोरोना , सरकार ने बताया वैरिएंट पर नजर रखने के लिए कैसी है तैयारी
आईआईएमटी कॉलेज के बीएड विभाग में ओरिएनटेशन प्रोग्राम का आयोजन
RYAN GREATER NOIDA RANKED TOP 5 ALL INDIA ENVIRONMENT FRIENDLY SCHOOLS AWARD
किसान आंदोलन: सिंघु बॉर्डर खाली कराने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का सुनवाई से इनकार
BIMTECH धूम-धाम से मनाएगा अपना 31 वां स्थापना दिवस , आम लोग भी संस्कृतिक महोत्सव “सबरंग” का उठा सके...
अगर देश बदलना है तो बदलनी होगी सोच : ममता शर्मा
DATA STORY: जानें, एशिया में किन देशों की हवा बेहतर है और किनकी खराब, भारत की स्थिति में हुआ सुधार
रामईश संस्थान में राष्ट्रिय सेमिनार का आयोजन
एक्टिव सिटीज़न टीम के सदस्यों ने आज फूल डे को मनाया कूल डे
जी एन आई ओ टी (एमबीए इंस्टीट्यूट) को बेस्ट मैनेजमेंट एडुकेटर ऑफ़ द ईयर अवार्ड
ग्लोबल इंस्टीट्यूट में दीपावली मेला एवं उत्सव का आयोजन