ऋग्वेद पारायण महायज्ञ, हर गृहस्थ को प्रतिदिन पंच महायज्ञ करने के लिए कहा है धर्मशास्त्रों ने भी : श्रद्धानंद जी महाराज

ग्रेटर नोएडा : सूरजपुर स्थित आर्य समाज मंदिर में चल रहे 8 दिवसीय ऋग्वेद पारायण महायज्ञ-2019 के चौथे दिन, आज प्रातः 8 बजेः वैदिक मंत्रोच्चार के साथ आहूति दी गई, साथ ही विद्वानों ने प्रवचन व भजनों के द्वारा अपने विचार प्रस्तुत किए।
RIGVED PARAYAN MAHAYAGYA IN ARYA SAMAJ SURAJPUR- GRENONEWS
प्रातःकाल यज्ञमान प0 कर्मवीर आर्य, धर्म पत्नी निधि आर्य और सांयकाल में अतुल शर्मा और लोकेश आर्य दंपत्ति ने यज्ञमान के रूप में आहूति प्रदान की। इस मौके पर स्वामी श्रद्धानंद जी महाराज ने अपने प्रवचनों में पंच महायज्ञ पर प्रकाश डालते हुए कि धर्मशास्त्रों ने भी हर गृहस्थ को प्रतिदिन पंच महायज्ञ करने के लिए कहा है। नियमित रूप से इन पंच यज्ञों को करने से सुख-समृद्धि व जीवन में प्रसन्नता बनी रहती है। इन महायज्ञों के करने से ही मनुष्य का जीवन, परिवार, समाज शुद्ध, सदाचारी और सुखी रहता है। उन्होंने कहा कि पर्याप्त धन-धान्य होने पर भी अधिकांश परिवार दुःखी और असाध्य रोगों से ग्रस्त रहते हैं, क्योंकि उन परिवारों में पंच महायज्ञ नहीं होते। मानव जीवन का उद्देश्य धर्म, अर्थ, काम व मोक्ष की प्राप्ति है। इन चारों की प्राप्ति तभी संभव है, जब वैदिक विधान से पंच महायज्ञों को नित्य किया जाए। पंच महायज्ञ का उल्लेख ’मनुस्मृति’ में मिलने पर भी उसका मूल यजुर्वेद के शतपथ ब्राह्मण हैं। इसीलिए ये वेदोक्त है। जो वैदिक धर्म में विश्वास रखते हैं, उन्हें हर दिन ये 5 यज्ञ करते रहने के लिए चाहिए। ब्रह्मयज्ञ (स्वाध्याय),देवयज्ञ (होम),पितृयज्ञ (पिंडक्रिया),भूतयज्ञ (बलि वैश्वेदेव) और अतिथियज्ञ मुख्य हैं। देहरादून से आए भजनोपदेशक सतपाल सरल ने भजन प्रस्तुत करते हुए कहा कि ’’अतीत हिंद का इन गुब्बारों से पूछो। वो क्या दबदबा था, इन सितारों से पूछो।।’’ आचार्य कर्ण सिंह ने भी वेद और संस्कृति पर अपने विचार प्रस्तुत किए। यज्ञ ब्रहमा के रूप में स्वामी श्रद्धानंद जी महाराज पलवल (हरियाणा) रहे। जब कि वेद मंत्रोच्चर गौमत गुरूकुल उत्तर प्रदेश से आए कमल कुमार शास्त्री और ब्रहमचारी विकास कुमार आर्य ने किया।

ऋग्ग्वेद पारायण महायज्ञ-2019 की आहूति देने वालों में मूलचंद शर्मा, प0 धर्मवीर आर्य, वीरेश भाटी, प0 शिवदत्त आर्य, प0 शिव कुमार आर्य, प0 महेंद्र कुमार आर्य, रतनलाल आर्य, श्रीमती लीना आर्य, अनिल आर्य, रामजस आर्य, विमलेश आर्य, वेदप्रकाश आर्य, भारती शर्मा आदि ं लोग उपस्थित रहे।

यह भी देखे:-

आज का पंचांग, 27 नवम्बर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहुर्त
दुर्गा अष्टमी व  नवमी  पर हिन्दू युवा वाहिनी ने झुग्गी-बस्तियों  में फल  वितरण किया 
श्रीगणेश चतुर्थी महोत्सव , आइए जानते हैं गणेशजी की स्थापना से क्या क्या लाभ मिलता है
रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेटर नोएडा ने जरूरतमंद बच्चों में वितरित किये पाठ्य सामग्री
कवि ओम रायज़ादा की रचना "कार्तिक माह की चौथ को, कहते .... "
जानिए, चैत्र नवरात्र का मुहूर्त, नवरात्र का आध्यात्मिक एवं वैज्ञानिक-महत्व
स्कूल में खेलते हुए छात्र की हुई मौत
कल का पंचांग, 25 दिसंबर 2022, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
लखनऊ : सीएम योगी ने अपनाया सख़्त रवैया , अधिकरियो को दिए सख़्त दिशा निर्देश
जिला गौतमबुद्ध नगर में कॉनटेनमेंट जोन की सूची जारी ,देखें
भाजपा युवा मोर्चा व सपा के कार्यकर्ताओं ने अपने नेता के स्वागत के दौरान उड़ाई नियमों की धज्जियाँ 
5 जून को कलेक्ट्रेट में आरडब्ल्यूए के साथ बैठक
यमुना एक्सप्रेसवे : बेलगाम वैन की टक्कर से बस चालक की मौत 
मौसम ने फिर ओढ़ी कोहरे की चादर, बदला मौसम कोहरे से बढ़ी ठिठुरन
आज का पंचांग , 13  नवंबर 2020  जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
यशपाल भाटी बने राष्ट्रीय महामंत्री