नेफोमा की एनपीसीएल के साथ बैठक, मल्टीपॉइंट कनेक्शन की मांग

ग्रेटर नोएडा : आज ग्रेटर नोएडा वेस्ट की गौर सिटी-2, 11th एवेन्यू , महागुन मायवुड , ग्रीनआर्क, वेदान्तम व अन्य सोसायटी के प्रतिनिधयों ने नेफोमा अध्यक्ष अन्नू खान के साथ एनपीसीएल बिजली विभाग के वाइस प्रेज़िडेंट सारनाथ गांगुली से मल्टीपॉइंट कनेक्शन की मांग संबंध में एक लंबी बैठक कर सोसाइटियों में बिल्डरो द्वारा बिजली के नाम पर सोसाइटी में की जा रही धोखाधड़ी की जानकारी दी, एनपीसीएल विभाग के वाईस प्रेसीडेंट सारनाथ गांगुली ने बताया कि कुछ सोसायटी में मल्टीपॉइंट कनेक्शन का पायलट प्रोजेक्ट चल रहा है जिसे तीन माह में पूरा कर जांचा जाएगा फिर उसकी सफलता के पश्चात ही सभी सोसायटी में काम शुरू हो जाएगा, मीटिंग में आए सोसाइटियों के प्रतिनिधियों ने बिल्डर द्वारा अवैध रूप से अधिक व काटे जा रहे अन्य चार्जेस व मेनटेनेंस के खिलाफ भी शिकायत की, मल्टीपॉइंट कनेक्शन के लिए गौरसिटी 2 की 11th एवेन्यु, महागुन माइवुड, वेदान्तम रेडिकॉन का सर्वे एक हफ्ते में एनपीसीएल द्वारा किया जाएगा उसके बाद दूसरी सोसाइटी का सर्वे कर मल्टीपॉइंट कनेक्शन में आ रही अड़चनों का रास्ता खोलने के लिए ठोस कदम उठाए जाएंगे

गौर सिटी-2 के निवासी अंकुश कपूर ने बताया कि बिल्डर अवैध रूप से बिजली मीटर से मैंटेनेस व अन्य चार्ज काट रहा है जबकि ऐसा कानूनी रूप से गलत है, बिल्डर बिजली प्रभार में बहुत बड़ा भ्रष्टाचार कर अधिक चार्ज लेकर लगभग आठ लाख रुपए प्रतिमाह अधिक वसूल रहा है। बिजली प्रभार के कम होने के कारण डीजी का भी अधिक और अवैध रूप से वसूली कि जा रही है।

नेफोमा अध्यक्ष अन्नू खान ने बताया एनपीसीएल के अधिकारियों के साथ एक लंबी वार्ता में बहुत सारी बाते सामने आई है जिसकी सोसाइटी निवासी और बिल्डरों से बात कर के हल कराया जाएगा, बिल्डर से सोसाइटी निवासी अगर बिजली का बिल मांगते है जो उसको एनपीसीएल से आता है वह बिल्डर नही देता है क्योंकि बिल्डर ने उदाहरण के तौर पर एक सोसाइटी में 100 किलोवाट लोड लिया है वो आगे अपने कस्टमर सोसाइटी निवासियों को 200 किलोवाट बेच रहा है, मुनाफ़ाखोरी के लालच में ज्यादातर बिल्डर सोसाइटी को हैंडओवर नही करना चाहता, हमने अधिकारियों को बताया बिजली सरकार की है और उस बिजली को बेचकर मुनाफा बिल्डर कमा रहे है, बिजली का बिल जो निवासियों द्वारा भरा जा रहा है और जो बिल्डर एनपीसीएल में बिल भर रहा है उसकी जाँच होनी चाहिए ,

नेफोमा महासचिव रश्मि पाण्डेय ने बताया की कई बिल्डर बिजली के मीटर में ही मैंनटीनेंस चार्ज भी लेते है जो की उचित नही है बिजली के मीटर में सिर्फ़ बिजली का बिल आना चाहिये। और बिल्डर मनमाने तरीक़े से फ़िक्स चार्जेज़ लेता है जो एनपीसीएल द्वारा निर्धारित राशि से अधिक है ।

एनपीसीएल के अधिकारी श्री सारनाथ गांगुली ने सख्त कार्रवाई करने तथा बिजली ऑडिट कराने का नेफोमा को आश्वासन दिया है और कहा इस तरह की मीटिंग हर महोने करेगे जिससे समस्याओं का जल्द समाधान करा पाए

मीटिंग मे अजय तोमर, असिम खान, रामकृपाल कुशवाहा, सुमन वर्मा, सुमीत वाही, जे के शर्मा, घनानंद शुक्ला आदि नेफोमा सदस्य उपस्थित थे, मीटिंग तीन घण्टे चली जिसमे सभी एनपीसीएल के अधिकारियों ने भाग लिया ।

भवदीय

यह भी देखे:-

रोटरी क्लब ग्रेटर नोएडा ने किया पौधारोपण
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की 111 वीं बोर्ड बैठक में लिए गए अहम निर्णय
यमुना एक्सप्रेसवे पीसीआर में कैंटर ने मारी टक्कर
वेदार्णा फाउंडेशन ने शुरू किया दो दिवसीय योग प्रशिक्षण शिविर
आपातकाल के विरोध में भाजपा ने मनाया काला दिवस
ग्रेटर नोएडा : चलती मिनी बस में लगी आग
ग्रेटर नोएडा बीटा- 1 में फ्री थर्मल थेरपी डेमो कैम्प का होगा आयोजन
हर्षोल्लास एवं शांतिपूर्वक होली संपन्न कराने के लिए डीएम- एसएसपी ने ली बैठक
फ़ौज में भर्ती की तैयारी के लिए दौड़ लगा रहे युवक की गर्मी ने ली जान
करणी सेना का ऐलान, विदेशों में भी रिलीज नहीं होने देंगे 'पद्मावती'
वृक्षारोपण महाकुम्भ : ग्रेनो प्राधिकरण लगाएगा 80 हज़ार पौधे, आज से शुरू हुआ अभियान
राजवाहे में मिला अज्ञात युवती का शव, जांच में जुटी पुलिस
सर्वजन कल्याण सेवा समिति बीटा- 2 के नई कार्यकारिणी का गठन
भाजपा गौतमबुद्ध नगर ईकाई ने केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए भेजा रहत सामग्री
नवरत्न फाउंडेशन्स ने किया नेक काम , आर्थिक रूप से कमजोर युवती की कराई शादी
मप्र में किसानों के साथ हुई हिंसा की कि निंदा