योग एवं मेडीटेसन के साथ शुरू हुआ नवागंतुक छात्र – छात्राओं का अनुप्रवेश कार्यक्रम

गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में आज नवागंतुक छात्र – छात्राओं का अनुप्रेवेश कार्यक्रम के तीसरे दिन छात्रों को पिछले दो दिनों की तरह सुबह योग एवं मेडीटेसन से शुरू की गई।

अगला कार्यक्रम प्रेरणादायक वक्ता हिमांशु अरोड़ा ने अपने अभिभाषण में विश्वविद्यालय के छात्रों सम्बोधित करते हुए छात्रों से कहा सफलता की सबसे बडी कुंजी कम्यूनिकेसन दक्षता है। इसी विषय-वस्तु को आगे बढाता हुए छात्रों से पुछा कौन कौन प्रसिद्ध होना चाहता है तो सभी ने हाँ बोला लेकिन जब उन्हें मंच पे आमंत्रित किया गया तो उनमें से कुछ ही आगे आए। इस उदाहरण के द्वारा श्री अरोड़ा ने यह बताने का प्रयास किया की मौका बार बार नहीँ मिलता। अतः अगर कुछ पाने की इच्छा है तो उसे हासिल करने के लिए हर वक्त तत्पर रहना होगा और जब भी मौका मिले उसे हासिल करने का हर तरह से प्रयास करना चाहिए।

परिवार, समाज, रिश्तेदारों में लोकप्रिय होने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप एक अच्छे श्रोता बनिए, जो दूसरों का कहा सुनकर अपना ख़ुशी भी जाहिर करता है,अपना दुःख भी प्रकट करता है और जो कोई बात समझ न आने पर सवाल भी पूछता है। और शायद यह Good Communication Skills Develop करने का सबसे ज़रुरु अंग है।

अंत में कुछ प्रभावशाली बातों का सुनते वक्ता ध्यान रखने को कहा जैसे —

1. सारा ध्यान सुनने पर लगाएं। और यह तभी होगा जब आप अपने पास के व्यवधान को किनारे कर देंगे, जैसे कि मोबाइल, टीवी इत्यादि।
2. बीच में हस्तक्षेप न करें नहीं तो सामने वाला अपने विषय से भटक सकता है।
3. पूरी बात सुनें, बिना पूरी बात सुनें अपना मत न रखें।
4. बीच-बीच में प्रश्न पूछें, जहाँ भी आपको डाऊट लगे।
5. बातचीत करते वक्त अपने बॉडीलैंग्वेज का सही इस्तेमाल करें।

मोटीवेशनल टाॅक के बाद नव प्रवेशित छात्रों को विश्वविद्यालय के सांसकृतिक परिषद् के अन्तर्गत आने वाले सभी क्लबों एवं उनके फैकल्टी संयोजक एवं छात्र प्रतिनिधि से मिलवाया गया और साथ उनके अन्तर्गत होने वाली एकटीवीटीज के बारे में बताया ही नहीं गया अपितु उन्हें कुछ चुनिन्दा एकटीवीटीज की झलक भी दिखाई गई।

इन एकटीवीटीज में शोएब खान ने एक थ्रिलर कहानी सुनाई जिसका फोकस था एक बाप और बेटी के बीच एक यात्रा वृतांत था जो दोनो के बीच के मार्मिक संबंध को दर्शाता है।

इसके अलावा नृत्य एवं संगीत की भी झलक दिखाई गई और नव प्रवेशित छात्रों को विभिन्न क्लबों से अपनी रूचि के अनुसार जुडने के लिए प्रोत्साहित किया गया।

अन्त में वरिष्ठ छात्रों का एक ग्रुप जो विश्वविद्यालय का सबसे पसंदीदा ग्रूप है और जो ठसका बोयज के नाम से जाना जाता है उसका एक परफोर्मेंस भी किया गया जो बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ की थीम पर क

यह भी देखे:-

आईटीएस में उद्यमिता विकास पर संकाय विकास कार्यक्रम
RYANITES SPREAD MESSAGE FOR SIGNIFICANCE OF VOTING
आइटीएस डेंटल कॉलेज में स्पोर्ट्स डे का आयोजन
गलगोटिया विश्विद्यालय के छात्रों को घर पर ऑनलाइन दिए जा रहे हैं व्याख्यान
गलगोटिया विश्वविद्यालय में रक्तदान शिविर, छात्रों ने दिखाया उत्साह
दीपालय-एशियन पेंट्स स्टेडी परियोजना की वार्षिक समापन समारोह मनाया गया
शारदा विश्वविधालय में धूमधाम से मन गणतंत्र दिवस समारोह, पांच गाँव गोद लेने की घोषणा
लिटिल एंजलस के बच्चों ने खेली फूलों से होली, इको फ्रेंडली होली खेलने का दिया संदेश
शारदा विश्विधालय में स्कूल ऑफ़ डेंटल साईंसेज के नवप्रवेशित छात्रों का धूम- धाम से स्वागत
स्काईलाइन में स्पंदन 2019, छात्र- छात्राओं ने दिखाई प्रतिभा
World Tuberculosis Day 2021: कोरोनाकाल में टीबी की दवा न छोड़ें मरीज, हो सकता है खतरा
गलगोटिया विश्वविद्यालय : लॉ के छात्रों ने लोगों को बताया उनके मौलिक अधिकार
जे.पी. इन्टरनेशनल स्कूल में छात्र परिषद् का गठन
विदेश मंत्रालय के अधिकारी अवलोकन के लिए जीबीयू पहुँचे
जी. डी. गोयंका ग्रेटर नोएडा में क्रिसमस कार्निवल की धूम
DU Exam Form 2021: यूजी, पीजी और प्रोफेशनल के स्टूडेंट्स के लिए डीयू ने जारी किया नोटिफिकेशन, 28 फरव...