बाईक बोट कम्पनी का एक और डायरेक्टर गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा : चर्चित बाईक बोट कंपनी के घोटाले के और आरोपी व निदेशक राजेश भारद्वाज को नोएडा पुलिस ने आज गिरफ्तार कर लिया है . इस मामले में नोएडा पुलिस मीडिया सेल द्वारा जरी प्रेस विज्ञप्ति –

दिनांक 09.07.19 को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद गौतमबुद्धनगर द्वारा गठित एसआईटी (एनईओडब्लू) द्वारा थाना दादरी मे पंजीकृत अभियोग (1)मु0अ0सं0 386/19 धारा 420/201/409/ भादवि, (2)मु0अ0सं0 206/19 धारा 420/ 467/471/201 भादविं मे वांछित चल रहे अभियुक्त राजेश भारद्वाज पुत्र शंकर लाल शर्मा (डायरेक्टर बाईक बोट पावर्ड बाई गर्वित इन्नोवेटिव प्रमोटर्स लिमेटेड) को गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार अभियुक्त-

राजेश भारद्वाज पुत्र शंकर शर्मा निवासी मौ0 शेख पैन कस्बा व
थाना खुर्जा बुलंदशहर हाल निवासी डी-1/1402 सीएलईओ कन्ट्री सोसाइटी थाना फेज-3 नोएडा जिला गौतमबुद्धनगर।
अभियुक्त की गिरफ्तारी का विवरण-

गिरफ्तार अभियुक्त बाईक बोट कम्पनी (जीआईपीएल) मे डायरेक्टर के पद पर 2017 से नियुक्त था। अभियुक्त दसवी फेल है। इसके द्वारा सर्वप्रथम सिक्योर लाईफ कम्पनी चलाई जो जनकपुरी दिल्ली मे वर्ष 2001 से अब तक चल रही है जिसमे इसके द्वारा मार्केटिंग का काम किया जाता था। इसके द्वारा धूपबत्ती अगरबत्ती बनाकर खुर्जा कस्बा मे बेचने का काम किया जाता था। इसी दौरान इसकी मुलाकत संजय भाटी से हुई तब संजय भाटी द्वारा इसे बताया गया कि मेरी एक कम्पनी गर्वित इन्नोवेटिव प्रमोटर्स लिमेटेड वर्ष 2010 से आरओसी मे रजिस्टर्ड है अब मे आॅनलाइन ओला उबर कैब की तरह बाईक टैक्सी चलाना चाहता हूं। इसके लिये मे बाईक बोट प्रोजेक्ट को लांच कर रहा हू और इसको उक्त कम्पनी मे शामिल करने की बात कही गयी इसके बाद राजेश भारद्वाज द्वारा उक्त कम्पनी को 2017 मे ज्वाइन किया गया। इसके द्वारा कम्पनी के प्रमोशन कार्यक्रम मे जनता को कम्पनी की स्कीम के बारे मे जानकारिया दी गयी।

अपराध करने का तरीका-

उक्त कम्पनी द्वारा एक फर्जी स्कीम ‘‘बाईक बोट’’ नाम से बनाई गयी, जिसके अन्तर्गत एक टैक्सी बाईक के लिए कुल 62,100/-हजार रूपये निवेष करना होता था, जिसके बदले कम्पनी 6765/रूपये प्रतिमाह एक वर्ष तक लाभ देने की बात कही गयी थी। कम्पनी से राजेश भारद्वाज को करीब दो ढाई करोड रूपये प्राप्त हुये जिससे इसके द्वारा स्लीइओ कन्ट्री सोसाइटी मे एक फ्लैट व एक होंडा गाडी खरीदी गई। अभियुक्त द्वारा कम्पनी मे प्रमोशन कार्यक्रमो के माध्यम से लाखो लोगो को कम्पनी मे निवेश करने के लिये प्रलोभन दिया गया है एवं कम्पनी के एमडी संजय भाटी व अन्य डायरेक्टर द्वारा साथ मिलकर धोखाधडी कर एक षडयंत्र के तहत लोगो की करोडो रूपये की जमा पूंजी को हडप लिया गया
गिरफ्तार करने वाली टीम के सदस्य-
1- निरीक्षक श्री शीलेष कुमार, प्रभारी एन0ई0ओ0डब्लू0
2- निरीक्षक श्री भूवनेश कुमार प्रभारी थाना एक्सप्रेसवे गौतमबुद्धनगर।
3- उ0नि0 श्री विजयपाल सिंह थाना एक्सप्रेसवे गौतमबुद्धनगर।
4- हैड कां0 जितेन्द्र कुमार थाना एक्सप्रेसवे गौतमबुद्धनगर।
5- कां0 सुशील कुमार थाना एक्सप्रेसवे गौतमबुद्धनगर।
6- कां0 संजीव कुमार सर्विलांस विंग पुलिस अधीक्षक ग्रामीण जनपद गौतमबुद्धनगर।

मीडिया सैल
गौतमबुद्धनगर

यह भी देखे:-

नोएडा - 58 पुलिस ने लूटेरों के गैंग का किया पर्दाफाश, लूट व चोरी का माल बरामद
ड्राईवर को झपकी आई , बेकाबू होकर पलटी बस, यात्री हुए चोटिल
एचसीएल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर की संदिग्ध मौत
गौतमबुद्ध नगर: चौकी प्रभारियों का तबादला, उपनिरीक्षकों को मिली तैनाती
जेवर गैंगरेप हत्या का खुलासा न होने पर सड़कों पर उतरे लोग,काली पट्टी बांधकर निकाला मौन जुलूस
सपा नेता के बेटे से 50 हजार की रंगदारी मांगी
सेल्स टैक्स व पुलिस की सयुंक्त टीम ने की छापेमारी
एस्टर काॅलेज आॅफ एजूकेशन में रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन
सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाला युवक पुलिस हिरासत में
ठगी के लिए चलाए जा रहे कॉल सेंटर पर STF का छापा, 19 युवक- युवती गिरफ्तार
छात्र से कार लूट कर भाग रहा बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ा
बच्ची से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार
रौब झाड़ने के लिए उड़ाई दारोगा की वर्दी
फर्जी नेताओं के खिलाफ भाजपा कराएगी एफआईआर, धौंस देने वाले कथित नेता को पुलिस ने भेजा जेल
धूमधाम से मनाया जा रहा है जेल दिवस, बंदियों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन
हस्तशिल्प मेला : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पिक्चर फ्रेमिंग टेक्नोलॉजी के पेशेवरों को गिल्ड प्...