गलगोटिया विश्विद्यालय ने सफलता के नए आयामों की संरचना की है

ग्रेटर नोएडा : आज गलगोटिया विश्वविद्यालय का नाम अपने आप में एक बहुत ही ऊँचे पायदान पर पहुँच चुका है। कुशल प्रबन्धन उचित समायोजन एवम श्रेष्ठ मार्गदर्शन के बल पर देश में ही नहीं बल्कि विश्व.स्तर पर अपनी एक नयी पहचान बनाते हुए विश्वविद्यालय ने सफलता के नये आयामों की संरचना की है।
शिक्षा जगत में इस महाकम्पटीशन के युग में भी सफलता की एक ऊँची उड़ान भरते हुऐ नये से नये कीर्तिमानों की स्थापना की है।

विश्वविद्यालय की प्रबन्ध समिति के कुशल निर्देशन सम्यक मार्गदर्शन और पूर्ण रूप से कर्तव्य निष्ठा के साथ काम करते हुए समर्पण के बूते पर ही GALGOTIA UNIVERSITY संस्थान ने उत्तर प्रदेश में निजी संस्थानों में अपना प्रथम स्थान प्राप्त किया है।

आज इस संस्थान में देश के जाने माने प्रोफेसर और विषय.विशेषज्ञ जुड़ चुके हैं।संस्थान की लोकप्रियता और गुणवत्ता को अधिमान देते हुए गलगोटिया यूनिवर्सिटी ने EDUCATION एक्सीलेंस प्रोग्राम के तहत विश्व के दो प्रमुख विश्वविद्यालयों के साथ एग्रीमेंट किया है। एशिया पैसिफ़िक यूनिवर्सिटी के क़रार के बाद अब गलगोटिया के छात्र इस मलेशियाई विश्वविद्यालय में अपने कोर्स का दूसरा साल पढ़कर डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। इसमें एमबीए एमएससी एकाउंटिंग फ़ाइनेंस समेत कई पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम शामिल हैं।
यह विश्वविद्यालय ऐसे छात्रों को मुक्त हॉस्टल भी उपलब्ध करायेगा। फ्राँस की ग्रुप इन्सएक के क़रार के तहत गलगोटिया के छात्रों को डिग्री के साथ अपने कैंपस में मुक्त आवास सुविधा भी देगी।

पिछले एक लम्बे समय से शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े हुये गलगोटिया समूह की गिनती प्रमुख इंजीनियरिंग व मार्केटिंग संस्थानों में होती है। GALGOTIA UNIVERSITY के चांसलर सुनील गलगोटिया के अनुसार अमेरीका की परड्यू यूनिवर्सिटी संग गलगोटिया का स्टूडेंट्स ट्रांसफ़र एग्रीमैंट हुआ था। उसके बाद गौथ यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी अॉफ मैरी लैंड.लंदन, कैंट स्टेट यूनिवर्सिटी अमेरीका, आस्ट्रेलिया के चीफली बिज़नेस स्कूल व इटली की यूनिवर्सिटी अॉफ पीसा के संग भी क़रार किया जा चुका है। गलगोटिया समूह अपने इनोवेटिव एजुकेशन मैथेडस के चलते नंबर वन पर बना हुआ है। गलगोटिया से पासआउट स्टूडेंट्स का शत.प्रतिशत प्लेसमेंट होना इस बात का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि कैंपस इंटरव्यू के ज़रिये ख्यातिप्राप्त 460 कंपनियों ने हमारे स्टूडैंटस का चयन किया है।

एसोचैम ने एकेडमिक्स और प्लेसमेंट में बेस्ट यूनिवर्सिटी का अवार्ड भी दिया है। पिछले दिनों केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर ने नेशनल एजुकेशन एक्सीलेंस अवार्ड 2017 समारोह में यह अवार्ड प्रदान किया।

युनिवर्सिटी के कुलपति सुनील गलगोटिया बताते हैं कि यूनिवर्सिटि की विश्वविख्यात ख्याति और छात्रों की सौ फ़ीसदी प्लेसमेंट के पीछे निम्न बिन्दुओं का अपना एक महत्वपूर्ण योगदान है।

  • कुशल प्रबन्धन
  • उचित समायोजन
  • श्रेष्ठ मार्ग-दर्शन
  • शिक्षा की गुणवत्ता ऽबेहतरीन शिक्षक
  • एकेडमिक प्रोसेज

यह भी देखे:-

स्कूली छात्रों ने निकाला स्वच्छ भारत अभियान रैली
आईटीएस में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस का आयोजन
रोटरी क्लब ने श्री कृष्णा लाइफ़लाइन हॉस्पिटल के सहयोग से लगाया हेल्थ चेकअप कैंप
जिला जेल में  विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन
जी. डी. गोयंका में गुड फ्राईडे एवं ईस्टर का सन्देश छात्रों को आॅन लाइन
JEECUP 2021: 15 से 20 जून तक होगी यूपी पालीटेक्निक संयुक्त प्रवेश परीक्षा, आवेदन अगले सप्ताह से jeec...
जी.एन.आइ.ओ.टी. एमबीए  इंस्टिट्यूट मे फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम शुरू   
लॉयड इंस्टिट्यूशन में जॉब फेस्ट, “ नियुक्ति-2019” का आयोजन
कैम्ब्रिज स्कूल में एमएस सुब्बुलक्ष्मी मैमोरियल ऑडिटोरियम का उद्घाटन
CBSE 10वीं के नतीजे कुछ ही देर में घोषित होंगे , ऐसे चेक करें अपना रिजल्ट
आईटीएस कॉलेज में उद्यमिता विकास पर फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम
Summer Camp at Ryan Greater Noida
एनआईईटी में यंग माइंडस ग्रेट आईडिया प्रतियोगिता , डीपीएस गाज़ियाबाद बना विजेता
RYAN GREATER NOIDA'S GIRLS OUTSHINE AT THE “ITS QUIZ”
जीबीयू की रिमोट प्राक्टर्ड ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा में छात्रों की अच्छी उपस्थिति
ग्रेटर नोएडा में 16 जुलाई को टेक्नोत्थलोन परीक्षा, विजेता जायेंगे नासा