गलगोटिया विश्विद्यालय ने सफलता के नए आयामों की संरचना की है

ग्रेटर नोएडा : आज गलगोटिया विश्वविद्यालय का नाम अपने आप में एक बहुत ही ऊँचे पायदान पर पहुँच चुका है। कुशल प्रबन्धन उचित समायोजन एवम श्रेष्ठ मार्गदर्शन के बल पर देश में ही नहीं बल्कि विश्व.स्तर पर अपनी एक नयी पहचान बनाते हुए विश्वविद्यालय ने सफलता के नये आयामों की संरचना की है।
शिक्षा जगत में इस महाकम्पटीशन के युग में भी सफलता की एक ऊँची उड़ान भरते हुऐ नये से नये कीर्तिमानों की स्थापना की है।

विश्वविद्यालय की प्रबन्ध समिति के कुशल निर्देशन सम्यक मार्गदर्शन और पूर्ण रूप से कर्तव्य निष्ठा के साथ काम करते हुए समर्पण के बूते पर ही GALGOTIA UNIVERSITY संस्थान ने उत्तर प्रदेश में निजी संस्थानों में अपना प्रथम स्थान प्राप्त किया है।

आज इस संस्थान में देश के जाने माने प्रोफेसर और विषय.विशेषज्ञ जुड़ चुके हैं।संस्थान की लोकप्रियता और गुणवत्ता को अधिमान देते हुए गलगोटिया यूनिवर्सिटी ने EDUCATION एक्सीलेंस प्रोग्राम के तहत विश्व के दो प्रमुख विश्वविद्यालयों के साथ एग्रीमेंट किया है। एशिया पैसिफ़िक यूनिवर्सिटी के क़रार के बाद अब गलगोटिया के छात्र इस मलेशियाई विश्वविद्यालय में अपने कोर्स का दूसरा साल पढ़कर डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। इसमें एमबीए एमएससी एकाउंटिंग फ़ाइनेंस समेत कई पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम शामिल हैं।
यह विश्वविद्यालय ऐसे छात्रों को मुक्त हॉस्टल भी उपलब्ध करायेगा। फ्राँस की ग्रुप इन्सएक के क़रार के तहत गलगोटिया के छात्रों को डिग्री के साथ अपने कैंपस में मुक्त आवास सुविधा भी देगी।

पिछले एक लम्बे समय से शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े हुये गलगोटिया समूह की गिनती प्रमुख इंजीनियरिंग व मार्केटिंग संस्थानों में होती है। GALGOTIA UNIVERSITY के चांसलर सुनील गलगोटिया के अनुसार अमेरीका की परड्यू यूनिवर्सिटी संग गलगोटिया का स्टूडेंट्स ट्रांसफ़र एग्रीमैंट हुआ था। उसके बाद गौथ यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी अॉफ मैरी लैंड.लंदन, कैंट स्टेट यूनिवर्सिटी अमेरीका, आस्ट्रेलिया के चीफली बिज़नेस स्कूल व इटली की यूनिवर्सिटी अॉफ पीसा के संग भी क़रार किया जा चुका है। गलगोटिया समूह अपने इनोवेटिव एजुकेशन मैथेडस के चलते नंबर वन पर बना हुआ है। गलगोटिया से पासआउट स्टूडेंट्स का शत.प्रतिशत प्लेसमेंट होना इस बात का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि कैंपस इंटरव्यू के ज़रिये ख्यातिप्राप्त 460 कंपनियों ने हमारे स्टूडैंटस का चयन किया है।

एसोचैम ने एकेडमिक्स और प्लेसमेंट में बेस्ट यूनिवर्सिटी का अवार्ड भी दिया है। पिछले दिनों केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर ने नेशनल एजुकेशन एक्सीलेंस अवार्ड 2017 समारोह में यह अवार्ड प्रदान किया।

युनिवर्सिटी के कुलपति सुनील गलगोटिया बताते हैं कि यूनिवर्सिटि की विश्वविख्यात ख्याति और छात्रों की सौ फ़ीसदी प्लेसमेंट के पीछे निम्न बिन्दुओं का अपना एक महत्वपूर्ण योगदान है।

  • कुशल प्रबन्धन
  • उचित समायोजन
  • श्रेष्ठ मार्ग-दर्शन
  • शिक्षा की गुणवत्ता ऽबेहतरीन शिक्षक
  • एकेडमिक प्रोसेज

यह भी देखे:-

आर्मी इंस्टीट्यूट द्वारा अनुगूंज 2020 प्रीलिम्स का समापन
RYANITES CHAMPIONS AT SHRI ANAND SHUKLA MEMORIAL SKATING CHAMPIONSHIP
गौतम बुद्ध नगर: दो दिन स्कूल बंद करने का आदेश
यूनाइटेड काॅलेज में यूनिमोबी फोटो-2020 प्रतियोगिता अप्रैल में , प्रतिभागी ऐसे करें पंजीकरण
ग्रेटर नोएडा में 16 जुलाई को टेक्नोत्थलोन परीक्षा, विजेता जायेंगे नासा
लैंगिक न्याय व युवा प्रतिभागिता महत्त्वपूर्ण: जस्टिस मृदुल
एपीजे इंटरनेशनल स्कूल को सर्वोत्तम विद्यालय पुरस्कार
IITian बनना चाहता है UP बोर्ड 12 वीं के जिले का टॉपर आशीष गंगवार
गलगोटिया कॉलेज के शुभम सिंह का अच्छे पैकेज पर अमेज़न वेब सर्विस में चयन
एपीजे इंटरनैशनल स्कूल में गाॅधी जयन्ती पर विशेष सभा का आयोजन
गलगोटिया विश्विद्यालय लॉ के छात्रों ने महिला अधिकार के प्रति किया जागरूक
विश्वस्तरीय कांफ्रेंस आई.सी.पी.आर-17 का भव्य शुभारम्भ, डा० यदुवंशी ने किया शोधार्थियों का उत्साहवर्...
ईशान आयुर्वेद में गुरुनानक देव की जयंती गुरु पर्व पर वैदिक हवन का आयोजन
जगन्नाथ इंस्टीट्यूट : विधि विद्यार्थियों ने चलाया विधिक जागरूकता अभियान
ग्लोबल इंस्टीट्यूट आफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में मनाया गया हिंदी दिवस
आईटीएस कॉलेज में उद्यमिता विकास पर फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम