स्कूल ऑफ बुद्धिस्ट स्टडीज एंड सिविलाइजेशन के संकाय सदस्यों का वियतनाम दौरा

ग्रेटर नोएडा : संयुक्त राष्ट्र संघ, राष्ट्रीय वियतनाम बौद्ध संघ एवं वियतनाम सरकार ने 16वें संयुक्त राष्ट्र बुद्ध दिवस पर एक अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन, वियतनाम की राजधानी हनोई के हा नम पास तम चुक पगोडा के कंवेनसन सेंटर में 12-14 मई 2019।

Greno News से समाचार अपने मोबाइल पर पाने के डाउनलोड करें Grenonews app और रहें हर खबर से अपडेट।
– क्लिक करें >> https://play.google.com/store/apps/details?id=com.app.grenonews

इस सम्मेलन के मुख्य अतिथि भारत के उप राष्ट्रपति माननीय श्री एम वेंकैया नायडू थे। इस सम्मेलन में भारत के विभिन्न विश्वविद्यालयों के शिक्षकों को आमन्त्रित किया गया था। गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के बौद्ध अध्ययन एवं सभ्यता विभाग से छः शिक्षकों एवं एक मनोविज्ञान विभाग के शिक्षक भी आमन्त्रित किए गए थे। सभी शिक्षकों के लेख प्रकाशित किए गए हैं। इस अन्तरराष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन में गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के जिन शिक्षकों ने भाग लिया उनके नाम निम्न हैं:
डाॅ अरविंद कुमार सिंह, डाॅ इन्दु गिरीश, डाॅ गुरमेत दोर्जे, डाॅ चन्द्रशेखर पासवान, डाॅ मनीष मेश्राम एवं डाॅ आनन्द प्रताप सिंह। डाॅ अरविंद कुमार सिंह एवं डाॅ आनन्द प्रताप सिंह के शोध पत्र में वयक्त तथ्यों को सम्मेलन में विश्व भर से आए विद्वानों के समक्ष प्रस्तुत करने का अवसर भी मिला।

सम्मेलन के समापन के पश्चात, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय का एक तीन सदस्यों का प्रतीनीधि मण्डल अरविंद कुमार सिंह, निदेशक, अंतर्राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय मामलों, डॉ गुरमीत दोरजे और डॉ चंद्रशेखर पासवान विएतनाम के विभिन्न विश्वविद्यालयों (बौद्ध अध्ययन से संबंधित) एवं बौद्ध विहारों का दौरा किया। ये दौरा वैसे संस्थानों का हुआ जहाँ से ज्यादातर छात्र भारत में बौद्ध अध्ययन के लिए आते हैं या कहें कि भेजे जाते हैं।

इस क्रम में गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय का एक प्रतीनीधि मण्डल सर्व प्रथम वियतनाम के हुए सिटी में स्थित वियतनाम बौद्ध विश्वविद्यालय का दौरा किया। वहाँ डॉ थीच हूंग ऐन, कुलसचिव एवं वाइस रेकटर ने किया। इस दौरान शैक्षिक एवं छात्रों के आपसी आदान प्रदान और दोनों विश्वविद्यालयों के बीच सहयोग आदी विषयों पर चर्चा हुई। अन्त में इस दौरे को यादगार बनाने हेतु गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के शिक्षकों द्वारा वियतनाम बौद्ध विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन के समक्ष वृक्षारोपण किया गया।

तत्पश्चात यह प्रतिनिधि मण्डल वियतनाम बौद्ध विश्वविद्यालय की हो चिन्ह मिन्ह सीटी में अवस्थित परिसर का भी दौरा किया। यहाँ प्रतीनिधि मण्डल का स्वागत प्रो डॉ थीच नाह्ट टु, रेकटर द्वारा किया गया। डॉ टु के अलावा वीबीयू के उच्च अधिकारियों के साथ छात्र आदाने प्रदान एवं शैक्षिक सहयोग, शोध पत्रों के प्रकाशन एवं संयुक्त सेमिनार आदि विषयों पर गहन चर्चा हुई। थिच नट तू जिसने अपनी टीम का परिचय दिया। इस वार्ता में वियतनाम बौद्ध विश्वविद्यालय की ओर से डाॅ टु के अलावा डॉ थीच टैम ड्यूक, ह थीच बुउ चन्ह, थीच विएन ट्राई, थिच फुओक डाट और हो ची मिन्ह सिटी में वियतनाम बौद्ध अकादमी के कुछ व्याख्याता।

दोनों दलों ने सम्मेलन में सह-मेजबानी, बौद्ध पुस्तकों और प्रशिक्षण और पीएचडी शोध प्रबंध को प्रकाशित करने और भारतीय बौद्ध पृष्ठभूमि और वियतनाम को विकसित करने में योगदान देने के लिए द्विपक्षीय सहयोग को मजबूत करने के नए अवसरों आदि पर चर्चा हुई।

प्रो डॉ टु को GBU में बौद्ध अध्ययन के विकास के लिए उनकी प्रतिबद्धता और बौद्ध अध्ययन के क्षेत्र में इसे एक और ऊंचाई तक ले जाने में उनके द्वारा प्राप्त सहयोग एवं अन्य संकाय सदस्यों के सकारात्मक सहयोग और मदद के लिए तत्परता के लिए डॉ अरविंद कुमार सिंह ने उनकों धन्यवाद प्रेषित किया।

इस दौरे को एक विज्ञापन के रूप में आयोजित किया गया था। अतः प्रतिनिधि मण्डल ने सभी विश्वविद्यालयों एवं बौद्ध विहारों में अंतर्राष्ट्रीय मामलों के पर्चे को वितरित किया।

इस दौरे को यादगार बनाने एवं इस दौरान हुई चर्चा को अमलीजामा पहनाने के लिए बातचीत का यह दौर आगे भी जारी रहेगा एवं सम्भवतः इस वर्ष के अन्त तक इस का एक प्रारूप तैयार कर लिया जाएगा।

यह भी देखे:-

शरद पूर्णिमा पर विशेष, सुख समृद्धि के लिए राशि अनुसार करे ये उपाय
दस हज़ार भीड़ के बीच दस लोगों को लटका दिया गया फांसी पर
राज्यसभा में तीन तलाक बिल पास सरकार ने बनाया फुलप्रूफ प्लान
अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी अटैक, सात की मौत , दिल्ली में हाई अलर्ट
ऑटो एक्सपो 2018 को लेकर डी.एम बी.एन. सिंह ने की बैठक, दिए आवश्यक दिशा -निर्देश
आतंकी अफजल गुरू का बेटा विदेश में करना चाहता है मेडिकल की पढ़ाई
चारा घोटाले में लालू को बड़ी सजा मिलने के बाद राजनैतिक बयानबाजी तेज
लॉयड लॉ कॉलेज के छात्रों के द्वारा दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट की सहमति , राष्ट्रीय महत्व के मुद्दे...
UNCCD COP14:भूमि क्षरण को रोकने के लिए 14 अफ्रीकी देशों ने अपनाया 3S का फार्मूला
गांधी एक भरोसा,तो शास्त्री एक विश्वास भारत माता के दो लाल: चेतन वशिष्ठ
देखें VIDEO, आर्षायण ट्रस्ट ने मनाया मकर संक्रांति उत्सव , 15 कुण्डीय यज्ञ में लोगों ने दी आहुति
जानिए, चैत्र नवरात्र का मुहूर्त, नवरात्र का आध्यात्मिक एवं वैज्ञानिक-महत्व
"संकल्प से सिद्धि" होगा राष्ट्रीय युवा उत्सव का उद्धेश्य
गणेश महोत्सव गामा 2 में भक्तों ने गाए भजन-कीर्तन, 3 सितम्बर को भंडारा
जीएनआईटी (आई.पी.यू. ) में विश्वकर्मा दिवस मनाया गया
20 घण्टे में हरिद्वार से ग्रेटर नॉएडा पहुँचे स्केटिंग काँवरिया