इंजिनीयर कर रहा था बच्ची के साथ यौन उत्पीड़न, पहुंचा हवालात

नोएडा : फेज 3 पुलिस ने सेक्टर-70 की पॉश सोसायटी में रहने वाले एनटीपीसी के एक इंजीनियर पर 11 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म का आरोप लगा है । इंजीनियर पिछले एक साल से बच्ची का यौन उत्पीड़न कर रहा था और बच्ची के पिता का अच्छा दोस्त है। इसी का फायदा उठाकर दरिंदगी कर रहा था। उसकी हैवानियत का खुलासा तब हुआ जब बच्ची ने स्कूल शिक्षिका को पूरी बात बताई। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट में रिपोर्ट दर्ज करके आरोपी इंजीनियर को गिरफ्तार कर लिया है।

फेस-3 पुलिस के मुताबिक बच्ची शहर के एक नामी स्कूल में कक्षा 6 में पढ़ती है। उसके पिता दिल्ली की एक निजी कंपनी में प्रबंधक हैं। उनके यहां इंजीनियर अखिल गुप्ता (45) का आना जाना था। छात्रा के पिता और अखिल की दोस्ती हो गई। अखिल शाम को अपने 12 वर्षीय बेटे को पढ़ाता था। वह दोस्त को फोन कर उनकी बेटी को पढ़ाने के बहाने बुला लेता था।

आरोप है कि इंजीनियर बच्ची को अलग कमरे में पढ़ाने ले जाता था। अपने बेटे को पढ़ने के लिए दूसरे कमरे में जाने के लिए कह देता था। इंजीनियर कमरे का दरवाजा बंद करके बच्ची के निजी अंगों से छेड़छाड़ और दुष्कर्म की कोशिश करता था। आरोपी एक साल से बच्ची के साथ इसी तरह की घिनौनी हरकत कर रहा था। बच्ची जब रोने लगती थी तो उसको पीटता था और कहता था कि अगर किसी को
बोला तो पूरे परिवार को जान से मार दूंगा। जिस कारण बच्ची ने परिजनों से कुछ नहीं कहा।
डर के कारण बच्ची चुप रही
पिछले सप्ताह बच्ची स्कूल में थी। उसी दौरान उसे गुमसुम देख शिक्षिका ने जब उससे पूछा तो बच्ची ने रोकर पूरी बात बता दी। शिक्षिका ने यह बात स्कूल के निदेशक को बताई। निदेशक ने बच्ची के परिवार को बुलाकर इसकी जानकारी दी। जब पीड़ित परिजनों ने आरोपी को बुरा-भला कहा तो वह उनको जान से मारने की धमकी देना लगा और कहा कि उसकी ऊंची पहुंच है, उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। परिजनों ने फेज थ्री थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत दी। पुलिस ने दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि बच्ची का मेडिकल कराया गया है। आरोपी अखिल गुप्ता को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

पुलिस को परिजनों ने बताया कि घर में भी बच्ची उदास रहती थी। कई बार उससे पूछा लेकिन उसने कुछ नहीं बताया। बच्ची यही कह देती थी कि सिर दर्द कर रहा है।

शनिवार को अधिक करता था दरिंदगी

पुलिस ने बताया कि इंजीनियर के माता-पिता हर शनिवार को डॉक्टर को दिखाने जाते थे। घर में इंजीनियर का एक 12 वर्षीय बेटा, 18 वर्षीय बेटी और पत्नी रहती थी। बेटी को किसी बहाने बाहर भेज देता था। पत्नी घरेलू काम में व्यस्त रहती थी। इसी बीच वह बच्ची का यौन उत्पीड़न करता था।

Greno News से समाचार (Hindi News) अपने मोबाइल पर पाने के लिए Play Store से डाउनलोड करें ( Grenonew App – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.app.grenonews ) और रहें हर खबर से अपडेट।

यह भी देखे:-

तीन बच्चे संदिग्ध परिस्थितियों में लापता
बाल दिवस : युवा संघर्ष समिति के तत्वधान में सौहरखा छात्र दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन
ग्रेटर नोएडा में वाहन चोर सक्रिय, मीडियाकर्मी समेत दो का वाहन उड़ाया
जिम ट्रेनर की हत्या में दस नामजद, शव को सड़क पर रखकर लगाया जाम
25 हज़ार का इनामिया बदमाश  पुलिस की गोली से घायल 
युवती पर तेजाब फेंका
बदमाशों ने पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर लूटा सेब
बड़ी खबर, रणदीप भाटी गैंग का शार्प शूटर एनकाउंटर में घायल , ए.के.-47 बरामद, यूपी एसटीएफ के साथ हुआ...
सलाखों के पीछे पहुंचे पति-पत्नी, मिलकर कर रहे थे ये अपराध
प्रेमी की खातिर बेटी किया रिश्ते का खून
भाजपा नेता के हत्या में फरार आरोपियों पर इनाम घोषित
एसटीएफ व गौतमबुद्ध नगर पुलिस के हत्थे चढ़ा एक लाख का इनामी, जानिए इसका आपराधिक इतिहास
रंजिश में हुई किसान की हत्या , एक आरोपी गिरफ्तार
अमरनाथ तीर्थ यात्रियों के हमले को लेकर प्रदर्शन, आतंकवाद का पुतला फूँका
दोस्तों के साथ मिलकर छात्रा ने रची थी खुद के अपहरण की कहानी , पुलिस-एसटीएफ ने किया पर्दाफाश 
बीपीटी की छात्रा ने जहर खाकर की ख़ुदकुशी