इंजिनीयर कर रहा था बच्ची के साथ यौन उत्पीड़न, पहुंचा हवालात

नोएडा : फेज 3 पुलिस ने सेक्टर-70 की पॉश सोसायटी में रहने वाले एनटीपीसी के एक इंजीनियर पर 11 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म का आरोप लगा है । इंजीनियर पिछले एक साल से बच्ची का यौन उत्पीड़न कर रहा था और बच्ची के पिता का अच्छा दोस्त है। इसी का फायदा उठाकर दरिंदगी कर रहा था। उसकी हैवानियत का खुलासा तब हुआ जब बच्ची ने स्कूल शिक्षिका को पूरी बात बताई। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट में रिपोर्ट दर्ज करके आरोपी इंजीनियर को गिरफ्तार कर लिया है।

फेस-3 पुलिस के मुताबिक बच्ची शहर के एक नामी स्कूल में कक्षा 6 में पढ़ती है। उसके पिता दिल्ली की एक निजी कंपनी में प्रबंधक हैं। उनके यहां इंजीनियर अखिल गुप्ता (45) का आना जाना था। छात्रा के पिता और अखिल की दोस्ती हो गई। अखिल शाम को अपने 12 वर्षीय बेटे को पढ़ाता था। वह दोस्त को फोन कर उनकी बेटी को पढ़ाने के बहाने बुला लेता था।

आरोप है कि इंजीनियर बच्ची को अलग कमरे में पढ़ाने ले जाता था। अपने बेटे को पढ़ने के लिए दूसरे कमरे में जाने के लिए कह देता था। इंजीनियर कमरे का दरवाजा बंद करके बच्ची के निजी अंगों से छेड़छाड़ और दुष्कर्म की कोशिश करता था। आरोपी एक साल से बच्ची के साथ इसी तरह की घिनौनी हरकत कर रहा था। बच्ची जब रोने लगती थी तो उसको पीटता था और कहता था कि अगर किसी को
बोला तो पूरे परिवार को जान से मार दूंगा। जिस कारण बच्ची ने परिजनों से कुछ नहीं कहा।
डर के कारण बच्ची चुप रही
पिछले सप्ताह बच्ची स्कूल में थी। उसी दौरान उसे गुमसुम देख शिक्षिका ने जब उससे पूछा तो बच्ची ने रोकर पूरी बात बता दी। शिक्षिका ने यह बात स्कूल के निदेशक को बताई। निदेशक ने बच्ची के परिवार को बुलाकर इसकी जानकारी दी। जब पीड़ित परिजनों ने आरोपी को बुरा-भला कहा तो वह उनको जान से मारने की धमकी देना लगा और कहा कि उसकी ऊंची पहुंच है, उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। परिजनों ने फेज थ्री थाने में आरोपी के खिलाफ शिकायत दी। पुलिस ने दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि बच्ची का मेडिकल कराया गया है। आरोपी अखिल गुप्ता को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

पुलिस को परिजनों ने बताया कि घर में भी बच्ची उदास रहती थी। कई बार उससे पूछा लेकिन उसने कुछ नहीं बताया। बच्ची यही कह देती थी कि सिर दर्द कर रहा है।

शनिवार को अधिक करता था दरिंदगी

पुलिस ने बताया कि इंजीनियर के माता-पिता हर शनिवार को डॉक्टर को दिखाने जाते थे। घर में इंजीनियर का एक 12 वर्षीय बेटा, 18 वर्षीय बेटी और पत्नी रहती थी। बेटी को किसी बहाने बाहर भेज देता था। पत्नी घरेलू काम में व्यस्त रहती थी। इसी बीच वह बच्ची का यौन उत्पीड़न करता था।

Greno News से समाचार (Hindi News) अपने मोबाइल पर पाने के लिए Play Store से डाउनलोड करें ( Grenonew App – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.app.grenonews ) और रहें हर खबर से अपडेट।

यह भी देखे:-

बरात चढ़त के दौरान हर्ष फायरिंग करते विडियो वाइरल, दो घायल
शाहबेरी में अवैध ईमारत गिरने के मामले में वांटेड ईनामी गिरफ्तार
हिन्दू जागरण मंच करेगा बलिदानियों की माटी को नमन कार्यक्रम
दलित उत्थान संघर्ष महासभा ने मनाया बाबा साहब का परिनिर्वाण दिवस
हत्यारे बाउंसर गिफ्तार, टोल टैक्स नहीं चुकाने पर चालक की पीट-पीटकर की हत्या
विस्तृत खबर >> हर्ष फायरिंग में गोली लगने से 14 वर्षीय किशोर की मौत
भाजपा के खिलाफ कांग्रेस का पोल खोल अभियान
नोएडा फूल मंडी में कड़ी सुरक्षा के बीच होगी मतगणना
आधा दर्जन बदमाशों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्यवाही
निर्माणाधीनसाइट पर लूटपाट करने में विफल रहे बदमाश, गार्ड के लगे छर्रे
डकैती की योजना बनाते 5 बदमाश गिरफ्तार
नव विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या , जांच में जुटी पुलिस
पेशेवर सेवा कंपनी जज ग्रुप ने मनाई पहली वर्षगांठ
सीबीएसई 12वीं का परिणाम घोषित, नोएडा की मेघना श्रीवास्‍तव इण्डिया टॉपर
शातिर वाहन लूटेरा गिरफ्तार, अवैध तमंचा बरामद
शहर में ठग सक्रीय, संभलकर करें एटीएम का उपयोग