ग्रेटर नॉएडा: पीएम नरेन्द्र मोदी ने पं दीनदयाल उपाध्याय पुरातत्व संस्थान का उद्घाटन किया

ग्रेटर नोएडा : प्रग्रेटर नोएडा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क-2 स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय इंस्टीट्यूट आफ आर्किलॉजी में आयोजित जनसभा को भी संबोधित किया। इसके जरि‍ए उन्‍होंने विपक्ष‍ियों पर निशाना साधा। संबोधन के अंत में उन्‍होंने वीर जवानों के सम्‍मान में भारत माता की जय के नारे लगाते हुए सभी को दोनों मुठ्ठ‍ियां हवा में उठाने को कहा। इसके बाद सबने ऐसा ही किया।
PM inaugurates NBCC built Pandit Deendayal Upadhyaya Institute of Archaeology in Greater Noida

जनसभा में पीएम मोदी ने कहा, भारत ने एक सर्जिकल स्ट्राइक करके आतंक के आकाओं काे पहली बार उस भाषा में समझाया, जाे वे समझते हैं। आज मुझसे सबूत मांग रहे हैं। पुलवामा हमला हुआ ताे भारत के नाैजवानाें ने जाे काम किया है, आतंकियाें काे भारत से इस तरह के जवाब की उम्मीद नहीं थी। उन्हाेंने सीमा पर तैनाती कर दी, हमने ऊपर से जवाब दे दिया। ये घटना इतनी बड़ी थी कि सबसे पहले पाकिस्तान ने सुबह 5 बजे ट्वीट करना शुरू कर दिया कि माेदी ने मारा-मारा।
पिछली सरकार पर साधा न‍िशाना
नोएडा सिटी सेंटर से नोएडा इलेक्ट्रॉनिक सिटी तक चली मेट्रो, PM मोदी ने किया उद्घाटन
उन्‍होंने कहा, 26-11 काे हम कभी नहीं भूल सकते। 2008 में सारे सबूत मिल रहे थे लेकिन भारत ने क्या किया? हमारी सेना बदला लेने के लिए तैयार थी, लेकिन इजाजत नहीं दी गई। उनके हाथ-पैर बांधकर रखे गए। सेना के जवानाें काे बेड़ियां बांधकर कहाेगे कि माराे। यही कारण रहा कि मुंबई हमले के बाद भी देश में धमाके हाेते रहे। इन सभी हमलाें के तार सीमा पार जुड़े हुए थे, लेकिन पिछली सरकाराें ने अपनी नीति नहीं बदली। अगर पहले की सरकार ने दमखम दिखाया हाेता ताे आज आतंक इतना बड़ा नासूर नहीं बन पाता।

पीएम मोदी आगे बोले, पाकिस्तान कह रहा है, माेदी आकर मार रहा है। यहां के नेता कह रहे थे कि बालाकाेट कहां हैं। इन्हाेंने ये सवाल उठाने शुरू कर दिए। पकिस्तान राे रहा है और यहां उनके समर्थक खड़े हाेने लगे। विवादित बयान देने लगे। जिसके खून में भारत का सम्मान है। उसे शक नहीं करना चाहिए। 2014 से लेकर हम निरंतर नए भारत की नींव तैयार कर रहे हैं। आना वाला समय देश की आकाक्षाओ काे पूरा करेगा।

इंस्टीट्यूट में ऑर्कियोलॉजी कोर्स संचालित होगा

नॉलेज पार्क शिक्षा का गढ़ माना जाता है। जहां पर देश-विदेश के लाखों से अधिक युवा शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। शिक्षा के गढ़ में पंडित दीनदयाल उपाध्याय इंस्टीट्यूट आफ ऑर्कियोलॉजी के रूप में नया हीरा जड़ गया है। इंस्टीट्यूट में ऑर्कियोलॉजी कोर्स संचालित होगा। कोर्स में पंद्रह सीटों पर प्रवेश होगा। प्रवेश प्रक्रिया जुलाई से शुरू होने वाले नए सत्र से प्रारंभ होने की उम्मीद है। बाद में कोर्स सीटें बढ़ाए जाने की भी संभावना है।

वर्षो से लंबित इंस्टीट्यूट का निर्माण 25 एकड़ के विशाल क्षेत्रफल में किया गया है। इंस्टीट्यूट में प्रशासनिक भवन, ऑडिटोरियम, सेमिनार हाल, क्लास रूम, प्रयोगशाला, पुस्तकालय, म्यूजियम, आवासीय भवन व हास्टल का निर्माण किया गया है। विशाल ऑडिटोरियम में एक हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था रहेगी। इंस्टीट्यूट में आर्कियोलॉजी म्यूजियम 14000 वर्ग मीटर में है। साथ ही ओपन एयर थियेटर भी बनाया गया है, जहां पर समय-समय पर नुक्कड़ नाटक का मंचन किया जाएगा। इंस्टीट्यूट में ऑर्कियोलॉजी के चार कोर्स का संचालन किया जाएगा। हर कोर्स में पंद्रह सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा। प्रवेश लिखित परीक्षा व साक्षात्कार के बाद होगा। कोर्स में प्रवेश देने के लिए जुलाई से शुरू होने वाले नए सत्र से प्रक्रिया शुरू करने की तैयारियां कर दी गई हैं।

यह भी देखे:-

सावित्री बाई फुले जयंती : स्कूल में दी गई श्रद्धांजलि
जिला आपूर्ति विभाग की बड़ी कार्यवाही, इन तीन राशन की दुकानों का आवंटन निरस्त
यमुना एक्सप्रेस-वे के आवासीय सेक्टर में 7500 पौधारोपण
गौतम बुद्धा सोसाइटी ने निर्धन बच्चों के साथ मनाया क्रिसमस डे
गौतमबुद्ध नगर में तीनों तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस का हुआ आयोजन
ग्रेनो में फिर चरमरा सकती है सफाई व्यवस्था ! पढ़ें पूरी खबर
2700 करोड़ रुपये की बिजनेस के साथ IHGF हेंडीक्राफ्ट मेला का हुआ समापन
प्रशासन ने बिल्डर को दिलाया जमीन पर कब्ज़ा, विरोध कर रहे 70 किसान हिरासत में लिए गए
टैम्पो पलटने से 1 की मौत, 3 घायल
कलश यात्रा के साथ शुरू हुई कौशल जी महाराज की रामकथा
बथरूम में मृत मिला नाईजीरियन
कोहरे का कहर : एक दर्जन गाड़ियां आपस में भिड़ी
एक्टिव सिटिज़न टीम ने दिया पानी बचाने का संदेश
More Hypermarket launched in Omaxe Connaught Place, Greater Noida
ग्रेनो के की 2 डान्सिंग मोम व 11 डान्सर नेपाल में दिखाएँगे दम
एयर सर्जिकल स्ट्राइक की ख़ुशी में हिन्दू युवा वाहिनी ने निकला तिरंगा यात्रा