वंदना मीडिया अवॉर्ड समारोह में मीडिया इंडस्ट्री और शैक्षिक जगत के बीच दूरी पर हुई चर्चा

नईदिल्ली: वंदना मीडिया अवॉर्ड समारोह में मीडिया इंडस्ट्री और शैक्षिक जगत के बीच दूरी पर भी सार्थक चर्चा हुई। इस विशेष चर्चा के सूत्रधार थे मणिपाल यूनिवर्सिटी के असोसिएट प्रोफेसर डॉ. सुभाष कुमार ,मुख्य अतिथि केजी सुरेश ने कहा कि छात्रों के स्किल्स सीखने पर ध्यान देने की जरूरत है- वहीं दूसरे मुख्य अतिथि शिशिर सिन्हा ने आर्थिक जगत की पत्रकारिता के अपने अनुभव साझा किए। चर्चा के दौरान एनआईयू के रजिस्ट्रार जयानंद ने कहा कि किसी भी मुद्दे पर बिना रिसर्च के एक सामान्य राय कायम कर लेना ठीक नहीं। जयानंद ने कहा मीडिया में रिसर्च की अहमियत पर विस्तार से प्रकाश डाला। इस विशेष चर्चा में बोलते हुए डीडी न्यूज के वरिष्ठ एंकर अशोक श्रीवास्तव जी ने कहा कि राष्ट्रविरोधी बातों को कई बार सही बतानने की कोशिश की जाती है |शिक्षण संस्थानों को सतर्क रहने की जरूरत है कि नौजवान गलत दिशा में ना भटके। वहीं दिल्ली यूनिवर्सिटी के आंबेडकर कॉलेज की असोसिएट प्रोफेसर डॉ. चित्रा सिंह ने कहा कि फिल्म पत्रकारिता के पाठ्यक्रम का अहम हिस्सा है |वंदना मीडिया नेशनल अवॉर्ड समारोह मे पहला अवॉर्ड एनआईयू के प्रो. चांसलर और यूपी के एक्स डीजीपी प्रो. विक्रम सिंह को हासिल हुआ। उन्हें ‘वंदना मीडिया एक्सेलेंट ओरेटर और इंसपिरेशनल स्पीकर, 2018’ का अवॉर्ड हासिल हुआ। वहीं दूसरा अवॉर्ड एनआईयू के रजिस्ट्रार डॉ. जयानंद को मिला। डॉ. जयानंद को ‘वंदना मीडिया अवॉर्ड फॉर कॉन्ट्रीब्यूशन इन द फील्ड ऑफ रिसर्च, 2018’ हासिल हुआ। वहीं तीसरा अवॉर्ड एनआईयू के स्कूल ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन के असिस्टेंट प्रोफेसर आदर्श कुमार को मिला- उन्हें ‘ वंदना मीडिया बेस्ट एकेडमिशियन इन द फील्ड ऑफ इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, 2018’ का अवॉर्ड हासिल हुआ। वहीं डीडी न्यूज के वरिष्ठ एंकर और सीनियर एडिटर अशोक श्रीवास्तव को वंदना मीडिया ‘नरेंद्र मोदी सेंसर्ड- पॉलिटिकल एनालिसिस ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। उनकी हाल ही में किताब आई है ‘नरेंद्र मोदी सेंसर्ड’।
इसके साथ ही मणिपाल यूनिवर्सिटी जयपुर के जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन विभाग के असोसिएट प्रोफेसर डॉ. सुभाष कुमार को अकेडमिशियन ऑफ द ईयर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन, 2018 से सम्मानित किया गया। वहीं जेएनयू के स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिटरेचर एंड कल्चरल स्टडीज के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. अनिल कुमार सिंह को ‘वंदना मीडिया अकेडमिशियन ऑफ द ईयर इन प्रोमोटिंग ग्लोबल कल्चर, 2018’ अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। वंदना मीडिया बेस्ट वीडियो एडिटर का अवॉर्ड अर्वित राज को हासिल हुआ तो शाइन दिल्ली के कौशल कुमार को कॉन्ट्रीब्यूशन इन द फील्ड ऑफ डिजिटल मीडिया अवॉर्ड मिला। वहीं विपुल कुमार को वंदना मीडिया डिजिटल मीडिया प्रोड्यूसर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया- जबकि एबीपी न्यूज के डिप्टी प्रोड्यूसर अभिनव शाह को टीवी न्यूज प्रोडक्शन के लिए वंदना मीडिया अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। वंदना मीडिया नेशनल अवॉर्ड समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर ‘द हिंदू बिजनेस लाइन के सीनियर डिप्टी एडिटर शिशिर सिन्हा और इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन के डायरेक्टर जनरल केजी सुरेश मौजूद थे। अवॉर्ड विजेताओं को शिशिर सिन्हा और केजी सुरेश ने शील्ड और बुके देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में कई यूनिवर्सिटी के जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन के छात्र भी शामिल हुए।

यह भी देखे:-

करप्शन फ्री इंडिया ने की दनकौर गौशाला की जांच की मांग , डीएम को सौंपा ज्ञापन
आईटीआर फाईल करने के बावजूद कहीं आयकर विभाग भेज नदे आपको नोटिस , जानिए क्यों , पढ़ें पूरी खबर
गौतमबुद्धनगर के 50 युवा भी दरोगा नियुक्त, सुप्रीम कोर्ट ने यूपी दरोगा भर्ती 2011 में नियुक्ति के दिए...
शारदा विश्विद्यालय में राष्ट्रीय मूट प्रतियोगिता का आयोजन
एनटीपीसी दादरी: प्लास्टिक के दुष्परिणाम को लेकर चलाया अभियान
हिंडन नदी को निर्मल बनाने के लिए मेरठ कमिश्नर प्रभात कुमार ने की पहल, 1000 पौधरोपण किया गया , सामाज...
पंकज शर्मा बने भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के जिला मीडिया प्रभारी
रामलीला मैदान के सौंदर्यीकरण के लिए सीईओ ग्रेटर नोएडा से की मुलाकात
सीईओ नरेंद्र भूषण ने ग्रेनो वेस्ट का किया दौरा कर दिया ये दिशा- निर्देश , पढ़ें पूरी खबर
ग्रेनो में फिर चरमरा सकती है सफाई व्यवस्था ! पढ़ें पूरी खबर
रेरा बिल को मजबूत करे सरकार, बिल्डर नही मानते रेरा ऑर्डर - नेफोमा
अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा के सामाजिक उत्थान का सफर जारी
राजेन्द्र प्रजापति बने प्रजापति कुम्भकार महासंघ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य
ग्रेटर नोएडा : सूरजपुर में विकास कार्यों का शुभारम्भ
दर्दनाक : ट्रक ने बाइक को रौंदा, दो चचेरे भाइयों की मौत, क्रुद्ध लोगों ने लगाया जाम
रिटायर्ड फौजी की अर्जी पर  कोर्ट का पुलिस को  आदेश , बिल्डर के खिलाफ दर्ज करो एफआईआर