पीएफ पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया ये फैसला

नईदिल्ली:देश की सुप्रीम कोर्ट ने पीएफ कैलकुलेशन को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि संस्थान (कंपनियां) बेसिक सैलरी से ‘स्पेशल अलाउंस’ को अलग नहीं कर सकते हैं.

देश की सुप्रीम कोर्ट ने पीएफ कैलकुलेशन को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि संस्थान (कंपनियां) बेसिक सैलरी से ‘स्पेशल अलाउंस’ को अलग नहीं कर सकते हैं. प्रोविडेंट फंड (PF) डिडक्शन के कैलकुलेशन के लिए उन्हें इसे शामिल करना होगा. एक्सपर्ट्स का कहना है कि इससे कंपनियों पर वित्तीय बोझ बढ़ सकता है. इस फैसले से उन कर्मचारियों पर असर नहीं होगा, जिनकी बेसिक सैलरी और स्पेशल अलाउंस हर महीने 15,000 रुपये ज्यादा हैं.

अब क्या- मान लीजिए आपकी सैलरी 20,000 रुपये प्रति महीना है. इसमें 6000 रुपये आपकी बेसिक सैलरी है और बाकी 12000 रुपये का स्पेशल अलाउंस मिलता है. तो अब आपका पीएफ 6000 रुपये पर नहीं बल्कि 18000 रुपये पर कैलकुलेट होगा. ऐसे में टेक होम सैलरी कम हो जाएगी, वहीं, पीएफ कॉन्ट्रीब्यूशन कंपनी की ओर से बढ़ जाएगा. लिहाजा आपका पैसा ज्यादा पीएफ में लगेगा.

यह भी देखे:-

केंद्रीय कैबिनेट ने दी नोएडा -ग्रेनो मेट्रो कॉरिडोर परियोजना को मंजूरी
फीस वृद्धि मामले में डीएम की बैठक : कहा,  विवाद की स्थिति में बच्चों को स्कूल छोड़ने को मजबूर नहीं क...
शारदा विश्विद्यालय में जल संरक्षण पर "जल है तो कल है " कार्यक्रम का आयोजन
सीबीएसई 12 वीं की अर्थशास्त्र की परीक्षा अब अप्रैल में, 10 वीं पर सस्पेंस
अल्ट्रासाउंड सेंटर पर किया गया औचक निरीक्षण
बायर्स ने मोदी जी -योगी जी घर दिलाओ का नारा किया बुलंद
विश्व पर्यावरण दिवस पर डॉ. अभिषेक स्वामी का लेख- ‘‘प्लास्टिक प्रदूषण की समाप्ति’’
श्री धार्मिक रामलीला सेक्टर पाई : शिव लीला देख भाव विभोर हुए दर्शक
किसानों का हक छीन रही है सरकार : सुरेन्द्र सिंह नागर, जेवर में सपा कार्यकर्ताओं का सम्मेलन सम्पन्न
श्री धार्मिक रामलीला सेक्टर पाई : शिव धनुष तोड़ सिया के हुए राम
सैमसंग में स्थानीय युवाओं के रोजगार का मुद्दा : 23 अक्टूबर को होगी अधिकारीयों व अ.भा . गुर्जर परिषद...
ग्रेटर नोएडा : जेल में बंद किसानों का बयान , जेल में करेंगे भूख हड़ताल
Deepika Ranveer Wedding : जारी हुआ ऑफिशियल फोटो, देखने के लिए क्लिक करें लिंक
दादरी पुलिस ने पकड़ा अवैध शराब का झाखीरा
अभिनंदन की मूंछों को घोषित किया जाए 'राष्ट्रीय मूंछ' : कांग्रेस
पुलिस को चकमा देकर फरार हुए 10 विदेशी नागरिक, बिना विजा मामले पकड़े गए थे