खतरनाक साबित होती पबजी गेम की लत

नई दिल्ली:देश में दिनोदिन पबजी गेम के बढ़ते ट्रेंड के कारण कई खतरनाक परिणाम सामने आ रहे हैं। मसलन, मुंबई के कुर्ला इलाके में एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक युवक ने पबजी गेम के कारण अपनी जीवनलीला समाप्त कर दी। गुजरात के वडोदरा में मोबाइल में पबजी गेम खेलने से मना करने पर माता-पिता से नाराज होकर बीसीए का एक छात्र घर छोड़कर चला गया। दिल्ली के वसंतपुर क्षेत्र में कुछ महीनों पहले ही पबजी गेम खेलने से मना करने पर एक बेटे ने अपने मां-बाप की हत्या कर दी थी। यही नहीं, बल्कि 12-12 घंटे तक गेम खेलने की वजह से कई बार छात्रों को कॉलेज से भी निकाल दिया जा रहा है।
वर्चुअल गेम पबजी को किस कदर बच्चे अपनी व्यावहारिक दुनिया में अपना रहे हैं इसका अंदाजा तो 11 साल के अहमद निजाम नाम के बच्चे द्वारा बॉम्बे हाईकोर्ट में पबजी के खिलाफ दायर की गई याचिका से हो जाता है। अपनी मां के जरिए लगाई याचिका में निजाम ने हाईकोर्ट से इस गेम पर प्रतिबंध लगाने की अपील करते हुए कहा है कि तेजी से बच्चों में लत बनकर फैल रहा पबजी गेम हिंसा, आक्रामकता और साइबर दबंगई को बढ़ावा देता है।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी हाल में बच्चों, अभिभावकों और शिक्षकों से ‘परीक्षा पे चर्चा’ के दौरान पबजी का उल्लेख किया था। जब एक मां ने कहा था कि बच्चा पढ़ाई नहीं करता तो पीएम मोदी ने पूछा था कि ‘क्या पबजी वाला है?’
दुनियाभर में 400 मिलियन बच्चे व युवा इस गेम को हर दिन खेल रहे हैं जबकि भारत में इनकी संख्या करीब 5 करोड़ अनुमानित है। इस गेम की लत ड्रग्स की लत से भी ज्यादा चिंता वाली है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपने नए अध्याय में मोबाइल गेम की लत को भी मनोरोग की श्रेणी में रखा है।
दरअसल, इस ऑनलाइन गेम ने एम्स में बाल मरीजों की संख्या बढ़ा दी है। इनमें पबजी के ही हर सप्ताह 4 से 5 नए मरीज पहुंच रहे हैं। गेम की लत में डूबे मरीजों की उम्र 8 से 22 साल तक के बीच है। नौकरीपेशा युवा भी डॉक्टरों के पास काउंसलिंग के लिए पहुंच रहे हैं। इन युवाओं को फोन पर पबजी खेलना इतना पसंद है कि ये ऑफिस का पूरा लंच टाइम इसी में खपा देते हैं। पबजी गेम की बढ़ती नकारात्मक को देखते हुए गुजरात में इस पर रोक लगा दी गई। इसकी ही तर्ज पर जम्मू-कश्मीर, महाराष्ट्र, दिल्ली जैसे राज्यों से भी इस पर रोक लगाने की मांगें उठ रही हैं। चीन जैसे देशों में इस गेम पर पहले से ही रोक है।

यह भी देखे:-

प्रथम जीत मान मैमोरियल बॉक्सिंग टूर्नामेंट : एनसीआर के मुक्केबाजों ने दिखाया दम
यथार्थ अस्पताल में स्पोर्ट्स संबंधी चोटों के लिए नए क्लिनिक्स खोले गए
ग्रेटर नोएडा : टी -20 इंटरनेशनल सीरीज मुकाबाले का आगाज, अफगानिस्तान ने आयरलैंडको रौंदा
सावित्री बाई की छात्राओं को फुटबॉल एवं वॉलीबॉल प्रतियोगिता में मिला प्रथम स्थान
रॉयन इंटरनेशनल स्कूल : सीबीएसई नार्थ जोन-एक स्केटिंग चैंपियनशिप का समापन
GPL 4 क्रिकेट टूर्नामेंट : जलालपुर बनाम जूनियर कैमराला व तुगलपुर बनाम
तैराकी प्रतियोगिता में रायन ग्रेटर नोएडा के छात्राओं ने किया उत्कृष्ट प्रदर्शन
नेशनल रोलर स्केटिंग चैम्पियनशिप में ग्रेनो के 13 खिलाडी होंगे शामिल
सेंट जोसेफ स्कूल : खेल दिवस में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा , ग्रीन हाऊस रहा प्रथम
बारहवीं इंटर स्कूल कराटे चैंपियनशिप में आरपीएस इंटरनेशनल स्कूल बना चैम्पियन
नेशनल रोलर बास्केटबॉल चैंपियनशिप में ग्रेटर नोएडा के खिलाडियों झटके गोल्ड मैडल   
चैंपियंस ट्रॉफी : फ़ाइनल में पहुंचा भारत, अब पकिस्तान से होगा सुपरहिट मुकाबला
RYAN GREATER NOIDA EMERGE WINNER AT INTER RYAN BADMINTON TOURNAMENT
LIVE IND vs ENG: इंग्लैंड ने मेहमानों को 212 रनों से हराया, 15 साल पहले मुंबई में 212 रन से हारा था ...
ग्रेनो वेस्ट एस्टर पब्लिक स्कूल में धूमधाम से मनाया गया खेल दिवस
विजेता एथलेटिक खिलाड़ियों को किया सम्मानित