खतरनाक साबित होती पबजी गेम की लत

नई दिल्ली:देश में दिनोदिन पबजी गेम के बढ़ते ट्रेंड के कारण कई खतरनाक परिणाम सामने आ रहे हैं। मसलन, मुंबई के कुर्ला इलाके में एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक युवक ने पबजी गेम के कारण अपनी जीवनलीला समाप्त कर दी। गुजरात के वडोदरा में मोबाइल में पबजी गेम खेलने से मना करने पर माता-पिता से नाराज होकर बीसीए का एक छात्र घर छोड़कर चला गया। दिल्ली के वसंतपुर क्षेत्र में कुछ महीनों पहले ही पबजी गेम खेलने से मना करने पर एक बेटे ने अपने मां-बाप की हत्या कर दी थी। यही नहीं, बल्कि 12-12 घंटे तक गेम खेलने की वजह से कई बार छात्रों को कॉलेज से भी निकाल दिया जा रहा है।
वर्चुअल गेम पबजी को किस कदर बच्चे अपनी व्यावहारिक दुनिया में अपना रहे हैं इसका अंदाजा तो 11 साल के अहमद निजाम नाम के बच्चे द्वारा बॉम्बे हाईकोर्ट में पबजी के खिलाफ दायर की गई याचिका से हो जाता है। अपनी मां के जरिए लगाई याचिका में निजाम ने हाईकोर्ट से इस गेम पर प्रतिबंध लगाने की अपील करते हुए कहा है कि तेजी से बच्चों में लत बनकर फैल रहा पबजी गेम हिंसा, आक्रामकता और साइबर दबंगई को बढ़ावा देता है।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी हाल में बच्चों, अभिभावकों और शिक्षकों से ‘परीक्षा पे चर्चा’ के दौरान पबजी का उल्लेख किया था। जब एक मां ने कहा था कि बच्चा पढ़ाई नहीं करता तो पीएम मोदी ने पूछा था कि ‘क्या पबजी वाला है?’
दुनियाभर में 400 मिलियन बच्चे व युवा इस गेम को हर दिन खेल रहे हैं जबकि भारत में इनकी संख्या करीब 5 करोड़ अनुमानित है। इस गेम की लत ड्रग्स की लत से भी ज्यादा चिंता वाली है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपने नए अध्याय में मोबाइल गेम की लत को भी मनोरोग की श्रेणी में रखा है।
दरअसल, इस ऑनलाइन गेम ने एम्स में बाल मरीजों की संख्या बढ़ा दी है। इनमें पबजी के ही हर सप्ताह 4 से 5 नए मरीज पहुंच रहे हैं। गेम की लत में डूबे मरीजों की उम्र 8 से 22 साल तक के बीच है। नौकरीपेशा युवा भी डॉक्टरों के पास काउंसलिंग के लिए पहुंच रहे हैं। इन युवाओं को फोन पर पबजी खेलना इतना पसंद है कि ये ऑफिस का पूरा लंच टाइम इसी में खपा देते हैं। पबजी गेम की बढ़ती नकारात्मक को देखते हुए गुजरात में इस पर रोक लगा दी गई। इसकी ही तर्ज पर जम्मू-कश्मीर, महाराष्ट्र, दिल्ली जैसे राज्यों से भी इस पर रोक लगाने की मांगें उठ रही हैं। चीन जैसे देशों में इस गेम पर पहले से ही रोक है।

यह भी देखे:-

RYAN GREATER NOIDA EMERGE WINNER AT INTER RYAN BASKET BALL TOURNAMENT
जिला स्तरीय बेसिक शिक्षा परिषदीय खेल-कूद प्रतियोगिता का शुभारंभ
मेरठ में आयोजित स्पीड स्केटिंग प्रतियोगिता में जिला गौतमबुद्ध नगर के खिलाडियों ने लहराया परचम
देखें VIDEO INTERVIEW , ग्रेनो के स्केटर मिलिंद शर्मा बनना चाहते हैं वर्ल्ड चैम्पियन
एसएन मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट: एकतरफा जीत के साथ वंडर्स और सैम एकेडमी ने क्वार्टर फाइनल में स्था...
रयान इंटरनेशनल स्कूल में होगा सीबीएसई नार्थ जोन 1 स्केटिंग प्रतियोगिता का होगा आयोजन
GREATER NOIDA RYANITES SHINES IN Badminton
GPL 4 क्रिकेट टूर्नामेंट में खेले गए पांच मुकाबले,पढ़ें पूरी खबर
" उत्तर प्रदेश रोल बॉल प्रतियोगिता “ के लिए तैयार गौतमबुद्ध नगर की टीम
अर्स लाइन स्कूल ने जीता श्रीकृष्ण लाल मेमोरियल फुटबॉल टूर्नामेंट
रयान ग्रेटर नोएडा के CBSE ZONAL ताइक्वांडो विजेता छात्र -छात्राओं का नेशनल में चयन
WAKO INDIA FEDRETION CUP 2018 : ग्रेनो - नोएडा के बच्चों ने लहराया परचम
बारहवीं इंटर स्कूल कराटे चैंपियनशिप में आरपीएस इंटरनेशनल स्कूल बना चैम्पियन
ग्रेटर नोएडा में आयोजित आल इंडिया रोलर स्केटिग चैंपियनशिप में हुए कई मुकाबले
RYAN GREATER NOIDA EMERGE WINNER AT INTER RYAN FOOTBALL TOURNAMENT
क्रिकेट : इंडियन टीम बनाम समाशर्स टीम के बीच खेला गया टेस्ट मैच