क्या कांग्रेस में है,वरुण गांधी के लिए बेहतर संभावना?

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले सियासी हलचलों का दौर शुरू हो गया है. भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई है।गौरतलब है कि वरुण गांधी को लेकर अफवाहों का बाजार इसलिए भी गर्म है क्योंकि गांधी परिवार से एक और शख्स यानी प्रियंका गांधी का सक्रिय राजनीति में पदार्पण हुआ है. साथ ही पिछले कुछ समय से बीजेपी में भी वरुण गांधी काफी अलग-थलग चल रहे हैं. ऐसी खबरें हैं कि वरुण गांधी को बीजेपी में तरजीह नहीं दी जा रही है. इसकी बानगी पिछले साल विधानसभा चुनावों में भी देखने को मिला क्योंकि उन्होंने बीजेपी के लिए ताबड़तोड़ रैलियां भी नहीं की.
वरुण गांधी की सक्रियता से बीजेपी नाखुश?
देश के नंबर एक राजनीतिक परिवार से आया 40 साल से कम उम्र का एक राजनेता सिर्फ सुल्तानपुर का सांसद बनकर खुश रहे, यह बात भी कुछ कम अटपटी नहीं। जैसे संकेत मिल रहे हैं, उनके मुताबिक बीजेपी की ओर से उन्हें सुल्तानपुर का लोकसभा टिकट मिलना भी तय नहीं है। इस आशंका का एक पहलू बतौर सक्रिय बुद्धिजीवी और स्तंभकार वरुण गांधी की भूमिका से जुड़ा है, जिसे लेकर पार्टी कतई संतुष्ट नहीं है।
बीजेपी में किनारे किए जा चुके हैं वरुण
एक बात तय है कि वरुण गांधी अपने घोषित स्टैंड के मुताबिक सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के खिलाफ कभी कुछ नहीं बोलते तो बीजेपी के लिए उनकी कोई उपयोगिता नहीं है। वे दिन कब के जा चुके जब पार्टी के भीतरी दायरों में उन्हें यूपी के मुख्यमंत्री पद के लिए संभावित चार-पांच नामों में गिना जाता था। अभी तो वे सांसदों की वेतन वृद्धि के खिलाफ बयान देते हैं तो उनकी ही पार्टी की सांसद मीनाक्षी लेखी इसे गांधी-नेहरू परिवार के ‘अनाप-शनाप पैसे’ से जोड़ देती हैं।
कांग्रेस में है वरुण के लिए बेहतर संभावना
राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि वर्तमान समय में देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में जिस तरीके से अपनी जड़े मजबूत करना चाहती है उसके लिए उसे कोई युवा संघर्षशील चेहरा चाहिए जो अगर गांधी परिवार से संबंध रखता हूं तो और भी बेहतर होगा कांग्रेस पार्टी के लिए इसी संभावना के साथ यह भी देखा जा रहा है कि अगर वरुण गांधी कांग्रेस में शामिल होते हैं,तो आने वाले भविष्य में उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख चेहरा होंगे!

यह भी देखे:-

तेलंगाना की मानसा वाराणसी बनी  VLCC फेमिना मिस इंडिया 2020, 23 साल की उम्र मे किया कमाल
प्रणब मुखर्जी ,भूपेन हजारिका और नानाजी देशमुख को भारत रत्न सम्मान
महापंचायत को सफल बनाने के लिए भाकियू अराजनैतिक ने की बैठक
कोरोना को मात दी 87 वर्ष के बुजुर्ग दम्पति जोडे ने
पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव: छात्र जेडीयू ने अध्यक्ष पद किया कब्जा तो एबीवीपी ने अपने नाम कि...
नरेंद्र भाटी(डाढ़ा)ने किया सघन जनसंपर्क,विकास के नाम पर मांगे वोट
नवादा गांव में 110 लोगों को कोविड टीकाकरण किया गया 
उत्तर प्रदेश में आईएएस अधिकारीयों के तबादले, कई डीएम इधर से उधर हुए
कोरोना से मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन 
उत्तर प्रदेश में आईएस व पीसीएस अफसरों का तबादला
उत्तर प्रदेश : पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या
अयोध्या विवाद :विवाद सुलझाने के लिए मध्यस्थता पैनल गठित
ममता बनर्जी ने मांगे पाक के ख़िलाफ़ सेना की #AirStrike के सबूत
जेवर विधायक व ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के एसीईओ ने किया शुभारंभ
मिशन रक्तदान 2021: ग्रेटर नोएडा के यथार्थ अस्पताल में महिला उन्नति संस्था और SAFE संस्था के संयुक्त ...
उत्तर प्रदेश में आईपीएस अफसरों के तबादले