ग्रेटर नोएडा में केंद्रीय ग्रामीण राज्य मंत्री राम कृपाल यादव बोले , चौबीस परगना दंगा ममता सरकार के नाकामी का नतीजा

ग्रेटर नोएडा। नॉलेज पार्क स्थित एक हास्टल के उद्घाटन अवसर पर आए केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री रामकृपाल यादव ने कहा कि ममता बनर्जी सरकार की नाकामी के कारण ही बंगाल के चौबिस परगना क्षेत्र में दंगे हुए। उनके खास वर्ग और खास जाति की राजनीति के कारण ही अव्यवस्था फैली है।

पूर्व में लालू यादव के करीबी रहे केंद्रीय राज्य मंत्री हाल ही में लालू यादव और उनके परिवार पर पड़े सीबीआई के छापों के बारे में बोलने से बचते रहे। उन्होंने कहा कि सीबीआई कानून का पालन कर अपना काम कर रही है। इस दौरान उन्होंने बिहार में हो रहे घोटालों के बारे में बोलने से बचे। बंगाल के उत्तरी चौबिस परगना क्षेत्र में हुए दंगों में उन्होंने तृणमूल कांग्रेस की सरकार को दोषी बताते हुए कहा कि एक तरफ तो गोरखालैंड की मांग कर रहे लोगों पर जब उनकी सरकार गोलियां चलाती है।

इसके बावजूद उन लोगों पर ही कार्रवाई की जाती है। दूसरी तरफ, पश्चिम बंगाल में कई अन्य जगहों पर हुए दंगों में एक विशेष वर्ग के लोगों पर कोई भी कार्रवाई नहीं की जाती है।

यह भी देखे:-

सपा नेता विक्रम भाटी की पुण्यतिथि पर प्रो रामगोपाल यादव ने किये श्रद्धा सुमन अर्पित
मुख्य सचिव ने की तीनों प्राधिकरण के अधिकारीयों के साथ बैठक, निवेश बढ़ाने पर जोर
जयंती पर याद किए गए पंडित जनेश्वर मित्र
लोकसभा चुनाव 2019: दनकौर व जेवर क्षेत्र के इन गाँव के प्रधानों ने किया एलान .... पढ़ें पूरी खबर
भाजपा सरकार की उल्टी गिनती शुरू: सुरेन्द्र सिंह नागर
गौतमबुद्ध नगर लोकसभा चुनाव उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह आवंटित
सपाइयों ने मनाई चौधरी चरण सिंह की 117 वीं जयंती
भाजपा गौतमबुद्ध नगर कार्यलय का हुआ भूमि पूजन
भाजपा कार्यकर्ताओं ने बूथ स्तर पर चलाया स्वच्छता अभियान
किसानों के साथ अत्याचार कर रही है प्रदेश सरकार - श्याम सिंह भाटी, समाजवादी पार्टी
ग्रेटर नोएडा : लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा की रणनीति तैयार
किसानों की मांग को लेकर बीकेयू (भानू) करेगा धरना प्रदर्शन
ग्रेटर नोएडा : सपाईयो ने की बैठक, नवनियुक्त जिलाध्यक्ष वीरसिंह यादव का हुआ जोरदार स्वागत
किसानों की समस्या को लेकर पूर्व सीएम अखिलश यादव से मुलाक़ात की 
लोकसभा 2019: सपा बसपा ने तय किया , कौन कहां लड़ेगा, फाइनल लिस्ट जारी की गई
नोएडा के किसानों का मुद्दा संसद में उठाएंगी वृंदा करात