केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने CISF कैंप सूरजपुर में किया केंद्रीय विद्यालय का शिलान्यास

ग्रेटर नोएडा : आज ग्रेनो स्थित सीआईएसएफ कैम्प परिसर में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने केंद्रीय विद्यालय का शिलान्यास किया। अब नए विद्यालय के बाद जिले में चार केंद्रीय विद्यालय हो गए हैं।

बता दें ग्रेटर नोएडा में केंद्रीय विद्यालय के खुलने की लंबे समय से मांग हो रही थी। इसकी वजह बड़ी संख्या में सेना के अधिकारियों व उनके परिवार के सदस्यों का यहां पर रहना है। फिलहाल छात्रों को केंद्रीय विद्यालयों की संख्या सीमित होने से परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

जानकारी के अनुसार, विद्यालय के खुलने के बाद बची सीटों पर आम अभिभावकों के बच्चे भी स्कूल में दाखिला हासिल कर सकते हैं। इससे अन्य स्कूलों में दाखिला न लेने वाले छात्रों को सहूलियत होगी। उन्हें बेहतर पढ़ाई के लिए अपने घरों से दूर नहीं जाना होगा। आज के सीआईएसएफ कैंप में होने वाले स्कूल के शिलान्यास समारोह में केंद्रीय राज्यमंत्री डॉ. महेश शर्मा और स्थानीय विधायक तेजपाल नागर भी शामिल हुए।

यह भी देखे:-

आईटीएस में उद्यमिता विकास पर संकाय विकास कार्यक्रम
“राष्ट्रीय सेवा योजना ने संयुक्त रूप से जी.बी.यु. में मनाया शिक्षक दिवस”
दादरी कोतवाली मे शांति समिति (पीस कमेटी) व सभ्रांत व्यक्तियों की हुई बैठक, विभिन मुद्दों पर विस्तृत ...
गौतमबुद्ध नगर त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव: जानिए 11 बजे तक का मतदान प्रतिशत
हैकाथाॅन में शारदा यूनिवर्सिटी के छात्रों को प्रथम पुरस्कार
एम विश्वेश्वरैया के जन्मदिन पर आईआईएमटी कॉलेज ने किया पौधारोपण
गौरव चंदेल हत्याकांड : लापरवाही बरतने पर कोतवाल नपे
जेवर विधानसभा में शीघ्र बहुत बड़ा अस्पताल बनेगा जिसका शिलान्यास स्वयं प्रदेश के मुख्यमंत्री  योगी आद...
दनकौर बीपीबीडी इंटरनेशनल एकेडमी में  हुई बैठक
लॉकडाउन का उलंघन करने वालों के खिलाफ कार्यवाही
जगनपुर महापंचायत में किसानों की चेतावनी , मांग पूरी करो नहीं तो ...
धूमधाम से मनाया जा रहा है जेल दिवस, बंदियों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन
नाइजीरियन से लुक्सर जेल में नहीं हुई मारपीट: जेल अधीक्षक
आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर डीएम बी.एन .सिंह ने की बैठक
बीएचयूः अस्पताल कर्मचारियों और छात्रों में मारपीट, विरोध में सिंह द्वार बंद, भारी पुलिस बल तैनात
दर्दनाक :  मासूम बच्चे की नाले में गिरकर मौत, यमुना प्राधिकरण पर लगाया लापरवाही का आरोप