अधिवक्ता धर्मेंद्र जयंत को सूरजपुर न्यायालय में बनाया गया एडीजीसी

ग्रेटर नोएडा। शासन के निर्देश पर गौतमबुद्ध नगर सूरजपुर न्यायालय में 14 अधिवक्ताओं को एडीजीसी और डीजीसी बनाया गया है। वहीं साकीपुर के रहने वाले अधिवक्ता धर्मेंद्र जयंत को सूरजपुर न्यायालय में एडीजीसी बनाया गया है। धर्मेंद्र जयंत लगभग 12 वर्षों से न्यायालय में प्रैक्टिस कर रहे है। वह साकीपुर के रहने वाले हैं। इनके पिता प्रेमराज सिंह एक समाजसेवी हैं। वही शासन ने तीन डीजीसी और 11 एडीजीसी अधिवक्ताओं की नियुक्ति की है। ब्रहम जीत भाटी को डीजीसी फौजदार, नीरज शर्मा को डीजे सी सिविल, चरणजीत नागर को डीजीसी अधिवक्ता बनाया गया है। वहीं धर्मेंद्र जयंत एडीजीसी, हरीश सिसोदिया एडीजीसी, सुखबीर सिंह एडीजीसी, रोहताश शर्मा एडीजीसी,मूलचंद शर्मा एडीजीसी,पंकज शर्मा एडीजीसी,कमलेश सिंह एडीजीसी, राजेंद्र सिंह एडीजीसी, दिनेश भाटी एडीजीसी, प्रताप रावल एडीजीसी, श्याम सिंह एडीजीसी इन सभी को शासकीय अधिवक्ता बनाया गया है। इनकी नियुक्ति होने वाले शासकीय अधिवक्ताओं को साथी अधिवक्ताओं ने फूलों की माला पहनाकर व मिठाई खिलाकर बधाई दी।

यह भी देखे:-

क्रांतिकारी शहीद दरियाव सिंह की स्मृति में बने पार्क : करप्शन फ्री इण्डिया ने दिया ज्ञापन
मोबाईल लूटेरे ने खोल रखी थी टेलीकॉम की दूकान
सैलरी पर वाहन चोरी कराने वाले गिरोह का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार
हथियारबंद बदमाशों ने दो ट्रक चालकों को लूटा
प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में सभी लेखपाल करें अपना कार्य- डीएम
पुलिस ने तीन सट्टेबाज को दबोचा, चरस बरामद
अनियंत्रित होकर कार पेड़ से टकराई,चार घायल
मुआवजा दर कम करने पर किसानों में रोष , प्रशासन से वार्ता के बहिष्कार का किया ऐलान 
एसटीएफ व गौतमबुद्ध नगर पुलिस के हत्थे चढ़ा एक लाख का इनामी, जानिए इसका आपराधिक इतिहास
रामलीला मैदान के सौंदर्यीकरण के लिए सीईओ ग्रेटर नोएडा से की मुलाकात
दुल्हन की शिकायत लेकर दूल्हा पहुंचा थाने
रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेटर नोएडा  ने दिव्यांगों में व्हीलचेयर वितरित किया 
सड़क पर भारी जाम से हलकान रहे लोग
परिवार से बिछड़ी बच्ची को पुलिस ने मिलाया
भू-माफिया "मुखिया" पर जमीन कब्जाने का एक और मुकदमा दर्ज
हरियाली तीज मेहंदी प्रतियोगिता में शहजीन सैफी, प्राची, निशा, शबनम और जीनत रही प्रथम