राफेल विमान सौदे में मोदी सरकार को बड़ी राहत, पढ़े पूरी खबर

  • सुप्रीम कोर्ट ने कहा- इस मामले में संदेह और दखल की कोई जरूरत नहीं
  • याचिकाकर्ताओं ने कहा था कि राफेल डील में कथित अनियमितताओं की जांच अदालत की निगरानी में हो

नई दिल्ली: आज देश के सर्वोच्च न्यायलय ने अदालत की निगरानी में राफेल सौदे की जांच की मांग से जुड़ी संभी याचिकाओं को खारिज कर दीं। कोर्ट ने कहा कि राफेल विमान खरीद की प्रक्रिया में शक की कोई गुंजाइश नहीं है। इसमें कारोबारी पक्षपातों जैसी कोई बात सामने नहीं आई है। 14 नवंबर को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की बेंच ने याचिकाओं पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।

सीबीआई को एफआईआर का निर्देश देेने की भी अपील

इस मामले में अधिवक्ता एमएल शर्मा, विनीत ढांडा ने याचिका दायर की थी। इसके बाद आप नेता संजय सिंह ने भी याचिका दायर की।

तीन याचिकाएं दायर होने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और प्रशांत भूषण ने याचिकाएं दायर की थीं। इसमें कहा गया था कि अदालत सीबीआई को इस मामले में एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दे।

कीमत पर सीलबंद दस्तावेज सुप्रीम कोर्ट को सौंपा था

सरकार ने अदालत और याचिकाकर्ताओं को डील के संबंध में लिए गए फैसलों के दस्तावेज सौंपे थे। राफेल की कीमत को लेकर एक अलग सीलबंद दस्तावेज सुप्रीम कोर्ट को सौंपा गया था।

सरकार ने कोर्ट को बताया था कि राफेल विमान खरीदने का फैसला सालभर में 74 बैठकों के बाद किया गया।

सरकार ने बताया था कि 126 राफेल खरीदने के लिए जनवरी 2012 में ही फ्रांस की दैसो एविएशन को चुन लिया गया था। लेकिन, दैसो और एचएएल के बीच आपसी सहमति नहीं बन पाने से ये सौदा आगे नहीं बढ़ पाया।

सरकार ने कहा कि एचएएल को राफेल बनाने के लिए दैसो से 2.7 गुना ज्यादा वक्त चाहिए था।

यह भी देखे:-

GST COUNCIL ने मध्यम वर्ग को दी राहत , इन 177 वस्तुएं के दाम होंगे कम
लालू प्रसाद यादव अब जेल में खिलाएंगे फूल
'एक राष्ट्र एक चुनाव' के मुद्दे पर नीतीश कुमार का बड़ा बयान
पत्नी के गंभीर आरोप पर क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने दी ये सफाई
चारा घोटाले में लालू को बड़ी सजा मिलने के बाद राजनैतिक बयानबाजी तेज
नार्वे देश की महिला न्याय के लिए लगा रही थाने के चक्कर
क्या राकेश अस्थाना ने सृजन घोटाले में नीतीश कुमार को बचाया ? :तेजस्वी
बीजेपी की वेबसाइट हैक,सर्च करने पर लिखा 'वी विल बैक सून'
भाजपा 18 मार्च को जारी कर सकती है प्रत्याशियों की पहली सूची
लोकसभा चुनाव 2019: सीपीआई के खोते जनाधार को कन्हैया का सहारा
Grenonews special: भगवान महावीर के 12 अनमोल वचन
आजादी से अब तक के कांग्रेस अध्यक्षों का सफर और अब नई सियासत की संभावना
बीएस येद्द‍ियुरप्‍पा ने बेंगलुरु में राजभवन में पद और गोपनीयता की शपथ ली
भारत को दर्पण दिखाता कश्मीर की इतिहास, विद्रोह एवं घटनाक्रम
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन
मुख्य न्यायाधीश को उम्‍मीद- 17 नवंबर तक तय हो जाएगा अयोध्‍या में राम मंदिर बनेगा या नहीं