देखें VIDEO , मची हलचल , यमुना प्राधिकरण जमीन घोटाले में हुई एक और गिरफ्तारी

ग्रेटर नोएडा : यमुना एक्सप्रेस वे विकास प्राधिकरण में हुए 126 करोड रुपए के घोटाले के मामले में थाना कासना पुलिस ने एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है. इस मामले में पूर्व आईएएस पीसी गुप्ता की पहले ही गिरफ्तारी हो चुकी है. गुप्ता की इलाहाबाद हाई कोर्ट से जमानत खारिज हो गई है.


देखें VIDEO >>



एसएसपी डॉ. अजय पाल शर्मा ने बताया कि यमुना एक्सप्रेस वे विकास प्राधिकरण में हुए 126 करोड़ रुपए के घोटाले के मामले में आज थाना कासना पुलिस ने दाता इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के निदेशक रमेश बंसल को गिरफ्तार किया है. उन्होंने बताया कि विवेचना के दौरान यह बात सामने आई थी कि इस घोटाले में रमेश बंसल का भी हाथ है.

एसएसपी ने बताया कि इसमें यमुना विकास प्राधिकरण के पूर्व मुख्य कार्यपालक अधिकारी पीसी गुप्ता को पुलिस ने गिरफ्तार किया था जो मौजूदा समय में जेल में है. उन्होंने इलाहाबाद उच्च न्यायालय से जमानत की अपील की थी जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया था. एसएसपी ने बताया कि इस मामले की जांच जारी है. इसमें कुछ और लोगों की संलिप्तता होने की संभावना है. उनकी गिरफ्तारी की जाएगी. इस मामले में प्राधिकरण के कुछ अधिकारी व तहसीलदारों के भी नाम सामने आए हैं.

यह भी देखे:-

ड्राइवर ने की थी अपने ट्रांसपोर्टर मालिक की हत्या, जानिए क्यों
सड़ी गली हालत में मिला शव , शिनाख्त में जुटी पुलिस
यमुना प्राधिकरण जमीन खरीद घोटाला, इन तत्कालीन अधिकारीयों के खिलाफ जारी हुआ गिरफ्तारी वारंट, पढ़ें पूर...
फेज 3 पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर वाहन चोर
बाईक बोट स्कैम : एक और एडिशनल डायरेक्टर गिरफ्तार
पुलिस एनकाउंटर में वांटेड गैंगस्टर घायल, एक बदमाश फरार
घर में सो रहे दूधिया की गोली मारकर हत्या
ग्रेटर नोएडा : बाज़ार से लौट रही महिला से गैंग रेप, आरोपी गिरफ्तार
मुठभेड़ के बाद वांटेड गैंगस्टर के साथियों के साथ गिरफ्तार
अवैध असलाह के साथ वांटेड बदमाश गिरफ्तार
दिल्ली से ईनामी बदमाश को पुलिस ने दबोचा
फल व्यापारी को अगवा कर बदमाशों ने 1.5 लाख लूटे
होटल मालकिन से युवकों ने की छेड़छाड़, कासना पुलिस ने किया गिरफ्तार, आरोपी के परिजनों ने पुलिस से की म...
युवक पर चाकू से हमला, आईसीयू में भर्ती
दर्दनाक : ट्रक की टक्कर से बाइक सवार जोमेटो डिलीवरी बॉय की मौत परिजनों ने किया हंगामा
46 गुण्डे जिला बदर, डीएम ने माॅगी जनता से फीडबैक