देखें VIDEO, जी.एल. बजाज संस्थान ने धूम- धाम से मनाया 14 वां स्थापना दिवस, होनहार छात्र हुए सम्मानित

ग्रेटर नोएडा: जी.एल. बजाज संस्थान ने अपना 14 वां स्थापना दिवस धूम-धाम से मनाया। इस अवसर पर जगदम्बिका पाल (सांसद) चीफ गेस्ट के तौर पर मौजूद थे।



देखें VIDEO, सांसद जगदम्बिका पाल ने जी.एल. बजाज संस्थान के विषय में क्या बोला —



उन्होनें अपने सम्बोधन में बोलते हुए कहा कि भारत के प्रोमिनेन्ट मीडिया हाउसेज ने तथा एम.एच.आर.डी की रैकिंग ने यह साबित कर दिया कि जी.एल. बजाज संस्थान ने पिछले वर्षो में जमकर मेहनत की है। उन्होने कहा कि जी.एल. बजाज संस्थान का छात्र हेाना गर्व की बात है और वह यह नही मानते कि वह आज के दिन चीफ गेस्ट के रुप में अपने आप को उपयुक्त मानते हैं। उन्हें लगता है कि जिस तेजी से जी.एल. बजाज संस्थान तरक्की कर रहा है, छात्र तथा शिक्षक ही इस उपलब्धी के पीछे है और आज के दिन के चीफ गेस्ट भी वही सब है। उन्होनें छात्रों को अपनी शुभकामनाऐं भी दी।



देखें VIDEO, जीएल बजाज संस्थान के चेयरमैन डॉ.रामकिशोर अग्रवाल का सन्देश



इस अवसर पर बोलते हुये संस्थान के चेयरमेन आर.के. अग्रवाल ने कहा कि 2004, 21 नवम्बर के दिन जगदम्बिकाजी के कर-कमलो द्वारा इस संस्थान की नींव रखी गयी थी। उन्होनें कहा कि पिछले वर्षो में की गई मेहनत ने ही आज जी.एज. बजाज संस्थान को ए.के.टी.यू. के टाॅप संस्थानों में शामिल करवाया है।



देखें VIDEO, Team Synergy Racing जी. एल. बजाज के स्थापना दिवस समारोह में हुई सम्मानित



इस अवसर पर प्रतिभाशाली छात्रों को सम्मानित भी किया गया। ई.सी.ई के छात्र शुभम चैहान, विशाल आनन्द, अजय कुमार सिंह को स्टार्टप वेन्चर के लिये अवार्ड दिया गया.



देखें VIDEO, PLASTIC WASTE PRODUCT से इंधन बनाने की मशीन का ईजाद करने वाले छात्र पंकज कुमार भाटी का साक्षात्कार–



वही हिमान्शु रंजन, सौरया दीप सिंह को स्टार्टअप अटल इन्सुवेशन सेन्टर से 10 लाख की धनराशी प्राप्त होने पर अवार्ड दिया गया।

सी.एस.ई के छात्र सागर त्यागी, तुषार अग्रवाल, शुभांगीं, सिद्वविनायकम सिंह, शिवम शाही, योगेश सिंह को स्मार्ट इण्डिया हैकेथाॅन 2018 के जीतने पर प्रथम पुरुस्कार 1 लाख मिलने परसम्मानित किया गया। वही गौरव सिंह को केपजेमिनी टेक चैलेन्ज 2017 अवार्ड से सम्मानित किया गया।

आई.टी. के छात्र सार्थक वर्मा, राहुल चुग को चतुर्थ स्थान मिला स्मार्ट इण्डिया हैकेथाॅन मिनिस्ट्री आॅफ एग्रीकल्चर के तहत। चतुर्थ स्थान मिलने पर सम्मानित किया गया। वही राहुल कुमार, अनिकेत जेसवाल को टाॅप अटेन्डेन्स अवार्ड से सम्मानित किया गया।

ई.ई. की छात्रा सोनल सिंह (द्वितीय वर्ष) सेसन 2017-18 की टाॅपर अवार्ड से सम्मानित किया गया वही शुभम दुबे (तृतीय वर्ष) सेसन 2017-18 को टाॅपर अर्वाड से सम्मानित किया गया

एम.ई. के छात्र हसन अब्बास को टीम लीड अवार्ड से सम्मानित किया गया (बाजा एस.ए.ई. इन्टरनेशनल आर्गेनाइज्ड यू.एस.ए)

वही विशाल रंजन सिंह एम.आई.टी. यू.एस.ए. बूट कैम्प 2018 उत्तर प्रदेश सरकार सेे 10 लाख प्राप्त करने पर सम्मानित किया गया दिया।

सी.ई. के छात्र विश्वजीत रंजन को शोर्ट फिल्म, सोलो सिंगिंग एण्ड स्पोर्टस अवार्ड दिया गया। साथ ही सुशील विश्वकर्मा को नेशनल लेवल, जोनल लेवल, काॅलेज लेवल क्यूज अवार्ड दिया गया। वही साकेत राय को नेशनल लेवल, जोनल लेवल, काॅलेज लेवल डिवेट, क्यूज, पी.पी.टी. माॅडल पी.पी.टी., जेम, कोडिंग और पोईट्री अवार्ड दिया गया।

एम.सी.ए. की छात्रा चाँदीनी बिस्ट को यूनिवर्सिटी टाॅपर्स अवार्ड से सम्मानित किया गया। एम.बी.ए की छात्रा प्रियंका सिंह, स्वाती चैहान को टाॅपर्स अवार्ड से सम्मानित किया गया।

अपने स्वागत भाषण में बोलते हुये संस्थान के वाईस चेयरमेन ने कहा कि उन्हें गर्व है कि अपनी स्थापना से ही जी.एल. बजाज संस्थान में हर क्षेत्र में अपना लोहा मनवाया। पिछले दो वर्षो से मानव संसाधन संस्थान द्वारा देश के टाॅप 200 संस्थानों की सूची में स्थान पाना संस्थान के छात्रों तथा शिक्षकों के द्वारा की गई मेहनत और संस्थान के चेयरमन डाॅ. राम किशोर अग्रवाल के विजन का ही परिमाण है। उन्होनें कहा कि आने वाले वर्षो में भी इसी प्रकार मेहनत और विजन से आगे बढने की जरुरत है। उन्होनें कहा कि हमारी शिक्षण पद्वति, हमारी रिसर्च तथा हमारे छात्र ही हमारा भविष्य है। छात्रों को सम्बोधित करते हुये उन्होने कहा कि प्रोफेशनल जिन्दगी में आगे बढने के लिये कुछ चीजो का ध्यान रखने की आवश्यकता है जैसे कि औरो से अलग सोचने की क्षमता तथा फिर उस सोच को धरातल पर एक्जीक्यूट करने की हिम्मत। उन्होने कहा कि इसके साथ ही सफलता से डरने की जरुरत भी है। क्योकि जैसे ही इन्सान सफल होता है वह संतुष्ट हो जाता है। और वही से उसका पतन शुरु हो जाता है। इसलिये यह आवश्यक है कि इन्सान अपनी सफलता के चरन पर भी नया सीखने की इच्छा रखे और लगातार खुद को चैलेन्ज करता रहे। इसके साथ ही उन्होने प्रोफेशनल लाईफ में आने वाली मोरल और इथीकल समस्याओं का जिक्र भी किया और कहा कि यह जरुरी है, कि अपने काम पूरी इमानदारी से किया जाये, साथ ही उन्होने स्वास्थ को भी पुँजी बताया और कहा कि इसे संभाले, बढायें पर किसी भी हाल में नष्ट ना होने दें।

इस अवसर पर संस्थान के निदेशक डाॅ. राजीव अग्रवाल ने धन्यवाद ज्ञापित किया। तथा पिछले 13 वर्षो में काॅलिज द्वारा कि गई उन्नती का विवरण दिया।

यह भी देखे:-

आईआईएमटी कॉलेज : बीजेएमसी के फ्रेशर पार्टी में शिवम बने मिस्टर तो आरिब मिस फ्रेशर
बिमटेक में नेशनल सस्टेनेबिलिटी केस चैलेंज , आईआईटी खड़गपुर बना विजेता
आईआईएमटी कॉलेज में कोम्‍बेट मैनेजमेंट फेस्‍ट का आयोजन
आईआईएमटी कॉलेज ऑफ फार्मेसी में पांच दिवसीय एफडीपी का आयोजन
शारदा विश्वविधालय में सांस्कृतिक विरासत कार्यक्रम, विदेशी छात्रों ने की शिरकत
अज्ञात वाहन की टक्कर से राहगीर की मौत
यूपीएससी की वेबसाइट पर लिखा था 'डोरेमॉन!!! फोन उठाओ'
शारदा विश्वविधालय द्वारा पर्यावरण बचाने की नई पहल, अब गुलदस्ते के जगह पौधा
गलगोटिया विश्वविद्यालय : लॉ के छात्रों ने लोगों को बताया उनके मौलिक अधिकार
आईआईएमटी : डॉक्यू फेस्ट में पीपल्स कॉलेज भोपाल और एमिटी यूनिवर्सिटी ने मारी बाजी
विश्व स्तर पर शांति स्थापित कराने के लिए समसारा विद्यालय सम्मानित
आई.टी.एस काॅलेज में श्रद्धा कपूर ने किया "हसीना पारकर" फिल्म का प्रमोशन
शिव नादर यूनिवर्सिटी में मच्छर लारवा पाए जाने पर लगाया जुर्माना
जे.पी. इन्टरनेशनल स्कूल में छात्र परिषद् का गठन
प्रोफ़ेसर प्रीति बजाज बनी गलगोटिया विश्विद्यालय की कुलपति
आईटीएस कॉलेज में होगा राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस का आयोजन