नेक्स्ट एजुकेशन ने शेरोन इंटरनेशनल स्कूल से हाथ मिलाया

ग्रेटर नोएडा: नेक्स्ट एजुकेशन और शेरोन इंटरनेशनल स्कूल ने विश्व-स्तरीय मानकों को पूरा करते हुए एक नया स्कूल शुरू करने के लिए भागीदारी की घोषणा की है। इस भागीदारी के तहत शेरोन स्कूल के छात्रों को डिजिटल टेक्नोलॉजी से सुसज्जित आधुनिकतम पाठ्यक्रम आधारित प्रशिक्षण दिया जाएगा। साथ ही उन्हें विश्व-स्तरीय बुनियादी ढांचा और स्कूल सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी।

भारत के शहरों और महानगरों में जिस तरह 21वीं सदी के पाठ्यक्रम की मांग बढ़ती जा रही है उसे देखते हुए नेक्स्ट एजुकेशन अधिक से अधिक स्कूलों के साथ सहयोग करने का इरादा रखता है। खासकर टियर-2 और टियर-3 शहरों में प्रगतिशील स्कूलों की स्थापना में सहायता करने के लिए कंपनी ने ग्रेटर नोएडा, लखनऊ और कानपुर क्षेत्रों में संभावनाओं का लाभ उठाने के अपने प्रयासों को दोगुनी गति दे दी है।

इस अकादमिक साझेदारी के तहत नेक्स्ट एजुकेशन शेरोन स्कूल को पूर्ण शैक्षणिक और प्रशासनिक सहायता प्रदान करेगा। इनमें स्कूल के बुनियादी ढांचे और प्रोजेक्ट गाइडेंस, स्कूल को टेक्नोलॉजी इंफ्रास्ट्रक्चर सुविधाएं, स्कूल के मैनेजमेंट के संबंध में परामर्श, अकादमिक प्रबंधन सेवाएं, अकादमिक संचालन सेवाएं, छात्रों के रजिस्ट्रेशन के संबंध में परामर्श, प्रतिभा पहचानने के लिए परामर्श, पैरेंट ओरिएंटेशन प्रोग्राम और रणनीतिक गठबंधन शामिल हैं। कंपनी छात्रों की समग्र शिक्षा आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए स्कूलों को संयुक्त एकीकृत समाधान प्रदान करने के लिए डिजिटल सामग्री, प्रयोगशालाओं, पाठ्यपुस्तकों जैसे प्रोडक्ट्स भी डिलीवर करेगी।

इस प्रोग्राम पर टिप्पणी करते हुए नेक्स्ट एजुकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के सह-संस्थापक और सीईओ ब्यास देव राल्हन ने कहा, “बुनियादी ढांचे, सरकारी नीतियों के अनुपालन, रखरखाव, जैसी ऑपरेटिंग चुनौतियों की वजह से शैक्षिक गुणवत्ता के कारण समझौता होता है। यदि स्कूल किसी पेशेवर के साथ भागीदारी करता है तो वह अधिक से अधिक एडमिशन प्राप्त कर सकता है, सकारात्मक परिणाम सुनिश्चित कर सकता है और व्यापक पैमाने पर आर्थिक व्यवस्थाओं का प्रबंधन कर सकता है। शेरोन इंटरनेशनल स्कूल में हम सभी अकादमिक जिम्मेदारियों का ख्याल रखेंगे और छात्रों की क्रिएटिविटी और इनोवेशन पर इसका बहुत अच्छा असर पड़ेगा।”

शेरोन इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल डॉ. सुषमा मलिक ने कहा, “शिक्षा को समर्पित शेरोन इंटरनेशनल स्कूल ने नेक्स्ट एजुकेशन के साथ साझेदारी कर छात्रों के लिए क्वालिटी युक्त टेक्नोलॉजी-आधारित शिक्षा उपलब्ध कराने की योजना बनाई है। इस विजन के अनुरूप पार्टनरशिप के तहत एकेडेमिक सॉल्युशन प्रोग्राम के एक हिस्से के रूप में प्रौद्योगिकी संचालित, कक्षा के अनुकूल और सीखने पर केंद्रित प्रोडक्ट्स बनाए हैं। के-12 शिक्षा क्षेत्र में इन प्रोडक्ट्स ने क्रांति की शुरुआत की है।

पिछले 18 महीनों में नेक्स्ट एजुकेशन ने राजस्थान, बिहार, बैंगलोर, चेन्नई और दिल्ली के नौ स्कूलों में अपना प्रोग्राम डिलीवर किया है। समग्र रूप से संचालन को देखने के लिए एक मुख्य अकादमिक अधिकारी भी नियुक्त किया गया है।

नेक्स्ट एजुकेशन का लक्ष्य अगले तीन वर्षों में देश के 150 निजी स्कूलों के साथ नेक्स्टस्कूल प्रोग्राम के तहत स्कूलों के लिए एक व्यापक शैक्षणिक साझेदार बनने का है।

नेक्स्ट एजुकेशन के बारे में

नेक्स्ट एजुकेशन इनोवेटिव और एंगेजिंग टेक्नोलॉजी-आधारित के-12 सॉल्युशंस के जरिये शिक्षा क्षेत्र में व्यापक बदलाव ला रहा है। इसके सॉल्युशंसका इस्तेमाल 1,50,000 से ज्यादा शिक्षक 12,000 से ज्यादा स्कूलों में 12,000,000 से ज्यादा छात्रों को सीखने की खुशी दे रहे हैं। 2007 से नेक्स्ट एजुकेशन के एजुकेशनल सॉल्युशन और सर्विसेस को राष्ट्रीय और विश्व स्तर पर अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है। सीबीएसई, आईसीएसई, सेना और सात भारतीय भाषाओं में सभी राज्य बोर्डों के पाठ्यक्रमों को इसमें कवर किया गया है।

यह भी देखे:-

एपीजे स्कूल में ऑनलाइन कक्षा में मनाया गया मदर्स डे, नन्हे मुन्नों ने अपने गतिविधि से लुभाया
डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा , बिल्डर - बॉयर के इन मुद्दों में पुलिस सीधे नहीं करेगी हस्तक्षेप जानिये
जहांगीरपुर श्री रामायण मेला समिति रामलीला मंचन: राम ने तोड़ा शिव धनुष. गरजे परशुराम
कोरोना संकट : जेवर विधयक धीरेन्द्र सिंह ने सीएम कोविड केयर फण्ड में दिया दान, कहा मदद के लिए आगे आएं
पृथक मिथिला राज्य की मांग को लेकर जंतरमंतर पर हुआ जोरदार प्रदर्शन
ग्रेटर नोएडा: सीएम योगी ने किया राष्ट्रीय युवा महोत्सव का उद्घाटन, पीएम मोदी ने कहा, देश के नौजवान...
करप्शन फ्री इंडिया ने यूपी बोर्ड टापर्स को किया सम्मानित
प्रतिभावान छात्र-छात्राएं हुए सम्मानित
प्रभारी अधिकारी ने विकास कार्यों व अपराध नियंत्रण पर की समीक्षा
उपचार के दौरान घायल छात्र-छात्रा ने दम तोड़ा, शोक की लहर
बड़ी खबर : एसटीएफ के हत्थे चढ़ा गौरव चंदेल का हत्यारोपी
गलगोटियास विश्वविद्यालय के पालिटैक्निक ने एल्युमनाई टास्क सीरीज़ कार्यक्रम का आयोजन किया
सड़क सुरक्षा को लेकर डीजीपी और परिवहन प्रमुख सचिव ने की बैठक
भाजपा सरकार में आम आदमी हुआ बेदम : बृजपाल राठी
श्री राममित्र मंडल रामलीला : आकाश मार्ग से पहुँचे हनुमान संजीवनी लेने
जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने कहा, जनता के सहयोग से ही कोरोना के संक्रमण को परास्त कर विजय हासिल कर...