फीस वृद्धि मामले में डीएम की बैठक : कहा,  विवाद की स्थिति में बच्चों को स्कूल छोड़ने को मजबूर नहीं करेगा स्कूल

ग्रेटर नोएडा : नोएडा व ग्रेनो  में सीबीएसई बोर्ड के स्कूलों में फीस वृद्धि को लेकर आ रही अभिभावकों की लगातार आ रही  शिकायतों को देखते हुए आज जिलाधिकारी बीएन सिंह ने जिले के तमाम निजी सीबीएसई बोर्ड के स्कूलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।
डीएम ने  स्पष्ट किया कि किसी भी स्कूल में विवाद की स्थिति में बच्चों को स्कूल छोड़ने को मजबूर नहीं किया जायेगा और न ही ऐसे बच्चों की टीसी जारी की जायेगी यदि ऐसा पाया जाता है तो सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही प्रस्तावित की जायेगी।
 उन्होंने  सम्बन्धित स्कूलों के प्रधानाचार्यों का आहवान किया कि इस सम्बन्ध में पूर्व में बैठक करते हुये सभी सम्बन्धित स्कलों से फीस वृद्धि के सम्बन्ध में फीस बढाने के सम्बन्ध में कारणों सहित रिर्पोट चाही गयी थी। उसके सापेक्ष उन्होनें पाया कि बहुत स्कूलों के द्वारा अपनी रिर्पोट जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में जमा करा दी गयी है। प्राप्त रिर्पोट में कुछेक स्कूलों द्वारा फीस वृद्धि के सम्बन्ध में रिर्पोट प्रस्तुत नहीं  दी गयी है।
 जिलाधिकारी ने कहा जिनके द्वारा अभी तक अपनी रिर्पोट प्रस्तुत नहीं की गयी है वह एक सप्ताह के भीतर अपनी रिर्पोट प्रस्तुत कराना सुनिश्चित करेंगें ताकि शासन को इस प्रकरण में विस्तृत रिर्पोट प्रेषित की जा सकें। इस सम्बन्ध में डीएम ने सभी स्कूल संचालकों के प्रबन्धकों को स्पष्ट किया है कि फीस वृद्धि के सम्बन्ध में जिन स्कूलों के द्वारा रिर्पोट प्रस्तुत की गयी है उसमें फीस वृद्धि को छोड़ा गया है ऐसे स्कूल अपनी सही रिर्पोट भी एक सप्ताह में उपलब्ध करा दे अन्यथा की स्थिति उनकी रिर्पोट के सम्बन्ध में शासन को यथावत रूप से अवगत करा दिया जायेगा। जिसके लिये स्कूल प्रबन्धक गण स्वयं जिम्मेदार होगें।
उन्होंने  कहा कि सभी स्कूलों के द्वारा फीस वृद्धि के सम्बन्ध में  शासन के जो निर्देश है उसी आधार पर सभी स्कूलों द्वारा अपनी रिर्पोट प्रस्तुत की जाये सभी स्कूलों की प्राप्त आख्या को शासन को एक सप्ताह के उपरान्त भेजा जायेगा। डीएम ने यह भी स्पष्ट किया कि किसी भी स्कूल में विवाद की स्थिति में बच्चों को स्कूल छोड़ने को मजबूर नहीं किया जायेगा और न ही ऐसे बच्चों की टीसी जारी की जायेगी यदि ऐसा पाया जाता है तो सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही प्रस्तावित की जायेगी।
 आयाजित बैठक में शासन की मंशा के अनुरूप ईडब्लूएस योजना में गरीब परिवार के बच्चों का 25 प्रतिशत दाखिला करने के सम्बन्ध में सभी स्कूलों के द्वारा अपनी सहमति प्रदान की गयी। इस सम्बन्ध में लगभग 1200 बच्चों के दाखिलें इस योजना में कराने के उद्देश्य से सभी स्कूलों को बच्चों की सूची भी उपलब्ध करा दी गयी है। कुछेक प्रधानाचार्यो के द्वारा डीएम के संज्ञान में लाया गया कि कुछ व्यक्ति इस योजना का लाभ पाने के लिये गलत तरीके से आय प्रमाण पत्र बनाकर बच्चों का दाखिला कराने का प्रयास कर रहे है ऐसे प्रकरण में डीएम ने स्पष्ट किया कि सम्बन्धित के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराते हुये कार्यवाही की जायेगीं।
 आयोजित बैठक में जिला विद्यालय निरीक्षक डा पीके उपाध्याय, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवेश कुमार यादव, डीपीएस, मार्डन, सफायर, खेतान, लोटस, श्रीराम,  रियान, भरतराम, समर विल, विश्वभारती, राघव ग्लोबल, कोम्ब्रिज  आदि स्कूल संचालाकों एवं प्रधानाचार्यो द्वारा भाग लिया गया-राकेश चौहान सूचनाधिकारी।

यह भी देखे:-

पीएफ पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया ये फैसला
नोएडा पुलिस ने दी जनपदवासियों को नववर्ष की शुभकामना
अब एटीएम से पैसे निकलने पड़ेंगे महेंगे
समाजवादी पार्टी बूथ कार्यकर्ताओं के सम्मलेन में बोले सांसद सुरेन्द्र सिंह नागर , भाजपा ने देश को किय...
UNCCD COP14:भूमि क्षरण को रोकने के लिए 14 अफ्रीकी देशों ने अपनाया 3S का फार्मूला
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन
Hyundai Announces Blockbuster Launch of 'The New 2018 ELITE i20'
लाखों की अवैध शराब से लदा ट्रक पकड़ा
केजरीवाल अब हरियाणा में चाहते हैं कांग्रेस से गठबंधन
कैश लूट का प्रयास , एटीएम पर तैनात गार्ड को मारी गोली
IHGF 2018: मुख्य सचिव ने बेस्ट डिजाइन व डिस्प्ले स्टैंड के लिए प्रदर्शकों को अजय मेमोरियल अवार्ड स...
ग्रेटर नोएडा में 15 सितम्बर को दंगल में दमखम दिखाने पहुंचेंगे दो सौ पहलवान
हिन्दू युवा वाहिनी ने मनाया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जन्म दिन
समाज मे व्याप्त दस बुराई यानी रावण के दस सिर को खत्म करने का संकल्प ले युवा - विनीत
लोकेश भाटी बने समाजवादी सेक्युलर मोर्चा छात्र संघ के प्रदेश अध्यक्ष, जोरदार स्वागत
भारतीय हस्तशिल्प मेला (IHGF) : फैशन शो ने किया खरीदारों को आकर्षित