उदीयमान सूर्य को अर्ध्य देने के साथ छठ महापर्व का समापन

ग्रेटर नोएडा : लोक आस्था और सूर्य उपासना का महापर्व छठ आज सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही में संपन्न हो गया। चार दिवसीय इस अनुष्ठान के चौथे दिन अर्ध्य देने के बाद व्रतियों ने अन्न-जल ग्रहण कर ‘पारण’ किया। छठ पर्व के चौथे और अंतिम दिन आज नोएडा ग्रेटर नोएडा में हज़ारों की संख्या में व्रतधारी और उनके साथ आए लाखों श्रद्धालु यमुना नदी, हिंडन नदी के घाट , जलाशयों , पोखर , सरोवर , पार्कों में बने पोंड के किनारे पहुंचे और उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देकर भगवान भास्कर की पूजा-अर्चना की। इसके बाद व्रती अपने घर आकर जल-अन्न ग्रहण कर ‘पारण’ किया और 36 घंटे का निर्जल उपवास समाप्त किया। इसके साथ ही सूर्य देव की उपासना का पर्व छठ सम्पन्न हो गया ।
Chhath puja 2018 ends with the Arghya of Rising sun
ग्रेटर नोएडा के आईईसी कालेज के निकट छठ पूजा स्थल , ईटा- 1 पार्क , पाम पार्क डेल्टा – 1 , ओमीक्रोम सेक्टर , सूरजपुर बाराही सरोवर , कुलेसरा में हिंडन नदी , कालिंदी कुञ्ज में यमुना नदी के तट और स्टेडियम में बने छठ घाट पर लाखों की संख्या में श्रद्धालु जुटे।

महिलाओं और घर के पुरुषों ने सिर पर बांस की टोकरी, सुप में फल, खजूर आदि लेकर छठ घाट पहुंचे और सूर्य, छठ माता को प्रसाद चढ़ाया। जल में उतरकर उगते सूर्य को अर्घ्य दिया है।

बता दें चार दिन तक चलने वाले इस त्योहार में भगवान सूर्य की आराधना की जाती हैं। 24 अक्टूबर को नहाय खाय के साथ शुरू हुआ ये पर्व सप्तमी को उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही समाप्त हो गया है । इस पर्व में भगवान सूर्य की पूजा का काफी महत्व है। इस दौरान छठ मइया के भजनो और लोक गीतों की बयार बहती जिससे सारा वातावरण भक्तिमय नज़र आ रहा था।

यह भी देखे:-

आज का पंचांग, 15 दिसंबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
दनकौर की श्रीमद्भागवत कथा में श्रद्धालु उमड़े
लवकुश धार्मिक रामलीला : नारद मोह की भावपूर्ण लीला देख गदगद हुए दर्शक
आज का पंचांग, 30 अक्टूबर 2020 , जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
ग़मगीन माहौल में नोएडा -जहांगीरपुर में निकला मुहर्रम का जुलूस, या हुसैन की सदाओं से गूंजा शहर
लंकेश्वर रावण कावंड ग्रुप ने बिरखधाम में किया शिव जी का जलाभिषेक : सावन में शिवरात्रि का है विशेष मह...
श्रद्धालुओ ने ऐस सिटी में धूमधाम से मनाया लोकआस्था का महापर्व छठ
13 घंटे में हरिद्वार से गंगा जल लेकर लौटी डेरी स्कनर डाक कावड़ टीम
शनि अमावस्या : 14 साल बना शुभ योग, लाखों श्रृद्धालुओं ने किया तेलाभिषेक
दनकौर में मोहर्रम पर निकाला गया मातमी जुलूस, हर तरफ गूंजा या हुसैन का नारा
आज का पंचांग, 2 दिसंबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
आज का पंचांग, 31  अक्टूबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
आज का पंचांग, 5 जनवरी 2021, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
कल  का पंचांग, 30 सितम्बर 2020, जानिए  शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
आज का पंचांग, 17  अगस्त 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
आज का पंचांग, 4  अगस्त 2020 , जानिए शुभ व अशुभ मुहूर्त