राकेश कुमार लगातार तीसरी बार इंडिया एक्स्पो मार्ट (आईईएमएल) के चेयरमैन चुने गए

नई दिल्ली: इंडिया एक्स्पो मार्ट (आईईएमएल) के 86वीं बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स की मीटिंग में श्री राकेश कुमार को लगातार तीसरी बार सर्वसम्मति से चेयरमैन चुना गया है. आईईएमएल के समूचे बोर्ड ने श्री राकेश कुमार के पिछले कार्यकाल की उपलब्धियों की सराहना की और लगातार तीसरे कार्यकाल के लिए उनका स्वागत किया.

राकेश कुमार ने प्रदर्शनी और कन्वेंशन सेक्टर के विभिन्न पेशेवर संघों के साथ हस्तशिल्पों के निर्यात क्षेत्र में कार्य किया है. इसके अलावा वो हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (ईपीसीएच) के कार्यकारी निदेशक भी हैं. वो कई वर्षों से इंडिया एक्सबिशन इंडस्ट्री एसोसिएशन [IEIA] के अध्यक्ष रहने के साथ ही कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संघों के बोर्ड में भी हैं.

आईईएमएल कुटीर क्षेत्र के लिए भारत की पहली अत्याधुनिक परियोजना है जो चौबीसों घंटे मार्केटिंग सेवाएं प्रदान करती है.

इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड (आईईएमएल) की स्थापना भारतीय हस्तशिल्पों के निर्यात की विशाल क्षमता को देखते हुए इसमें सुधार के लिए की गई है.आईईएमएल अपने विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचे के लिए भी प्रसिद्ध है जो विभिन्न प्रदर्शनियों और मेलों के लिए आयोजन स्थल मुहैया कराता है.

चार साल के अपने पिछले कार्यकाल के दौरान श्री राकेश कुमार ने न केवल आईईएमएल के लिए बल्कि उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर की सोसाइटी के लिए भी कई सराहनीय कार्य किए. इस दौरान उन्होंने 3 मेगावाट सोलर रूफटॉप प्रोजेक्ट कमीशन की जो आईईएमएल के साथ ही सोसाइटी के लिए भी फायदेमंद है.

उनके कार्यकाल के दौरान एशिया और दुनिया के प्रमुख एक्शबिशन संगठनों की जरूरतों को पूरा करने के लिए छह अतिरिक्त हॉल के साथ ही 140000 वर्गमीटर क्षेत्र का निर्माण कियागया.
इसके अलावा, आईईएमएल निर्यातकों और प्रदर्शकों के लिए आईईएमएल होटल प्रोजेक्ट का अनावरण भीजल्दी होगा.
श्री कुमार को उनके नए आइडियाज के लिए जाना जाता है और अपने इन्ही आइडियाज के अंतर्गत उन्होंने इंडिया इंटरनेशनल हॉस्पिटैलिटी शो (आईएचई) लॉन्च किया और इसके साथ ही कई अन्य संस्थानों जैसे मेगा ट्रेड फेयर, एस्केलेटर ऐंड एलिवेटर एक्सपो इत्यादि के साथ मिलकर कई नए मेलो का आयोजन किया.

उनके कार्यकाल के दौरान, आईईएमएल लगातार आईएचजीएफ- दिल्ली मेला का आयोजन करने में सफल रहा है जिसे लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड को दुनिया का सबसे बड़ा हस्तशिल्पों का मेला करार दिया गया. इसके साथ ही एशिया के सबसे बड़े मेलों जैसे ऑटो एक्सपो, एलेक्रामा, जीईएस, री-इन्वेस्ट समिट, सीओपी-7 इत्यादि का सफल आयोजन किया गया.
इसके अलावा उनकी पहल पर शिक्षा के क्षेत्र में आईईएमएल ने एकेडमी ऑफ कन्वेंशन ट्रेड फेयर इवेंट रिसर्च ऐंड मैनेजमेंट (एसीटीईआरएम) की एक शिक्षण संस्थान के रूप में स्थापना की गई. एसीटीईआरएम उन लोगों को विशेष शिक्षा देती है जो एमआईसीसी (MICC) के क्षेत्र में रुचि रखते हैं.

सामाजिक कल्याण के क्षेत्र में श्री कुमार सरकारी स्कूलों की शिक्षा में सुधार के लिए प्रारंभिक स्तर पर और मोबाइल स्कूल वैन के जरिए बहुत कड़ी मेहनत कर रहे हैं और साथ ही स्कूली स्तर पर लड़के और लड़कियों के लिए सैनिटेशन की सुविधा भी मुहैया करा रहे हैं.

इस साल श्री कुमार को TRAVTOUR MICE और इंटरनैशनल हॉस्पिटैलिटी ऐंड ट्रैवल अवार्ड 2018 की तरफ से MICE पर्सन ऑफ द ईयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. उनके कार्यकाल के दौरान आईईएमएल को सर्वश्रेष्ठ MICE आयोजन स्थल से सम्मानित किया गया.

यह भी देखे:-

बच्चे की मौत के मामले में जांच के आदेश
महागुन सोसाइटी में तोड़फोड़ करने वाले 13 गिरफ्तार
पुलिस टीम पर हमला करने वाला एक आरोपी गिरफ्तार
सीएम योगी ने किया कैलाश मानसरोवर भवन का शिलान्यास
सेंट जॉसेफ स्कूल के छात्रों ने शिक्षकों के प्रति दिखाया सम्मान
दिल्ली का उभरता सितारा, बाल कलाकार दिव्यांशु 
भारत में कबड्डी का प्रचलन सदियों से रहा है, दूसरे देश कर रहे हैं अनुसरण : धीरेन्द्र सिंह
श्री राममित्र मंडल रामलीला नोएडा : रावण दहन के साथ हुई बुराई पर अच्छाई की विजय
तमाम विवादों के बीच भारत पहुंचे 3 राफेल जेट
बसपा के कद्दावर नेता वेदराम भाटी भाजपा में शामिल
ग्रेटर नोएडा में रेस्टोरेंट में लगी आग
बेटी सुरक्षित, समाज सुरक्षित, छात्राओं ने सीखे आत्मरक्षा के गुर
समाजवादी पार्टी नेता के हत्यारोपी गिरफ्तार
गलगोटिया इंजिनियरिंग एनटेरेंस ऐग्जाम, 11 राज्यों के 22 शहरों में आयोजित
जी.एल बजाज में रक्तदान व वृक्षारोपण कार्यक्रम
DUSU ELECTION 2019: नोएडा, ग्रेटर नोएडा के सैकड़ों कार्यकर्ता करेंगे प्रचार-प्रसार