तीन बावरियों गिरफ्तार कर पुलिस ने किया जमालपुर डबल मर्डर डकैती काण्ड का खुलासा,

ग्रेटर नोएडा। दनकौर कोतवाली क्षेत्र के जमालपुर गांव में बीते 12 अक्टूबर को बुजुर्ग दम्पती की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने बावरिया गिरोह के तीन सदस्यों को आगरा एसओजी की मदद से मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार करने का दावा किया है। इस गिरोह के छह आरोपी अब भी फरार हैं। बता दें मृतक दम्पति पारा अथेलीट वरुण भाटी के परिवार से hi थे और उनके रिश्ते में दादा-दादी लगते थे .

गिरफ्तार बदमाशों की पहचान नरेश, राजू व धर्मपाल के रूप में हुई है . तीनों बदमाश पलवल हरियाणा के निवासी हैं। इनके गिरोह का सरगना भूरा बताया जा रहा है जिसने अपनी पत्नी के साथ घटना से 4 दिन पहले गांव में रैकी करने के बाद वारदात को अंजाम दिया था।

आज ग्रेटर नोएडा में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सीओ निशांक शर्मा ने बताया कि बुधवार सुबह आगरा एसओजी टीम के साथ गांव नियाना के जंगलों में हुई मुठभेड़ में तीनों को गिरफ्तार कर उनके पास से एक डबल बैरल की बंदूक, 2 चेन, 2 पीली धातु की चूड़ियां, एक चेक बुक और एक पासबुक बरामद की गई हैं। हालांकि, घटना के खुलासे के दौरान पुलिस कई सवालों के जवाब देने के बजाय उनसे बचती रही।

जमालपुर में हुए दोहरे हत्याकांड के बाद खुलासे के लिए एसएसपी ने पुलिस की पांच टीमें बनाई थीं। लेकिन सभी टीमें मामले का खुलासा करने में असफल रहीं। पूरे मामले की पड़ताल में लगे सीओ द्वितीय पीयूष सिंह अचनाक छुट्टी पर चले गए। वहीं एसएसपी अजयपाल शर्मा और एसपी देहात विनीत जायसवाल भी खुलासे से दूर ही रहे।

पुलिस ने बताया की वारदात को अंजाम देने से पहले भूरा अपनी पत्नी के साथ 8 अक्टूबर को गांव जमालपुर आया था और रैकी कर लौट गया था। लेकिन गांव में कई जगह लगे सीसीटीवी फुटेज में 8 अक्टूबर को ऐसी कोई भी महिला किसी के साथ दिखाई नहीं दे रही है। पुलिस खुद इस बात को स्वीकार कर रही है।

खुलासे के दौरान सीओ निशांक शर्मा ने बताया कि मोबाइल लोकेशन के आधार पर बावरिया गिरोह के सदस्यों के वारदात में शामिल होने के सबूत मिले थे। वहीं, आगरा एसओजी प्रभारी देवेंद्र भदौरिया ने भी बताया कि रैकी के दौरान भूरा और उसकी पत्नी के मोबाइल की लोकेशन के आधार पर उनके शामिल होने की जानकारी मिली थी। लेकिन उन्होंने खुद यह बताया कि देशभर में अब तक की गई किसी भी वारदात में बावरिया गिरोह के किसी भी सदस्य ने ना ही रैकी के दौरान और ना ही वारदात के दौरान मोबाइल का प्रयोग किया है।

यह भी देखे:-

अश्लील फोटो लेने पर युवती ने की थी ख़ुदकुशी, आरोपी गिरफ्तार
सवा दो साल बाद हुआ खुलासा, पति की हत्यारिन निकली पत्नी
अफ़्रीकी मूल के चार युवकों ने लूटी कैब, ड्राइवर से की मारपीट
पुलिस एनकाउंटर में गैंग का सरगना समेत चार बदमाश ढेर , आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल
एनजीटी ने 12 लोगो को दिया जुर्माने का नोटिस
हथियार के नोंक पर डिस्ट्रीब्यूटर से हज़ारों की लूट
बीमा के करोड़ों की रकम हड़पने की साजिश का पर्दाफाश , पढ़ें पूरी खबर
बड़ी खबर: नोएडा , निजी न्यूज़ चैनल के पत्रकार केंद्रीय मंत्री को कर रहे थे ब्लैकमेल, महिला गिरफ्तार
हत्या के प्रयास का आरोपी गिरफ्तार
ग्रेटर नोएडा : बदमाशों के हौसले बुलंद, ट्रक पर चढ़कर ड्राइवर मारी गोली, कैश से भरा बैग लूटा 
पुलिस ने व्यापारियों को सुरक्षा के प्रति जागरूक किया
कासना पुलिस का खुलासा , घरवालों  ने गढ़ी थी बेटी के अपहरण की झूठी कहानी
सीसीटीवी में कैद हुई चोरी की वारदात, बदमाशों ने लाखों के माल पर किया हाथ साफ़
लूट की मोबाइल के साथ शातिर लुटेरे गिरफ्तार
पुलिस एनकाउंटर में ऐसे मारा गया राजस्थान का मोस्ट वांटेड कुख्यात 
आबकारी विभाग का ताबड़तोड़ छापा , अवैध शराब बरामद