भाजपा सरकार में आम आदमी हुआ बेदम : बृजपाल राठी

ग्रेटर नोएडा: प्रदेश में भारी संख्या में हो रहे अपराध और बढ़ती महंगाई एवं बेरोजगारी को लेकर सपा के पूर्व जिला प्रवक्ता बृजपाल राठी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण आज डीजल पेट्रोल आदि दैनिक वस्तुओं की कीमत आसमान छू रही है जिससे महंगाई बेकाबू हो गई है, जिससे आम आदमी बेदम हो गया है।

देश में बेरोजगारी बहुत बड़ा संकट है सरकार की नीतियों और भ्रष्टाचार कारण शिक्षित नौजवान दर-दर की ठोकर खा रहे है और उनका भविष्य अंधकार में हो गया है। विद्युत दरों और उर्वरक आदि किसान उपयोगी वस्तु के दामों में की गई अप्रत्याशित वृद्धि ने किसानों की कमर तोड़ कर रख दी है, आज प्रदेश भर में किसानों के हालात बेहद नाजुक है और वह आत्महत्या को मजबूर हो रहा है और कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार के शासन काल में आज पूरे देश में बालिकाओं और महिलाओं पर अत्याचार हो रहे हैं और सरकार आंख मूंदकर बैठी है।

प्रदेश की पुलिस माफियाओं की तरह काम कर आम आदमी को गोली का शिकार बना रही और अपराधियों को संरक्षण दे रही है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से वर्तमान सरकार द्वारा लोकतंत्र की हत्या की जा रही है, बेहद चिंतनीय है। लोकतंत्र की रक्षा के लिए सभी बुद्धजीवी को आगे आना चाहिए और निरंकुश सरकार को जड़ से उखाड़ फेंक देना चाहिए।

यह भी देखे:-

श्री रामायण मेला समिति जहांगीरपुर : भरत मिलाप देख दर्शकों के सजल हो उठे नयन
नोएडा: ग्लोबल फिल्म फेस्टिवल आज से
बाईक बोट मामला: पुलिस ने खंगाला ऑफिस, सभी खाते मिले ....
AUTO EXPO 2018 : सीएम योगी आदित्यनाथ कर सकते हैं उद्घाटन
वतन लौट आया हमारा वीर सपूत अभिनंदन, जश्न में डूबा देश
नए अविष्कारों के प्रदर्शन के साथ LED EXPO 2018 का हुआ समापन
4 और गुंडों पर लगाया गया गैंगस्टर
ग्रेटर नोएडा से आरक्षण मुक्त भारत रैली की शुराआत, सैकड़ों लोग हुए शामिल
25 हज़ार के इनामी समेत चार चोर गिरफ्तार
ऐतिहासिक बाराही मेला: जोंटी जमालपुर और आकाश जमालपुर ने जीतीं 11-11 हज़ार की कुश्तियां
शौर्य बने मिस्टर तो प्रेरणा बनी मिस गलगोटिया
आचरण शक्ति फाउंडेशन द्वारा आत्मरक्षा शिविर का आयोजन
जेवर एयरपोर्ट की फिर जागी उम्मीद : विधानमंडल बैठक में विधायक धीरेन्द्र
News Flash : ग्रेटर नोएडा , तूफान और बारिश से गिरे कच्चे मकान, कई घायल
अवैध खनन में शामिल 3 डम्फर जब्त
राम मंदिर सुनवाई:19 जनवरी 1885 से 2019 तक के न्यायालय का सफर आखिरी पड़ाव पर..