श्रीराम मित्र मंडल रामलीला नोएडा : सीता हरण दृश्य का मंचन 150 फुट की उँचाई से दृश्य का किया गया

नोएडा। श्रीराम मित्र मण्डल रामलीला समिति द्वारा आयोजित रामलीला मंचन के सातवें दिन मुख्य अतिथि पी.एस. राय उपयुक्त जीएसटी, मदन चौहान पूर्व मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार, जय भगवान गोयल राष्ट्रवादी शिव सेना प्रमुख, के०के० अग्रवाल पार्षद दिल्ली नगर निगम, एस पी सिटी सुधा सिंह, अतिविशिष्ठ अतिथि महेश जी हापुड़ वाले वैश्य समाज गाजियाबाद,संगठन के संरक्षक, नरेंद्र बंसल संगठन मंत्री वैश्य समाज,महावीर त्यागी, सतीश सिंह, अतिथि बल्ली जैन, सुरेंद्र सिंघल, सतीश गर्ग, पृथ्वी मित्तल न्यू कोंडली वाले , सतीश गुप्ता, अमित गुप्ता, वीरेंद्र गर्ग, गौरव महरोत्रा द्वारा दीप प्रज्जवलन कर लीला मंचन का शुभारम्भ किया गया । अध्यक्ष धर्मपाल गोयल एवं महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा द्वारा मुख्य अतिथियों को अंगवस्त्र ओढ़ाकर ओर प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया ।

रावण दरबार में सुर्पणखा विलाप करती हुई पहुंचती हैं। रावण ने उसकी दशा देखकर पूछा कि तेरे नाक कान किसने काटे। सुर्पणखा ने कहा कि राम लक्ष्मण दशरथ के पुत्र हैं। राम के छोटे भाई लक्ष्मण ने मेरे नाक कान काटे है और उन्होंने खर दूषण और त्रिसरा का भी वध कर दिया। रावण सोचता हैं खर दूषण को मारने वाला कोई साधारण मनुष्य नहीं हो सकता , निश्चित ही कोई अवतार है।‘‘ तो मै जाइ बैर हठि करऊॅ। प्रभु सर प्रान तजे भव तरऊॅ’’। रावण मारीचि के पास जाता हैं और राम से बदला लेने के लिए कपट मृग बनने को कहता हैं। मारीचि सोने का मृग बनकर पंचवटी से निकलता हैं तो सीता राम जी से उस स्वर्ण मृग की खाल लाने को कहती हैं। राम जी उसके पीछे जाते है और उस स्वर्ण मृग को एक बाण से मार देते हैं। मारीचि मरते समय हा लक्ष्मण हा लक्ष्मण की आवाज करता हैं। सीता जी ने राम को संकट में जानकर लक्ष्मण को उनकी सहायता में भेजती है। मौका देखकर लंकेश साधु का वेश रखकर सीता को जबरदस्ती सीता को रथ में बैठाकर आकाश मार्ग से जाता हैं इस बार सीता हरण के सजीव चित्रण के लिए 150 फुट की उँचाई से दृश्य का मंचन किया गया ।‘‘ गीधराज सुनि आरत बानी। रघुकुलतिलक नारि पहिचानी’’। जटायु रावण पर हमला कर देते हैं इसके बाद लंकेश जटायु के पंख तलवार से काट देता है। इधर राम लक्ष्मण पंचवटी पहुंचते हैं वहां पर सीता को न पाकर दुःखी होकर ढूंढने लगते हैं।‘‘ हे खग मृग हे मधुकर श्रेनी तुम देखी सीता मृग नैनी’’। रास्ते में घायल गिद्ध राज जटायु मिलते हैं वह सारा वृतांत बताते हैं और भगवान की गोद में अपने प्राण त्याग देते हैं। उसके बाद भगवान सबरी के आश्रम पहुंचते हैं जहां पर प्रेम भक्ति में सबरी के झूठे बेर खाते हैं। इसके बाद रिष्यमूक पर्वत पर पहुंचते हैं जहां सुग्रीव निवास करते हैं। हनुमान जी उनके पास ब्रहमचारी का वेष बनाकर पहुंचते है और पूछते हैं‘‘ को तुम्ह स्यामल गौर सरीरा। छत्री रूप फिरहु बनवीरा।’’ सुग्रीव से मित्रता होती है और सुग्रीव बाली की दुष्टता के बारे में बताता हैं। सुग्रीव और बाली का युद्ध होता हैं और भगवान राम बाली का वध कर देते हैं। बाली कहता हैं‘‘ मै बैरी सुग्रीव पिआरा। अवगुन कवन नाथ मोहि मारा।’’ भगवान राम कहते हैं‘‘ अनुज वधू भगिनी सुत नारी। सुनु सठ कन्या ए सम चारी’’।‘‘ इन्हहि कुदृष्टि विलोकइ जोई। ताहि बधे कछु पाप ना होई’’। इस प्रकार प्रभु श्रीराम बाली को अपने परम धाम पहुंचा देते हैं। इसी के साथ आठवें दिन की लीला का समापन होता हैं।

श्रीराम मित्र मंडल के मीडिया प्रभारी चंद्रप्रकाश गौड़ ने बताया 17 अक्टूबर को सीता खोज, सीता दर्शन, लंका दहन, विभीषण शरणागति, सेतु स्थापना आदि प्रसंगों का मंचन किया जायेगा। इस अवसर पर संस्थापक अध्यक्ष बी0पी0 अग्रवाल, मुख्य यजमान उमाशंकर गर्ग, मुख्य संरक्षक ओंकारनाथ अग्रवाल, अध्यक्ष धर्मपाल गोयल, महासचिव मुन्ना कुमार शर्मा, उपमुख्य संरक्षक ओमबीर शर्मा, कोषाध्यक्ष राजेन्द्र गर्ग, सह – कोषाध्यक्ष अनिल गोयल, सत्यनरायण गोयल, तरुण राज, मनोज शर्मा, डॉ ए के त्यागी, मुकेश गोयल, मुकेश गुप्ता, संजय शर्मा, पंकज कुमार, रविन्द्र चौधरी, आत्माराम अग्रवाल, मीडिया प्रभारी चंद्रप्रकाश गौड़, मुकेश सिंघल, चक्रपाणि गोयल, मुकेश गर्ग, एस एम गुप्ता, गौरव मेहरोत्रा, पवन गोयल,मुकेश अग्रवाल, राजकुमार गर्ग, यशवीर त्यागी, विजय भारद्वाज, अनुज गुप्ता, सुधीर पोरवाल, राकेश गुप्ता,अजय गुप्ता, रामनिवास बंसल, ओ पी गोयल,कुलदीप गुप्ता, चंद्रप्रकाश गौड़, अविनाश सिंह, सहित आयोजन समिति के पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित रहे।

यह भी देखे:-

सड़क सुरक्षा को लेकर डीजीपी और परिवहन प्रमुख सचिव ने की बैठक
जीपीएल 4 क्रिकेट टूर्नामेंट : बढ़पुरा बनाम कुलेसरा बी व मिलक 2nd बनाम खानपुर के बीच खेला गया मैच
लोहिया ऑटो ने ऑटो एक्सपो 2018 में ‘कम्फर्ट ई-ऑटो’ को लॉन्च किया
अल्ट्रासाउंड सेंटर पर किया गया औचक निरीक्षण
ग्रेटर नोएडा में सजेगी चोटी के कवियों की महफ़िल , 21 सितम्बर को रामलीला मैदान सेक्टर पाई में होगा आयो...
स्थानीय युवकों को रोजगार मुद्दे पर किसानों ने सैमसंग पर दिया धरना
लॉकडाउन संकट : ग्रेटर नोएडा के सामाजिक कार्यकर्ताओं में सेवा का जज्बा काबिले तारीफ
राम मंदिर सुनवाई:19 जनवरी 1885 से 2019 तक के न्यायालय का सफर आखिरी पड़ाव पर..
अनिल अंबानी को नहीं मिला बड़े भाई का सहारा
PARA ASIAN GAMES 2018 में वरुण भाटी ने झटका सिल्वर मेडल , गाँव में ख़ुशी की लहर
एनटीपीसी दादरी में स्वच्छ भारत अभियान पखवाड़ा
भाजपा की क्षेत्रीय वर्चुअल रैली 21 जून को , राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा करेंगे संबोधित
गांव नीमका मे शहीद दिवस पर शहीदो को याद किया
पुलिस से घिरता देख कुख्यात ने खुद को गोली से उड़ाया
गौतमबुद्ध विश्विद्यालय : कोविड -19 के प्रकोप द्वारा कॉर्पोरेट और सरकारी नेटवर्क में घुसपैठ करने और ...
घुट-घुट कर नहीं जी सकता : तेजप्रताप