किसानों की आड में, अपने राजनैतिक स्वार्थ और नेतागिरी चमकाने में लगे हुये हैं लोग : धीरेन्द्र सिंह

ग्रेटर नोएडा : आजादी से लेकर आज तक विकास की बाट जोह रहे जेवर के विकास को बाधित करना चाहती हैं विपक्षी राजनैतिक पार्टियां और किसानों की आड में, अपने राजनैतिक स्वार्थ और नेतागिरी चमकाने में लगे हुये हैं लोग. उक्त बातें जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने कहै है . आज प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए उन्होंने कहा —
जैसा कि विदित ही है कि आजादी के बाद से आज तक जेवर विधानसभा, विकास के लिए तरसती रही। यहां कोई उद्योग धंधा न होने के कारण नौजवान व गरीब तबका अपने जीवन यापन के साधनों का इंतेजार करता रहा और आज जब जेवर एयरपोर्ट के रूप में एक सौगात इस क्षेत्र को मिली तो क्षेत्रीय व विपक्षी राजनैतिक पार्टियों के लोगों में बैचेनी का आलम देखने में आ रहा है तथा किसानों की आड में अपनी राजनीति चमकाते हुए, जेवर के विकास को बाधित करने की योजना पर काम कर रहे, उन लोगों को शायद यह पता नही है कि सन् 2015 में उत्तर प्रदेश की तत्कालीन सरकार ने तकरीबन 80 ग्रामों को शहरी क्षेत्र घोषित कर, उन्हें मिलने वाले 04 गुने मुआवजे पर डांका डाला और निरंतर 30 सालों से लोग नोएडा व ग्रेटर नोएडा में सरकारी तंत्र की लूट का शिकार रहे, तब इन्हें किसानों की याद नही आयी थी। आज जेवर क्षेत्र के लिए वर्तमान प्रदेश सरकार ने राजकीय कन्या महाविद्यालय, ग्रामीण क्षेत्र के संपर्क मार्गों के लिए 05 करोड रूपये की धनराशि, 220केवी का विद्युत केन्द्र तथा प्रस्तावित 33/11 केवी के 06 बिजली घर, प्रस्तावित टर्मिनल मंडी व ऐतिहासिक जेवर एयरपोर्ट बनाये जाने की घोषणा की तो विपक्षी राजनैतिक पार्टी के नेता की व्याकुलता सडकों पर नजर आने लगी। जबकि प्राधिकरण व शासन स्तर पर यह तय हो चुका है कि ’’किसानों से कोई जोर जबरदस्ती नही होगी, दुनिया की बेहतरीन विस्थापन नीति के साथ आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित रहन-सहन उपलब्ध कराया जायेगा, प्रभावित परिवारों को नौकरी दी जायेगी और तो और प्रत्येक परिवार के बालिग सदस्य के लिए अलग आवास की व्यवस्था, इस अधिग्रहण के माध्यम से की जायेगी।’’ आज तकरीबन 74 प्रतिशत प्रभावित लोग एयरपोर्ट बनाये जाने की सहमति दे चुके हैं और मा0 मुख्यमंत्री जी, किसानों से गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में मिलने के पश्चात 500 रूपये प्रति वर्ग मीटर मुआवजा बढाये जाने की घोषणा कर चुके हैं तथा आगे भी और अधिक किसानों को लाभ मिले, इसके प्रयास जारी हैं। मैं समझता हूॅ कि भगवान ऐसे लोगों को सद्बुद्धि दे, जो इस जेवर क्षेत्र को विकसित होते नही देखना चाहते हैं और हर हाल में किसानों को बरगलाकर अपनी राजनैतिक रोटियां सेकने का काम कर रहे हैं और मुझे यह भी हैरत है कि सुविधाओं के हिसाब से जेवर एयरपोर्ट हिन्दुस्तान का पहला ऐसा एयरपोर्ट होगा जहां नवीन तकनीक से इसे दुनिया के तीसरे नम्बर का दर्जा प्राप्त होगा।

आज उत्तर प्रदेश में निवेश करने का एक माहौल बना है। एयरपोर्ट की स्थापना होने से 60 हजार करोड का निवेश इस जनपद में होने जा रहा है, जिससे यहां के किसान, मजदूर और नौजवानों का भविष्य सुरक्षित होगा। आम आदमी का जीवन स्तर उन्नत होगा तथा दुनिया के नक्शे पर जेवर की पहचान एक विकसित क्षेत्र के रूप में की जायेगी।

यह भी देखे:-

आईटीबीपी स्थापना दिवस परेड का आयोजन, गृह राज्य मंत्री ने ली परेड से सलामी
कुख्यात रणदीप-कुलवीर गैंग के गुर्गे गिरफ्तार
यमुना प्राधिकरण में हुई 126 करोड़ के घोटाले में एक और गिरफ्तारी
बजट 2019 से होम बायर्स क्यों हैं निराश? , पढ़ें पूरी खबर
बच्चे की मौत के मामले में जांच के आदेश
पंचानंद गिरी बोले - वामपंथियों व ईसाई मिशनरियों की मिलीभगत से हुई संतों की हत्या 
डॉ0 ऊर्वशी मक्कड़ को मिला ‘‘एक्सेप्सनल वूमन ऑफ एक्सिलेंस’’ का अवार्ड
शारदा विश्विद्यालय में वन महोत्सव का आयोजन
आईआईएमटी के छात्रों ने बनायी भारत की पहली स्वदेशी स्‍मार्ट दिव्‍यांग व्हील चेयर
कोविड बाद भारतीय युवा ही विश्व के लिए आशा की किरण हैं : प्रो. भगवती प्रकाश शर्मा
AUTO EXPO 2018 पहुंचे "दीपालय" एनजीओ के अनाथ बच्चों ने की मस्ती
AUTO EXPO 2018 : HYUNDAI का स्वच्छ भारत अभियान, बॉलीवुड किंग शाहरुख़ खान के साथ लॉन्च किया 'SwachhC...
covid-19:मुख्यमंत्री से शराब के ठेके बंद करवाने का किया अपील
CORONA UPDATE : गौतमबुध नगर में कोरोना पॉजिटिव मरिजों की संख्या में इजाफा
पुलिस एनकाउंटर में घायल हुआ वांटेड बदमाश गिरफ्तार
पुलिस पर हमला करने वाला हरियाणा का सरपंच गिरफ्तार