एमिटी यूनिवर्सिटी ग्रेटर नोएडा कैंपस में दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का समापन

  • “ला ट्रोब यूनिवर्सिटी, ऑस्ट्रेलिया और एमिटी यूनिवर्सिटी ग्रेटर नोएडा मिल कर स्थापित कर रहे हैं सेण्टर ऑफ़ एमिनेंस”
  • “साइबर सिक्योरिटी और अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर होगा शोध”

ग्रेटर नोएडा : एमिटी यूनिवर्सिटी ग्रेटर नॉएडा कैंपस में आज दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस (ICACE-2018) का समापन हुआ। इस अवसर पर इंस्टिट्यूट ऑफ़ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर के यूके चैप्टर प्रेजिडेंट माइक हिंची मुख्य अतिथि रहे।। उन्होंने सॉफ्टवेर तकनीक के विभिन्न चरणों के बारे में भिन्न भिन्न उदाहरणों के माध्यम से बताया। छात्रों एवं शोधार्थियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अभी तकनीक में बहुत सारे शोध होने हैं। उन्होंने नासा में चल रहे विभिन्न शोध कार्य एवं प्रयोग में आ रही नयी तकनीकों के बारे में प्रेजेंटेशन देकर सभी को अवगत कराया।। प्रोफेसर हिंची ने नासा द्वारा अंतरिक्ष में किये जा रहे विभिन्न प्रोजेक्ट्स से भी सभी को अवगत कराया ।

मदनमोहन मालवीय तकनिकी विश्वविद्यालय के वाईस चांसलर प्रोफेसर एस एन सिंह ने सभी को शोध कार्यो की शुचिता के बारे में अवगत कराया। उन्होंने बताया कि अब रिसर्च एवं सभी समस्याओं के हल के लिये सबसे आवश्यक है “क्यों” ।. जब हम सभी समस्यायों के बारे में सोचेंगे कि क्यों आयी ये समस्या तभी हम उसे हल कर पाएंगे।

एमिटी के ग्रुप वाईस चांसलर प्रो(डॉ) गुरिंदर सिंह ने सब को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे कॉन्फ्रेंस लगातार होते रहने चाहिये जिससे हम लगातार रिसर्च के लिए हमेशा काम करते रहे। उन्होंने बताया कि एमिटी समूह लगातार रिसर्च के लिये कार्य कर रहा है तथा वो भारत में सबसे ज्यादा पेटेंट फाइल करने वाली यूनिवर्सिटी बन गयी है।

संस्थान के महानिदेशक(वोकेशनल ट्रेनिंग एवं स्किल डेवलपमेंट) लेफ्टिनेंट जनरल जे सिकंद लेफिन्टेन्ट जनरल जे सिकन्द ने बताया कि किताबी ज्ञान से ज्यादा महत्वपूर्ण है नयी स्किल्स। आज कॉम्पटीशन में वही कामयाब है जिसमे नयी स्किल है। वाईस प्रेजिडेंट प्रोफ. भावना कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन देते हुए कहा की एमिटी दुनिया के कोने कोने में ऐसे इंटरनेशनल कांफ्रेंस कराती रहेगी जिससे नित नए अविष्कार होते रहे। उन्होंने सभी उपस्थित शोधार्थियों का उत्साह वर्षं करते हुए उन्हें फिर से ऐसी कॉन्फ्रेंस का हिस्सा बनने को प्रेरित किया।

इस अवसर पर ये भी बताया गया कि एमिटी ग्रुप इंस्टिट्यूट ऑफ़ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर के साथ मिलकर लन्दन, दुबई और सिंगापुर में भी इंटरनेशनल कांफ्रेंस करा रहा है। एमिटी यूनिवर्सिटी ने अमेरिकन इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के साथ भी एक mou साइन किया।

इस अवसर पर मुख्य रूप से वाईस प्रेजिडेंट ऐ के चौधरी, डीन प्रोफेसर जे एस जस्सी, ब्रिगेडियर एच एस धानी, अनीश गुप्ता एवं प्रोफेसर विनय, प्रतीक एवं अनेको शिक्षक एवं शोधार्थी उपस्थित रहे।

यह भी देखे:-

सियासी खिचड़ी पक रही ! भाजपा-शिवसेना के बीच, अटकलों का बाजार गर्म
पानी को प्रसाद की तरह इस्तेमाल करना होगा -पीएम मोदी , लॉन्च किया जल जीवन मिशन मोबाइल ऐप
ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे का काम रोक किसानों ने रखी ये मांगे 
सपा ने एक दीप शहीदों के नाम कार्यक्रम का आयोजन किया
CORONA UPDATE : गौतमबुद्ध नगर में कोरोना पड़ा सुस्त, क्या है हाल,  जानिए 
करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने किया प्रवासी मजदूरों को जरूरत का सामान वितरित
आपसी विवाद के बाद दो युवकों ने अपने साथी के प्राइवेट पार्ट में एयर कंप्रेसर का पाइप लगाकर किया उसकी ...
"ग्रेटर नोएडा देश ही नहीं विश्व का शहर" : सीईओ, शारदा विश्वविद्यालय के छात्रों के बैंड ने दी मनमोहक...
जब संसद में निर्मला सीतारमण ने दिलाई 'दामाद' की याद, 'हम दो हमारे दो' पर राहुल को घेरा
योगी का आत्मविश्वास: बोले- साढ़े चार साल में बदली यूपी की तस्वीर, हम फिर सरकार बनाएंगे
Lockdown Alert ! देश के कई राज्यों में स्कूल-कॉलेज बंद; पाबंदियां बढ़ी
मानसून सत्र: शरद पवार से मिलने घर पहुंचे केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, इन नेताओं से भी की मुलाकात
COVID 19 India News: पिछले 24 घंटे में सामने आए 26 हजार से ज्यादा मामले, 383 लोगों की मौत
उत्तराखंड की धरती फ़िर कांपी कई इलाकों में महसूस हुए भूकंप के तेज झटके, 4.0 रही तीव्रता,कहाँ हुए ज़्या...
जिला प्रशासन गौतम बुद्ध नगर द्वारा जारी कंटेनमेंट जोन  की सूची, देखें 
जी एन आई ओ टी में पांच दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ