गलगोटिया कॉलेज : “सोशल मीडिया वरदान है या अभिशाप” पर वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित

आज गलगोटिया कॉलेज ऑफ़ इन्जीनियरिंग एण्ड टैक्नलॉजी के परिसर में सोशल मीडिया जीवन का एक तरीक़ा बन गया है। “सोशल मीडिया वरदान है या अभिशाप” इस विषय पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्व० हेमवती नन्दन बहुगुणा जी के जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में अखिल भारतीय हेमवती नन्दन बहुगुणा स्मृति समिति के तत्वाधान में एक बहुत ही सफल वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि के रूप में पहुँची कैबिनेट मंत्री उ० प्र० सरकार प्रो० सुश्री रीता बहुगुणा जी ने चांसलर सुनील गलगोटिया वाइस-चॉन्सलर प्रो० रेनु लूथरा और सी०ई० ओ० ध्रुव गलगोटिया की के साथ मिलकर अपने हाथों से दीप-प्रज्ज्वलित करके किया।

वाइस-चॉन्सलर ऑफ़ गलगोटियास यूनिवर्सिटी प्रो० रेनु लूथरा ने अपने अभिभाषण में मुख्य अतिथि जी का स्वागत करते हुए कहा कि हम आपका ह्रदय से आभार व्यक्त करते हैं कि aap हमारे यहाँ पर मुख्य अतिथि के रूप में पधारे हैं।

कार्यक्रम के आगे की श्रृंखला में गलगोटियास विश्वविद्यालय के 20 विद्यार्थियों ने प्रतिभागी के रूप में हिस्सा लेते हुए अपने-अपने पक्ष को बहुत ही ज़ोरदार तरीक़े से प्रस्तुत किया। दर्शक-दीर्घा में बैठे लगभग 500 विद्यार्थियों से खचाखच भरे हुए ऑडिटोरियम में बार-बार तालियों की गडागडाहट होती रही। हर कोई प्रतिभागी अपनी-अपनी बात को बहुत ही सटीक प्रमाणों और पूरे आत्मविश्वास के साथ बोल रहे थे जिसका परिणाम ये था कि पूरा परिसर तालियाँ के साथ-साथ बार-बार ठहाकों से भी गूँजता रहा।

सुश्री रीता जी ने गलगोटियास विश्वविद्यालय का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सभी छात्रों का प्रेजेंटेशन इतना ज़बर्दस्त था कि हमें उनकी प्रतिभा पर नाज है ये बच्चे कल के भारत के उज्जवल भविष्य के निर्माण में अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका अवश्य निभायेंगे। सोशल मीडिया के विषय में उन्होंने कहा कि ये हम सबके अपने ऊपर है हम चाहें जैसे भी उसका प्रयोग कर सकते हैं। अच्छे के लिये भी और बुरे के लिये भी।
सी०ई०ओ० ध्रुव गलगोटिया ने कार्यक्रम की कोरडीनेटर प्रो० डा० आदर्श गर्ग, अमन तिवारी और स्टूडेंट्स वोलैंटीयर के अथक प्रयासों की बहुत ही सराहना की।
कार्यक्रम केअंतिम पड़ाव में प्रतियोगिता के न्यायाधीश प्रो० एमटीएम खान, प्रो० वंदना पाण्डेय, प्रो० शुचि यादव की खण्डपीठ ने कहा कि युवाओं को प्रौद्योगिकी के साथ-साथ मिश्रित संस्कार वाला दृष्टिकोण होना चाहिये।

प्रो० एमटीएम खान ने प्रतियोगिता का परिणाम घोषित करते हुए विपक्ष में विश्वरत्न शुक्ला और शुभांगी श्रीवास्तव और पक्ष में मिहिका गुप्ता और आदर्श श्रीवास्तव की विजयी होने की घोषणा के साथ-साथ उनको शुभकामनाएँ दी अब ये सभी विजयी विद्यार्थी अगली प्रतियोगिता के लिये 22 सितम्बर 2018 को लखनऊ विश्वविद्यालय में हिस्सा लेंगे।

यह भी देखे:-

आईटीएस डेंटल कॉलेज फ्रेशर पार्टी : अजय खन्ना को मिस्टर आहाना को मिस फ्रेशर का मिला खिताब
जी.डी गोयनका स्कूल में गाँधी जयंती उत्सव का आयोजन 
जी. डी. गोयंका ग्रेटर नोएडा में क्रिसमस कार्निवल की धूम
देखें VIDEO, जी.एल. बजाज संस्थान ने धूम- धाम से मनाया 14 वां स्थापना दिवस, होनहार छात्र हुए सम्मानित
पटेल जयंती पर शारदा विश्विद्यालय के छात्रों ने निकाली रैली
आईआईएमटी कॉलेज ऑफ लॉ में विधिक सहायता केन्‍द्र का उदघाटन
“राष्ट्रीय सेवा योजना ने संयुक्त रूप से जी.बी.यु. में मनाया शिक्षक दिवस”
एक्युरेट इन्स्टीट्यूट नें किया “गणपति बप्पा मोरया“ की प्रतिमा का विसर्जन, देव शिल्पी विश्वकर्मा की ह...
Teachers are Lifelong Learners : Dr. Madam Grace Pinto, M.D Ryan International Group of Institution...
एनसीसी की बालिकाओं ने किया वृक्षारोपण 
एपीजे इंटरनैशनल स्कूल में विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन
शारदा यूनिवर्सिटी में बोले डॉ एम. पी पूनिया, छात्रों को डिग्री होल्डर से ज्यादा स्किल्ड और नॉलेज होल...
जीबीयू और आईपीयूए के बीच समझौता ज्ञापन एमओयू पर हस्ताक्षर
स्कूलों व शैक्षणिक संस्थानों में धूमधाम से मनाया गया गणतंत्र दिवस , देखें झलकियाँ
जीएल बजाज इन्स्टीट्यूट आफ मैनेजमेण्ट एण्ड रिसर्च को मिला उत्कृष्ट इण्डस्ट्री-एकेडमिया इण्टरफेस का अ...
जीएल बजाज पीजीडीएम का रिओरिएण्टेशन प्रोग्राम आयोजित