मुआवजा दर कम करने पर किसानों में रोष , प्रशासन से वार्ता के बहिष्कार का किया ऐलान 

ग्रेटर नोएडा : ईस्टर्न प्रिफेरल एक्सप्रेससवे प्रतिरोध आंदोलन    ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है  जहाँ ग्राम पंचायतें आज भी काम कर रही हैं , ग्रामों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव हुए हैं उनमे कचैडा, कोट, गारबपुर, फूलपुर और नंगला किरानी का जो नई पेरीफेरल में जाने का अवार्ड एडीएम भूमि अध्याप्ति द्वारा जारी किया गया है।

 

उसमे उक्त गाँवों की ग्राम पंचायतों को16 फरवरी 2016  का हवाला देते हुए भंग कर दिखाकर उन्हें भी शहरी क्षेत्र में मानते हुए बाजार डॉ बाजार दर का दो गुणा मुआवजा घोषित किया है।  पहले प्रशासन ने कचैडा  6,750 रूपये प्रति वर्गमीटर घोषित किया गया था जिसे आज घटाकर 3,632 रूपये पर घोषित कर दिया गया।  इससे किसानों में आक्रोश है।

इधर किसान नेता सुनील फौजी ने इसे सरकार की वादाखिलाफी बताते हुए कहा जब तक ईस्टर्न पेरीफेरल के सभी गांवों का मुआवजा बाजार दर से चार गुणा नहीं किया जाता , साथ , सर्विस रोड, टोल फ्री  की मांग पूरी नहीं की जाती , शासन प्रशासन से वार्ता नहीं किया जायेगा।  इस मौके पर जितेंद्र प्रधान, बलराज भाटी, पप्पू राणा, भंवर नागर, सुशील नागर आदि मौजूद रहे।

यह भी देखे:-

गोली मारने वाले पुलिस की गिरफ्त से बाहर, पीड़ित परिवार ने कोतवाली घेरा
ग्रेटर नोएडा : रन फॉर यूनिटी में एकता का सन्देश लेकर दौड़े लोग
ग्रेटर नोएडा : यूथ फेस्टिवल में पीएम मोदी के शामिल होने की सम्भावना, तैयारी में जुटा प्रशासन
ग्रेटर नोएडा में उमंग मेले की धूम , देखें झलकियाँ
ग्रेटर नोएडा में आज भोजपुरी सांस्कृतिक कार्यक्रम, पूर्वांचल बिहार वेलफेयर सोसाइटी करा रहा है आयोजन
किसान करेंगे ग्रेनो प्राधिकरण कार्यालय का घेराव
आगामी त्यौहारो  के मद्देनजर पुलिस व एसडीएम ने  शांति  समिति की बैठक
एनसीसी बालिकाओं ने स्कूलों में किया वृक्षारोपण 
चुनाव को लेकर जिला प्रशासन की तैयारी पूरी, मतदान से एक घंटे पहले होगा मॉक पोलिंग
ग्रामीण पत्रकारिता ही असली भारत की तस्वीर है - रामपाल रघुवंशी
शस्त्र का दुरूप्रयोग करने पर लाइसेंस होंगे निरस्तीकरण : डीएम बी.एन. सिंह
द्रोण मेले में सजी कवियों की महफ़िल , देशभक्ति की कविताएं सुनाकर युवाओं में भरा जोश
करंट के चपेट में आकर युवक की मौत
सर्वजन कल्याण सेवा समिति बीटा- 2 के नई कार्यकारिणी का गठन
"मम्मी-पापा मैं आपका अच्छा बेटा नहीं बन पाया " सुसाइड नोट लिख इंजीनियरिंग के छात्र ने की ख़ुदकुशी
मजदूरों के अधिकारों का हनन नहीं होने देंगे - सतीश कनारसी , किसान कामगार मोर्चा संगठन