87 प्रतिशत के औसत अंकों के साथ 363 विद्यार्थीग्रेजुएट हुए

ग्रेटर नोएडा उत्तरप्रदेश के गांवों केआर्थिक रूप से कमजोर व प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के लिए लीडरशिप एकेडमी, विद्याज्ञान ने आज अपने 2018 बैच के लिए स्नातक समारोह का आयोजन किया। इस साल स्कूल सेकक्षा 12 की सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं में बैठकर 363विद्यार्थी ग्रेजुएट होकर निकले इस समारोह में सुरेश नारायणन, चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर, नेस्ले इंडिया और सुश्री गीता गोयल, कंट्री डायरेक्टर, इंडिया, माईकल एवं सुसानडेल फाउंडेशन गेस्ट ऑफ़ ऑनर थे एवं उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए श्रोताओं को अपने व्यक्तिगत अनुभवों केबारे में बताया।

स्कूल ने 87 प्रतिशत के औसत अंक दर्ज किए तथा 36 प्रतिशत विद्यार्थियों से 90 प्रतिशत से अधिक अंक अर्जित किए स्कूल की टॉपर, सुदीक्षा भाटी ने ह्यूमनिटीज़ में 98 प्रतिशत अंक अर्जित किए। वो बुलंदशहर से जिला टॉपर भी बनीं विद्याज्ञान के विद्यार्थियों को भारत एवं विश्व के लोकप्रिय प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रवेश मिला है। चार विद्यार्थियों को पूर्ण स्कॉलरशिप के साथ अमेरिका की प्रमुख विश्वविद्यालयों में प्रवेश मिला है।

इन विश्वविद्यालयों में बैबसन कॉलेज, ब्राइनमाउर, यूनिवर्सिटी ऑफ़ रोचेस्टर एवं हैवरफोर्ड कॉलेज हैं भारत में विद्यार्थियों ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (आईआईटी), नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (एनआईटी), नेशनल डिफेंस एकेडमी एनडीए, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी एनआईएफटी जैसे संस्थानों में तथा दिल्ली यूनिवर्सिटी के कुछ सर्वश्रेष्ठ कॉलेजों जैसे श्री राम कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स, लेडी श्री राम कॉलेज, किरोड़ी मल कॉलेज एवं गार्गी कॉलेज आदि में प्रवेश लिया है।
कई अन्य विद्यार्थियों को अन्य प्रतिष्ठित संस्थानों जैसे बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, लखनऊ यूनिवर्सिटी, क्रिस्ट यूनिवर्सिटी एवंअलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी आदि में प्रवेश मिला है।
इस साल 2017 बैच के एक विद्यार्थी ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा(एनईईटी) में सफलता अर्जित की और अब वह यूपी में दूसरेस्थान के कानपुर मेडिकल कॉलेज से मेडिसीन में ग्रेजुएशनकरेगा। एक अन्य विद्यार्थी का चयन बीएससी नर्सिंग कोर्स केलिए हुआ है और उन्हें आम्र्ड फोर्स मेडिकल कॉलेज, पुणे मेंप्रशिक्षण मिलेगा चार साल पूरे होने के बाद उन्हें आर्मीमेडिकल कोर में लेफ्टिनेंट का पद मिलेगा।

एकेडेमिक्स के अलावा विद्यार्थियों ने खेल, कला, संगीत एवं अन्य प्रतियोगिताओं में भी सम्मान हासिल किया है। विद्याज्ञान के लड़कों की एथलेटिक टीम ने अंडर 15, अंडर 19 और सीबीएसई क्लस्टर मीट में संपूर्ण चैंपियनशिप जीती है। राष्ट्रीय बैठक में एक विद्यार्थी ने एथलेटिक्स में सिल्वर मेडल जीता हैऔर लड़कों की रिले टीम ने ब्रॉन्ज़ मेडल जीता है। रिलायंस फाउंडेशन यूथ स्पोर्ट्स टूर्नामेंट में विद्याज्ञान गल्र्स टीम विजेतारही और उसे 25000 रु. मूल्य का कैश पुरस्कार मिला।

इस अवसर पर रोशनी नादर मल्होत्रा, चेयरपर्सन, विद्याज्ञानएवं ट्रस्टी, शिव नादर फाउंडेशन ने की है विद्यार्थियों ने केवल अच्छे ग्रेड्स और कॉलेज सीट ही हासिल नहीं की, बल्कि उन्होंने अपनी आर्थिक एवं सामाजिक कमजोरियों जैसी सभी बाधाओं को पार करके साबित कर दिया कि यदि शिक्षा का सही वातावरण मिले, तो हर बच्चे में स्टार बनने की क्षमता है।

उन्होंने अपेक्षाएं काफी बढ़ा दी हैं और मुझे उम्मीद है कि हमारे विद्यार्थी हर साल इस पैमाने को और ज्यादा बड़ी सफलता की ओर ले जाएंगे इन विद्यार्थियों की सफलता से न केवल उनकी और उनके परिवारों की जिंदगी बदल जाएगी बल्कि और ज्यादा विद्यार्थियों व उनके परिवारों को बेहतर भविष्य के लिए शिक्षा में निवेश करने का प्रोत्साहन भी मिलेगा।

विद्याज्ञान गरीब, प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को निशुल्क, विश्वस्तरीय शिक्षा प्रदान करता है, ताकि उन्हें अपनी वर्तमानस्थिति से ऊपर उठकर अपनी प्रतिस्पर्धा में खड़े शहरीविद्यार्थियों के बराबर आने का पूरा मौका मिले।
 
विद्याज्ञान केविद्यार्थी उत्तर प्रदेश के गांवों में गरीब किसानों, दैनिक मजदूरों आदि के परिवारों से आते हैं, जिनकी वार्षिक आय 1 लाख रु.से कम होती है। हर साल विद्याज्ञान उत्तरप्रदेश के 75 जिलों सेआवेदन करने वाले 250,000 बच्चों में से लगभग 200 प्रतिभाशाली विद्यार्थियों का चयन करता है।

यह भी देखे:-

नेफोमा ने रेरा कानून को और मजबूत करने की उठाई मांग
गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में बिग डेटा एनालिटिक्स का हूआ समापन
सैमसंग में रोजगार दिलाने को लेकर अधिकारीयों ने हाथ खड़े किये , किसान बिफरे
जानिए, क्यों नहीं जीना चाहता है कन्हैया , राष्ट्रपति से मांगी इच्छा मृत्यु
यमुना प्राधिकरण ने ऐसे दी आवंटियों को बड़ी राहत, पढ़े
गलगोटियास विश्वविद्यालय में मनाया गया चौथा दीक्षांत समारोह
ग्लोबल एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स मे रोजगार मेला
एंटी भू माफिया कार्यक्रम के तहत इन गांव से हटा अवैध कब्जा
प्रभारी मंत्री जय प्रताप सिंह ने किया किसान कल्याण कार्यशाला का किया उद्घाटन
शारदा युनिवर्सिटी में औद्योगिक महाकुम्भ का आयोजन , स्टार्ट-अप परियोजनाएं हुई पेश
शारदा विश्वविद्यालय में मना अंतरष्ट्रीय शिक्षक दिवस
एपीजे स्कूल ने मनाया भूजल संरक्षण दिवस
अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए के लिए डीएम ने की अभियोजन कार्यों की समीक्षा बैठक
जहाँगीरपुर: श्रीमद् भागवत कथा में कृष्ण जन्म पर झूम उठे श्रद्धालु
हाईटेक सिटी के किसानों ने दादरी तहसील कार्यालय का घेराव किया
"बाबूमोशाय बन्दूकबाज़" मूवी का प्रोमोशन करने शारदा विश्विद्यालय पहुंचे नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने छात्रो...