दादरी पुलिस ने ट्रिपल मर्डर का किया खुलासा, पांच गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा : दादरी पुलिस ने बीते20 जुलाई को ओमिक्रोम 2  में महिला व उसके पुत्र और  पुत्री तीहरे हत्याकांड का खुलासा मात्र 72घंटे में करते हुए इस मामले में पांच युवकों को जू 3 नहर की कोठी के पास से गिरफ्तार किया है. .आरोपी युवकों ने 20 जुलाई को घर में घुसकर ओमिक्रोम -3 में रहने वाली महिला मंजू और उसके बेटे व बेटी  के सर  पर रॉड से प्रहार क रमौत के घाट उतार दिया था .

यह हत्या प्रेम प्रसंग को लेकर होना बताया जा रहा है.  पुलिस ने आरोपियों के पास से घटना में प्रयुक्त हथियार और कार भी बरामद किया है.  एसएसपी डॉ. अजय पाल शर्मा ने बताया कि ओमीक्रोम   2सेक्टर में रहने वाली  मंजू यादव उनके बेटे कृष्णकांत  यादव और बेटी प्रियंका यादव की बृहस्पतिवार को उनके घर में लोहे की रॉड व चाकू से हमला करके हत्या कर दी गई थी. हत्या के बाद हत्यारोपी कृष्णकांत और  प्रियंका के शव को एक कार में रख कर ले गए तथा खेली मोड़ के पास नहर में फेंक दिया. एसएसपी ने बताया शुक्रवार दोपहर को इस मामले में मृतका मंजू यादव के पति प्रमोद यादव ने पुलिस को सूचना दी थी.  मौके पर पहुंची पुलिस को मंजूके का शव घर में लहूलुहान अवस्था में मिला जबकि उसके बेटे कृष्णकांत और बेटी  प्रियंका लापता थे. उन्होंने बताया कि कल कृष्णकांत का  शव थाना दनकौर क्षेत्र के नहर में मिला जबकि प्रियंका का शव पुलिस बरामद करने का प्रयास कर रही है. उन्होंने बताया इस मामले में पुलिस ने मनीष पुत्र महाराज नि0 भूपखेडी थाना लोनी जिला गाजियाबाद , बिट्टू कसाना पुत्र ज्ञान कसाना नि0 भूपखेडी थाना लोनी गाजियाबाद, प्रवीण भाटी पुत्र गिरीराज भाटी नि0 सिरसा खानपुर थाना कासना गौतमबुद्धनगर , अंकित पुत्र ब्रहमसिंह नि0 दलेलगढ थाना दनकौर गौतमबुद्धनगर , तरूण पुत्र सुखवीर नि0 डाबरा थाना दादारी जिला गौतमबुद्धनगर को गिरफ्तार किया है . मनीष 10 वीं पास कर पोलिटेक्निक कर रहा था . सभी की उम्र 18 वर्ष से लेकर 22 वर्ष है .

 

जब मुख्य आरोपी मनीष से सख्ती से पूछताछ की गई तो मनीष द्वारा बताया गया कि रॉड  वह चाकू से मैंने और  मेरे साथियों ने मिलकर मंजू  उसके बेटे कृष्णकांत और  प्रियंका की हत्या की . घटना के बारे में विस्तृत पूछताछ की गयी तो मनीष द्वारा बताया गया कि कृष्णकांत मेरी बहन पर गलत नजर रखता था और कई बार मना करने पर भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था तथा मनीष कृष्णकांत की व्यक्तिगत रंजिश  भी चल रही थी . मनीष ने बताया उसने  अपने चारों साथियों के साथ मिलकर कृष्णकांत सहित पूरे परिवार की हत्या करने की साजिश बनाई और  20 जुलाई की रात  सभी मंजू के घर में गए  और गेट खुलवाकर मंजू के सर में रॉड मारकर हत्या कर दी. जब कृष्णकांत और  प्रियंका ने उनका  विरोध किया तो इन दोनों की भी हत्या कर दी गई तथा इन दोनों के शव को इन्हीं की गाड़ी में रख बिलासपुर में फेंक दिया तथा इनके घर से सोने के आभूषण भी लूटकर ले गए जो आपस में बांट लिए थे जो बरामद हुए हैं . पुलिस ने इनसे एक चैन पीली धातू , 05 अंगूठी पीली धातू ,  02 टाप्स , 02 झूमकी पीली धातू,  घटना में प्रयुक्त एक राॅड लोहे की , कार स्पार्क न0ं डीएल 4सी एडी 7263 बरामद किया है .

 

यह भी देखे:-

जिला जेल में दो बंदियों के बीच झगड़ा, इलाज के दौरान कैदी मौत, मुकदमा दर्ज
डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा , बिल्डर - बॉयर के इन मुद्दों में पुलिस सीधे नहीं करेगी हस्तक्षेप जानिये
यमुना प्राधिकरण में हुई 126 करोड़ के घोटाले में एक और गिरफ्तारी
पत्रकारिता के पुरोधा गणेश शंकर विद्यार्थी को नमन
एनआईईटी संस्थान में मिस इंडिया खादी 2018 फैशन शो का आयोजन
आईजीसी 2018 शिविर : एनसीसी कैडेटों को एकता और अनुशासन की दी गई सीख
25 हज़ार के इनामी समेत चार चोर गिरफ्तार
मंदसौर से शुरू हुई "किसान मुक्ति यात्रा" कल पहुंचेगी दिल्ली, ग्रेटर नोएड के किसान भी होंगे शामिल
Auto Expo – The Motor Show 2018 commences with exclusive media preview
कोविड-19 वैश्विक महामारी पर गौतमबुद्ध नगर में अधिकारीयों की बैठक , क्वारंटाइन सेंटर के रखरखाव पर ह...
गौतमबुध नगर : डीएम का आदेश, तीन दिन तक जिले के समस्त शिक्षण संस्थान एवं ट्रेनिंग सेंटर रहेंगे बं...
गांव की समस्याओं को लेकर करप्शन फ्री इंडिया में प्राधिकरण को सौंपा ज्ञापन
जानिए गौतमबुद्ध नगर के CONTAINMENT ZONE , डीएम ने किया TWEET
देश में सबसे ज्यादा रनवे वाला होगा जेवर एयरपोर्ट
मुठभेड़ : लूट में फरार 1 लाख का ईनामिया बदमाश को लगी गोली
राष्ट्रपिता को अपना बनाने की होड़ में पूर्व प्रधान मंत्री लाल बहादुर शास्त्री को भूल रहे लोग