ग्रेटर नोएडा : इण्डिया एक्सपो मार्ट में IFJAS वस्त्र मेला का शुभारम्भ

ग्रेटर नोएडा : सोमवार को केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने शहर के इंडिया एक्सपो सेंटर में एक रंगारंग कार्यक्रम के दौरान 11वें भारतीय फैशन जूलरी एवं एक्सेसरीज शो (आईएफजेएएस)के साथ 61वें अंतरराष्ट्रीय वस्त्र मेले (आईआईजीएफ) का उद्घाटन किया.
ifjas 2018
ईपीसीएच के अध्यक्ष ओ. पी. प्रह्लादका ने बताया, “आईएफजेएएस [ IFJAS] हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (ईपीसीएच) द्वारा और [ IIGF] आईआईजीएफ वस्त्र निर्यात संवर्धन परिषद (एईपीसी) के द्वारा आयोजित किया जा रहा है.”

उत्तर प्रदेश सरकार के खादी एवं ग्राम उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी, बीजेपी महासचिव और नोएडा के विधायक पंकज सिंह और यूपीआईडी की अध्यक्ष क्षिप्रा शुक्ला ने भी इस समारोह की शोभा बढ़ाई.

इंडिया एक्सपो मार्ट के अध्यक्ष और ईपीसीएच के कार्यकारी निदेशक राकेश कुमार ने कहा,“इन गणमान्य व्यक्तियों के अलावा ईपीसीएच के अध्यक्ष ओ. पी. प्रह्लादका, आईएफजेएएस 2018 के अध्यक्ष श्री सुरिंदरपाल सिंह साहनी, एईपीसी के अध्यक्ष श्री एचकेएल मगू और ईपीसीएच और एईपीसी के प्रशासन समिति के सदस्य भी इस उद्घाटन समारोह के दौरान मौजूद थे.”

मेले का उद्घाटन करते हुए केंद्रीय संस्कृति राज्य मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने सबसे पहले इंडिया एक्सपो मार्ट के रूप में अत्याधुनिक सुविधाओं को ग्रेटर नोएडा के लिए आईईएमएल के अध्यक्ष और ईपीसीएच के ईडी राकेश कुमार की सराहना की, जिसकी वजह से कला और संस्कृति एक ही मंच पर आ गई हैं.

डॉ. महेश शर्मा ने कहा कि इस केंद्र ने ईपीसीएच द्वारा आयोजित ऐसे अंतरराष्ट्रीय स्तर के मेलों की बदौलत उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर को अंतरराष्ट्रीय नक्शे पर पहुंचा दिया है और अब एईपीसी अपने कपड़ा मेला के साथ जूलरी मेले से जुड़ गया है जिसमें दुनिया भर के खरीदार लाइफस्टाइल वर्ग के दो महत्वपूर्ण धड़ों (सेगमेंट्स) से अपनी जरूरत के उत्पादों को स्रोत करने पहुंचे हैं.

डॉ. महेश शर्मा ने कहा, “बहुत जल्द ही भारत के माननीय प्रधानमंत्री द्वारा निकट भविष्य में एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन किया जाएगा और एक पावर प्लांट भी तैयार किया जा रहा है ताकि बिजली की आवश्यकताओं की पूर्ति की जा सके, जो गौतम बुद्ध नगर को विकास के रास्ते पर और आगे ले जाएगा.”

नोएडा के विधायक पंकज सिंह ने इस अवसर पर कहा कि यह आयोजन अन्य देशों में भारतीय फैशन जूलरी और परिधानों की और अधिक पहचान बनाने में मददगार साबित होगा.
यूपी सरकार में माननीय खादी एवं ग्राम उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने इस अवसर पर कहा कि जिस तरह उत्पादकों और निर्यातकों ने न केवल विदेशी मुद्रा अर्जित करते हैं, टैक्स भुगतान करते हैं बल्कि साथ ही नौकरी के अवसर भी पैदा करते हैं,इसलिए प्रयास किए जा रहे हैं कि उन्हें उनके काम में आने वाली परेशानियों से निपटने के लिए सरकारी दफ्तरों में नहीं जाना पड़े बल्कि सरकारी विभाग के अधिकारी ही खुद उनके दरवाजे पर पहुंचें, एक वन स्टॉप विंडो बनाई जाएगी ताकि निर्यातक अपने व्यवसाय के विकास के लिए और अधिक समय दे सकें. उन्होंने एक ही मंच पर वस्त्र और फैशन जूलरी मेला दोनों को आयोजित करने के प्रयासों की सराहना की क्योंकि न केवल दोनों वस्त्र और फैशन जूलरी एवं एक्सेसरीज एक दूसरे के पूरक हैं और साथ साथ पहने जाते हैं,बल्कि इन दोनों के बुनियादी ग्राहक भी कमोबेश एक ही हैं. उन्होंने आगे कहा कि निकट भविष्य में ग्रेटर नोएडा देश का औद्योगिक केंद्र बन जाएगा.

ईपीसीएच के अध्यक्ष ओ. पी. प्रह्लादका ने बताया, “देश के सभी हिस्सों से पहुंचे लगभग 250 प्रदर्शक इस शो में हाई फैशन जूलरी, कम बेशकीमती जूलरी, स्टोल, स्कार्फ, शॉल, हैंड बैग, क्लच पर्स, वॉलेट, नेक टाई, बीड्स, स्टोन, हेड, हेयर एक्सेसरीज, फैंसी फैशन फुटवियर, टैटू और बिंदी प्रदर्शित करेंगे. मेले में प्रदर्शित की जा रही डिजाइनें समृद्ध, पारंपरिक, आधुनिक, समकालीन और समाज एवं बाजारों के सभी वर्गों के अनुरूप हैं.”

अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, बेल्जियम, चिली, कोलंबिया, मिस्र, फ्रांस, घाना, जर्मनी, ग्रीस, इटली, जापान, केन्या, कुवैत, लेबनान, मेक्सिको, पनामा, न्यूज़ीलैंड, रूस, स्वीडन, स्पेन, सेनेगल, दक्षिण अफ्रीका, नीदरलैंड, ताइवान, अमरीका और वियतनाम के खरीदार इस तीन दिवसीय शो के दौरान प्रदर्शक कंपनियों को अपने ऑर्डर देंगी. इस शो में आने वाली कुछ प्रमुख कंपनियों में ऑस्ट्रेलिया से ईएमएसी @ लॉटन, वायलेट ग्रे और व्हिस्ल; ब्राजील से सिचियोलो, नटू आर्टे; जर्मनी से कॉटिग केजी और नेप्च्यून शेड्स; इटली की एएफएस इंटरनेशनल; जापान से टोमो कॉर्पोरेशन और सुखा लाइफ इंकॉर्प; मलेशिया से इलीट मैट्रिक्स; पनामा से ज़ोना लिब्रे; दक्षिण अफ्रीका से मोसा, ग्लोबल बीड्ज़, सेवन्स जूलरी; यूके से अश्वेल यूके लिमिटेड और एसजी इम्पोर्ट्स; अमरीका से इंटरल्यू होम इंक, ब्लू ओशन टायराडर्स, आईटीडीसी, केएल इम्पोर्ट्स हैं.

आईएफजेएसएस 2018 के दौरान आयोजित फैशन शो खरीदारों के लिए मुख्य आकर्षणों में से होगा, जहां वो रैंप पर प्रसिद्ध मॉडलों के द्वारा फैशन जूलरी एवं एक्सेसरीज के प्रदर्शित किए जा रहे विविध और उत्कृष्ट उत्पादों को देख रहे होंगे ताकि उन्हें उनकी पसंद के उत्पादों को स्रोत करना आसान हो जाए. विभिन्न शिल्प समूहों के कारीगरों के उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए ईपीसीएच के प्रयासों के तहत, पूर्वोत्तर, पूर्वी, पश्चिमी, सेंट्रल, उत्तरी एवं उत्तराखंड के उत्पादों पर आधारित एक थीम पवेलियन भी खरीदारों के लिए इस तीन दिवसीय मेले का एक अन्य आकर्षण होगा और कारीगरों के स्टैंड पर उनकी (खरीदारों की) उपस्थिति से प्राथमिक उत्पादकों का मनोबल बढ़ेगा. इस शो का आयोजक हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद कर रही है जो दुनिया की सबसे बड़ी हस्तशिल्प प्रदर्शनी आईएचजीएफ-दिल्ली मेले का साल में दो बार आयोजन करती है.

यह भी देखे:-

फादर एग्नेल स्कूल में मनाया गया पर्यावरण दिवस
आज का पंचांग 8 जून: देखें आज के शुभ और अशुभ मुहूर्त
खड़ी गाड़ियों से करते थे डीजल चोरी, दादरी पुलिस ने दबोचा
उपराष्ट्रपति ने चैन्नई में आज कोविड-19 वैक्सीन की पहली खुराक ली
मौसम अलर्ट : हल्के बादलों के बीच दिल्ली-NCR में बनी रहेगी गर्मी
दिल्ली-एनसीआर: अप्रैल की शुरुआत में ही गर्मी ने दिखाए तेवर, 40 डिग्री के पार पहुंचा पारा
दिल्ली में आयोजित ताइक्वांडो प्रतियोगिता में रयान ग्रेटर नोएडा ने चैंपियंस ट्रॉफी पर किया कब्ज़ा
बाइक बोट के मालिक की रिमांड पूरी , उगले ये राज , पढ़ें पूरी खबर
आनन-फानन में राष्ट्रीय संपत्ति बेचना देशहित में नहीं- कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी
सपा ने एक दीप शहीदों के नाम कार्यक्रम का आयोजन किया
जीबीयू में कोरोना के साये में सामाजिक दूरी के साथ बुद्ध पूर्णिमा (वैशाख दिवस) मनाया
केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, रेमडेसिविर के इंजेक्‍शनों में हुई 50 फीसद की कटौती, जानिए अब क्या है नई ...
सीनियर नेशनल रोल बॉल प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश की टीम दूसरे स्थान पर रही
टीएमसी और कांग्रेस की आपत्ति के बाद स्वपन दासगुप्ता ने राज्यसभा से दिया इस्तीफा
एसटीएफ के हत्थे चढ़े जीएसटी चोर , लगाया करोड़ों का चूना
व्यपारियों ने कहा लॉक डाउन पीरियड की पूरी तनख्वाह देने में असमर्थ ....