सैमसंग मोबाइल यूनिट का उद्घाटन करने मेट्रो से पहुंचे पीएम मोदी-मून जे इन

नोएडा: यहाँ के सेक्टर 81 स्थित दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल यूनिट का उद्घाटन करने पीएम मोदी और दक्षिण कोरिया राष्ट्रपति मून जे इन मेट्रो से पहुंचे। जानकारी के लिए बता दें यहां आज से चीन, दक्षिण कोरिया या अमेरिका नहीं, बल्कि दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फोन फैक्टरी नोएडा में होगी। सैमसंग की इस फैक्ट्री में 7 लाख मोबाइल फोन रोज बनाने की क्षमता होगी और सालाना 12 करोड़ मोबाइल फोन का निर्माण अनुमानित है।

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत खुद सीएम योगी आदित्यनाथ ने फूलों का गुलदस्ता भेंट कर किया। नोएडा के सेक्टर-81 में यह नई यूनिट 5000 करोड़ रुपये के निवेश से तैयार हुई है।

सरकार की नोएडा-ग्रेटर नोएडा को देश का पहला मोबाइल ओपन एक्सचेंज क्लस्टर बनाने की योजना है। इसके तहत बड़ी मोबाइल कंपनियां यहां अपनी यूनिटें लगाएंगी। इसके लिए राज्य सरकार वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के साथ करार कर चुकी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक अगले कुछ साल में 10 हजार करोड़ रुपये निवेश आने की संभावना है, जबकि चार से पांच लाख रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

वियतनाम में है मोबाइल फोन की सबसे बड़ी फैक्ट्री

सैमसंग का यह संयंत्र 1997 से टीवी निर्माण के साथ शुरू हुआ था, 2005 में यहां मोबाइल फोन बनना शुरू हुआ। यहां अभी 2.5 लाख मोबाइल फोन रोज बनते हैं। अभी तक मोबाइल फोन की सबसे बड़ी फैक्ट्री वियतनाम में है, जहां सालाना करीब ढाई करोड़ फोन बनते हैं।

नोएडा का सैमसंग संयत्र
– 7 लाख मोबाइल फोन रोज बनेंगे। अभी 2.5 लाख मोबाइल बनते हैं
-35 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा
– 1 लाख 29 हजार स्कवायर मीटर जगह पर बनी है नई यूनिट
– 5000 करोड़ रुपये के निवेश से तैयार हुई है नई यूनिट

सैमसंग कंपनी नोएडा के नए संयंत्र में बने मोबाइल फोन का निर्यात पश्चिम एशियाई, अफ्रीकी और यूरोपीय बाजारों में करेगी। नोएडा के नए संयंत्र में फिलहाल मोबाइल फोन के निर्माण पर फोकस किया जाएगा और वह निर्यात केंद्रित इकाई होगी। इस समय कंपनी भारत में हर महीने करीब 50 लाख मोबाइल फोन बनाती है, जो घरेलू बाजार में बेेचे ही जाते हैं।

कोरिया के साथ रिश्तों को नया आयाम मिलेगा

मून चार दिवसीय भारत यात्रा पर रविवार को दिल्ली पहुंच गए। बड़े प्रतिनिधिमंडल के साथ पहली बार भारत आए राष्ट्रपति मून और पीएम मोदी दोनों देशों के रिश्तों को नया आयाम देंगे। मंगलवार को दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के साथ ही दोनों नेताओं में वन टू वन बातचीत होगी। इसमें साझा हितों से जुड़े वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा होगी।

इस कड़ी में दोनों देशों में विशेष सामरिक साझेदारी के साथ तकनीकी, इलेक्ट्रॉनिक्स, द्विपक्षीय व्यापार, कृषि सहित कई समझौते होंगे। इससे पहले मोदी और मून राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देंगे। बुधवार को राष्ट्रपति के साथ बैठक के बाद मून स्वदेश रवाना हो जाएंगे।

यह भी देखे:-

नेफोवा अन्य बायर संगठनों ने सीएम योगी के सामने रखी बायर्स की समस्याएँ , सीएम ने दिया जल्द ठोस कार्...
विस्तृत रिपोर्ट : ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की 114 वीं बोर्ड बैठक
श्री धार्मिक रामलीला सेक्टर पाई : शिव लीला देख भाव विभोर हुए दर्शक
हस्तशिल्प निर्यात को प्रत्साहित करने पर ईपीसीएच की भूमिका सराहनीय - स्मृति ज़ुबेन ईरानी (केंद्रीय कपड...
डिफॉल्टर आम्रपाली पर बैंकों और प्राधिकरण ने खूब की मेहरबानी
स्कूली बच्चों की सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन गम्भीर, डीएम ने की नोएडा के स्कूलों के  संचालकों व प्र...
कम नम्बर आने पर 12 वीं की छात्रा ने दी जान
प्रदीप कुमार ने भूटान में फहराया तिरंगा भाला फेंक में गोल्ड मेडल जीता
उत्तर प्रदेश में आईएएस अधिकारीयों के तबादले 
"जनता के लिए ज्यादा से ज्यादा विकास करना हमारा लक्ष्य ": धीरेन्द्र सिंह
आईआईए द्वारा जीएसटी पर कार्यशाला आयोजित
नोएडा प्राधिकरण का भ्रष्टाचार के खिलाफ नई मुहीम : इन नम्बरों पर कर पर कर सकते हैं शिकायत, पढ़ें
कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाए भाजपा कार्यकर्ता : जय प्रताप सिंह
गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में ईको कार्ट प्रतियोगिता, प्रतिभागियों ने अपने वाहनों का किया प्रदर्शन
किसानों की समस्या को लेकर भारतीय किसान यूनियन का धरना प्रदर्शन
विश्व सड़क सम्मेलन 14 नवंबर से इंडिया एक्सपो मार्ट में , सुरक्षित सड़क व मोबिलिटी पर होगी चर्चा