कैंची लगने से नवजात की मौत

ग्रेटर नोएडा: जेवर कस्बे के एक व्यक्ति ने गुरूवार को एक अस्पताल की महिला डाक्टरों पर डिलेवरी के दौरान लापरवाही से कैंची चलाने से नवजात की मौत का आरोप लगाया है। आरोप है कि डाक्टर से अधिक काम अस्पताल की एक सफाई कर्मचारी कर रही थी। वही महिला को गंभीर अवस्था में कस्बे के ही दूसरे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पीड़ित ने आरोपी डाक्टर व अस्पताल के खिलाफ तहरीर दी है।
प्रमोद पुत्र सुरेश चंद कस्बे के मौहल्ला कानून गोयान के रहने वाले है। उनकी पत्नी सोनाक्षी 9 माह की गर्भवती थी। महिला को वह कस्बे के ही टप्पल रोड स्थित एक अस्पताल लेकर पहुंचे। वहां महिला डाक्टर उसको डिलेवरी के लिये लेकर चली गई। आरोप है कि डाक्टर के साथ अस्पताल की सफाई कर्मचारी महिला भी उनके साथ गई और डाक्टर से अधिक वह डिलेवरी कर रही थी। आरोप है कि तभी डाक्टर ने कैंची चलानी शुरू की। इसका विरोध गर्भवती महिला ने किया। प्रमोद ने बताया कि उनकी पत्नी सोनाक्षी भी शादी से पहले दिल्ली के एक अस्पताल में नर्स थी और डिलेवरी किया करती थी। इसकी लिये गर्भवती महिला ने जब देखा की डाक्टर अनाड़ी है, तो उन्होने उनसे कैंची चलाने के लिये मना किया। आरोप है कि डाक्टर ने उनको फटकार लगाई और कैंची चलाती रही। आरोप है कि कुछ देर बाद ही कैंच बच्चे के सर में लग गई और उसकी कुछ देर बाद ही मौत हो गई। आरोप है कि इस बात को महिला डाक्टर ने छीपाया। महिला के परेशानी बढ़ने लगी। इसके बाद परिवार के लोग महिला को लेकर कुछ दूरी पर ही स्थिल दूसरे अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डाक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। प्रमोद ने आरोपी डाक्टर व अस्पताल के खिलाफ कार्रवाही की मांग करते हुऐ तहरीर दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी देखे:-

गुमशुदा मूक बधिर वृद्ध महिला : अपनों को खोजती आँखे , यदि पहचानें तो तुरंत संपर्क करें।
व्यापारी की समस्या तत्परता से हल करें अधिकारी -डीएम बी.एन. सिंह
शारदा विश्विद्यालय में फ्रेशर पार्टी, छात्र-छात्राएं म्यूजिक पर थिरके, उमंग सेठी मिस्टर फ्रेशर तो चा...
फैक्ट्री के गोदाम में आग लगने से मचा हड़कंप
कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों को एक करोड़ रुपये मुआवजा एवं उनके आश्रितों को नौकरी  अति शीघ्र दी ज...
ग्रेटर नोएडा के किसानों की मंत्री सतीश महाना से मुलाक़ात, मिला आश्वाशन 
उत्तर प्रदेश में पुलिस उपाधीक्षकों के तबादले
यमुना में रोपे गए 59 हज़ार पौधे
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ किसानों की महापंचायत , लगाए ये आरोप, पढ़ें पूरी खबर 
"एक अध्यापक ही अच्छे राष्ट्र का निर्माण करता है" : दीप चंद्रा
रोजगार पालिसी बनाने के लिए संयुक्त अधिकार आन्दोलन के पदाधिकारियों ने सीईओ यमुना प्राधिकरण से की मुला...
नोएडा में RTE के नियम को धुँए मे उड़ाया , 2765 EWS बच्चों को 50 निजी स्कूलों ने नहीं दिया दाखिला, शिक...
दादरी विधायक तेजपाल के नेतृत्व में किसानों ने लखनऊ में उठाई समस्या
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
गौतमबुध नगर में नए मुख्य विकास अधिकारी की हुई तैनाती
बेलगाम ट्रक ने ली बाईक सवार की जान