इंजीनियरिंग की पढ़ाई छोड़ बना नक्सली

नोएडा : थाना सेक्टर 20 पुलिस ने देर रात को हरौला गांव में छापा मारकर 50 हज़ार के इनामी नक्सली कमांडर को गिरफ्तार किया है. वह बिहार के मुजफ्फरपुजिला का रहने वाला है.

गिरफ्तार नक्सली अत्याधुनिक हथियार को चलाने और बम बनाकर ब्लास्ट करने तथा रंगदारी वसूलने में माहिर है. यहाँ पुलिस से बचने के लिए वो नोएडा में छिप कर रहा था. बिहार में वारदात को अंजाम देकर वो नोएडा में छुप जाता था. किसी को शक न हो इसके लिए वो नोएडा के मूवर्स एंड पैकर्स सिंह का काम करता था.

एसएसपी गौतमबुद्ध नगर डा.अजयपाल शर्मा ने बताया कि हमें बीती रात को सूचना मिली कि बिहार राज्य के जिला मुजफ्फरपुर के गांव मोहम्मदपुर का रहने वाला पचास हज़ार का इनामी नक्सली सुधीर कुमार पुत्र रामदेव भगत नोएडा में छुपा हुआ है. इसी सूचना के आधार नोएडा पुलिस ने बल के साथ हरौला गांव में छापा मारा जहाँ से नक्सली को गिरफ्तार कर लिया गया .

पकड़ा गया नक्सली नोएडा में फर्जी नाम पते से रह रहा था. उसने अपना फर्जी आधार कार्ड बनवा रखा था जिसमें उसने अपना नाम लोहा सिंह उर्फ़ आदित्य लिखवाया है. एसएसपी ने बताया नक्सली के पास से 32 बोर की पिस्टल, अवैध हथियार व फर्जी आधार कार्ड बरामद हुआ हुआ है. उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि पकड़ा गया नक्सली वर्ष 2007 से नक्सलवाद से जुड़ा हुआ है.

इसमें जिला मुजफ्फरपुर के धूमनगर में फरवरी में नक्सलवाद की ट्रेनिंग ली थी. छह माह तक नक्सलवाद की ट्रेनिंग लेने के बाद वो अपराध की दुनिया में आया. एसएसपी ने बताया पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है गिरफ्तार नक्सली गाँव के ही रहने वाले महेश्वर भगत से दुश्मनी थी . महेश्वर की हत्या करने के लिए वो नक्सलवाद से जुड़ा. महेश्वर भगत की वर्ष 2014 में हत्या करने के बाद इसने अपने गांव के मुखिया मदन सिंह की हत्या की. उसके बाद इसने भूली सिंह की हत्या की. एसएसपी ने बताया कि पुलिस पूछताछ के दौरान मुजफ्फरपुर के मोतीपुर और जैबान स्थित दो फैक्ट्रियों में बम ब्लास्ट किया. पूछताछ के दौरान आरोपी ने पुलिस को बताया कि रंगदारी न मिलने की वजह से दोनों फैक्ट्रियों को बम से उड़ाया था . सुधीर अत्याधुनिक हथियार चलाने और बम बनाने आदि में पारंगत है . इसके गैंग का जोनल कमांडर अनिल राम है जो उसी के गांव का रहने वाला है. उसी के माध्यम से वो नक्सली दुनिया में कदम रखा.

पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि सुधीर ने गाजियाबाद के एक इंजीनियरिंग कॉलेज से बी.टेक की पढ़ाई भी की लेकिन वह पढ़ाई अधूरी छोड़ कर फिर से नक्सलवाद में जुट गया. गिरफ्तार नक्सली कमांडर से गुप्तचर एजेंसियां, आतंकवाद निरोधक दस्ते गहनता से पूछताछ की, पूछताछ के दौरान पुलिस को नक्सलवाद से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त हुई हैं .

यह भी देखे:-

पुलिस एनकाउन्टर में घायल हुआ इनामी फरार बदमाश
नॉलेज पार्क पुलिस ने किए 10 शातिर लुटेरे गिरफ्तार
फेज- 2 पुलिस ने दो डकैतों को किया गिरफ्तार
जहांगीरपुर में सेंधमारी कर चोरी का प्रयास विफल
पुलिस एनकाउंटर में घायल हुआ 1 लाख का ईनामी बदमाश
नहर में मिला अज्ञात महिला का शव
बालू का अवैध खनन करते तीन गिरफ्तार
खादर क्षेत्र में बदमाशो का आतंक, किसान को बंधक बना तीन पशु लूटे
चाइल्ड लाइन ने किया जागरूकता कार्यक्रम
रेप के आरोप में सहपाठी छात्र गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी
पुलिस एनकाउंटर में वांटेड गैंगस्टर घायल, एक बदमाश फरार
दिव्यांग किशोरी से रेप कर आरोपी फरार, मुकदमा दर्ज
ओला -उबर बुक कर लूटते थे कैब, कासना थाना पुलिस ने दबोचा
एसटीएफ ने एमबीबीएस में दाखिला के नाम पर ठगी का किया पर्दाफ़ाश, दो गिरफ्तार
गैंगस्टर में दो वांटेड को दादरी पुलिस ने किया गिरफ्तार 
विस्तृत खबर >> हर्ष फायरिंग में गोली लगने से 14 वर्षीय किशोर की मौत