रात भर बेटे को खोजते रहे परिजन, सुबह रेलवे ट्रैक पर मिला शव

ग्रेटर नोएडा। बिसरख कोतवाली क्षेत्र के चिपियाना बुजुर्ग रेलवे फाटक पर रेल की चपेट में आने से बीती रात व्यक्ति की मौत हो गई। परिजनों को इसकी सूचना सुबह मिली।

रविवार की बीती रात पिंटू 44 वर्ष पुत्र अशोक शर्मा निवासी चिपियाना बुजुर्ग की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। मृतक के पिता अशोक का कहना है कि पिंटू बिजली का काम करता है। वह रात में खाना खाने के बाद टहलने निकला था।

परिजनों ने रात भर उसे आसपास खोजते रहे। लेकिन उसका कोई पता नहीं चल पाया। सुबह मैं रेलवे ट्रैक पर शव पड़ा होने की सूचना मिली आसपास के लोग इकट्ठा हुए और देखा जिसकी की रेलवे ट्रेक पर शव पड़ा हुआ है। जिसकी पहचान पिंटू पुत्र अशोक शर्मा चिपियाना बुजुर्ग के रूप में हुई। मृतक के परिजनों ने मौके पर पहुंचकर शव की पहचान की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। और मामले की जांच कर रही है। बिसरख कोतवाली प्रभारी मनीष सक्सेना का कहना है कि सुबह तड़के रेलवे ट्रैक पर शव मिलने की सूचना मिली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक के पिता अशोक शर्मा की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है मामले की जांच कर रही है।

यह भी देखे:-

भारतीय किसान यूनियन की समस्या को लेकर हुई पंचायत
जिला बार एसोसिएशन चुनाव : राजीव तोंगड़ बने अध्यक्ष
ट्रेन के बेटिकट यात्रियों के विरुद्ध चला अभियान
नवनियुक्त क्षेत्रीय प्रबंधक UPSIDC का आईआईए पदाधिकारियों ने किया स्वागत
एनटीपीसी दादरी में वल्लभभाई पटेल जयंती पर एकता दौड़ ली शपथ
यूपी योद्धा बेंगलुरु बुल्स को 45-33 से हराते हुए अपने होम लेग का किया अंत
दोस्त की निर्मम हत्या करने वाले पांच दोस्त गिरफ्तार
सीएम योगी से नेफोवा करेगा गेनो प्राधिकरण अधिकारीयों की शिकायत
वेलेनटाईन डे का विरोध शुरू
दो ग्राम पंचायतों के प्रधानों के वित्तीय अधिकार होंगे सीज
जेवर एयरपोर्ट की टेक्नो इकोनोमिकल फिजिबिलिटी स्टडी के लिए कन्सल्टेंट कंपनी का हुआ चयन
जेवर में विधायक जन सेवा केंद्र का शुभारम्भ , 50 गांव के फरियादी दर्ज करा सकेंगे शिकायत : धीरेन्द्र ...
शारदा विश्विद्यालय में ओरिएंटेशन प्रोग्राम, सीईओ नरेंद्र भूषण ने किया छात्रों को संबोधित
सिटी हार्ट अकादमी में शहीदों की आत्मा की शांति के लिए हुआ हवन यज्ञ
पापा के हत्यारे को फाँसी दो
फीस वृद्धि एंव मनमानी रोकने के लिए अभिभावकों को स्वंय आगे आना होगा : धीरेन्द्र सिंह