आज है मिथुन संक्रांति, ऐसे करें पूजन, लक्ष्मी का होगा वास

आज मिथुन संक्रांति है। मालूम हो साल में 12 संक्रांति होती हैं । जिसमे सूर्य अलग-अलग राशि और नक्षत्र पर विराजमान होता है। मिथुन संक्रांति के उपलक्ष्य में दान-दक्षिणा और पूजा-पाठ का विशेष महत्‍व होता है। मिथुन संक्रांति का अपना अलग महत्त्व है। इसके बाद से ही वर्षा ऋतु का आगमन हो जाता है। वैदिक ज्योतिष के मुताबिक सूर्य के मिथुन राशि में जाने पर मेष, सिंह, कन्या और मकर राशि वालों को अच्छी सूचनाएं मिलेगी व पैसा मिलेगा।
जानिए पूजन विधि(WORSHIP METHOD)

आज के दिन सिलबट्टे की भूदेवी के रूप में पूजा की जाती है। दूध और पानी से इसका स्‍नान कराया जाता है। इसके बाद चंदन, सिंदूर, फूल व हल्‍दी चढ़ाते हैं। पूजा के बाद पंडितों और गरीबों को दान दक्षिणा दिया जाता है। संक्रांति के दिन घर के पूर्वजों को श्रद्धांजलि भी दी जाती है। इस दिन विशेष रूप से पोड़ा-पीठा नाम की मिठाई बनाई जाती है। यह गुड़, नारियल, चावल के आटे व घी से बनती है। इस दिन चावल नहीं खाया जाता है। इस पूजन विधि से पूजा करने से घर में धन, सुख, शांति आती है।

यह भी देखे:-

आज का पंचांग, 3 दिसंबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
जीएनआईटी (आई.पी.यू. ) में विश्वकर्मा दिवस मनाया गया
पुरुषोत्तम मास माहात्म्य : अध्याय - ०१
आज का पंचांग, 4 नवम्बर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त
सुंदरकांड पाठ कार्यक्रम का भव्य आयोजन
नन्हें छात्रों ने गुरुकुल ठाकुर द्वारा मंदिर में मनाई गणेश चतुर्थी
श्री धार्मिक रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों ने सीईओ ग्रेनो से की मुलाकात
जब दशमी 26अक्टूबर की है, तो दशहरा 25 अक्टूबर को क्यों, जानिए राज
आज का पंचांग, 17 जुलाई 2020, जानें शुभ अशुभ मूहुर्त
श्रद्धालुओ ने ऐस सिटी में धूमधाम से मनाया लोकआस्था का महापर्व छठ
महर्षि पाणिनि वेद वेदांग विद्यापीठ गुरुकुल  में मकर संक्रांति महापूर्व उल्लासपूर्वक मनाया गया   
आज का पंचांग, 1  अक्टूबर 2020, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
आज  का पंचांग, 1  अगस्त 2020 , जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
लवकुश धार्मिक रामलीला : नारद मोह की भावपूर्ण लीला देख गदगद हुए दर्शक
आज का पंचांग, 19  अगस्त 2020 , जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
शिवरात्रि पर्व पर मंदिरों में किया भक्तों ने जलाभिषेक