भूजल सप्ताह के समापन पर बोले डीएम बी.एन. सिंह ने कहा : मनुष्य के लिए अनमोल है भूजल , इसे बचाएं

ग्रेटर नोएडा : जिलाधिकारी बीएन सिंह ने कहा कि भूजल की मनुष्य के जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका है अतः समाज के सभी वर्गो को भूजल को बचाने के लिये आगे आना होगा और इसके बचाव के उपायों पर सब को मिलकर कार्यवाही करनी होगी ताकि हमारी भावी पीढ़ी को मानकों के अनुसार शुद्ध जल प्राप्त हो सके।

डीएम कलक्ट्रेट के सभागार में प्रदेश सरकार के निर्देशों के अनुपालन में जनपद में मनाये गये भूजल सप्ताह के समापन अवसर आयोजित गौष्ठी की अध्यक्षता करते हुये अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।

उन्होनें कहा कि जनपद में भूजल सप्ताह के दौरान चैपाल लगाकर डाबरा गाॅव में तालाबों को आदर्श बनाये जाने के सम्बन्ध में कार्यक्रम आयोजित किया गया और यहाॅ पर मानव श्रृंखला भी इस सम्बन्ध में बनायी गयी इसके अलावा दो स्थानों पर जल चैपाल लगाकर आम नागरिकों को भूजल बचाने के लिये जागरूक किया गया यह अपने आप में बहुत ही महत्व का कार्य विभागीय अधिकारियों एवं संस्था के पदाधिकारियों द्वारा किया गया है वह वास्तव में बधाई के पात्र है। सरकार के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम को आगे बढानें के लिये निरन्तर रूप से प्रयास करने होगें।

डीएम ने कहा कि जनपद में जो भूजल सेना तैयार की गयी है उसकी गतिविधियों को तेज किया जाये और उनका एक वाट्सआप ग्रुप बनाकर आम नागरिकों को भूजल बचाने के लिये पे्ररित किया जाये। उन्होनें यह भी कहा कि इस कार्य में भूजल सेना का भरपूर सहयोग लिया जाये और उनके माध्यम से स्कूल कालेजों एवं विश्व विद्यालयों में कार्यक्रम एवं गौष्ठियाॅ आयोजित करते हुये स्कूली बच्चों के माध्यम से जागरूकता फैलायी जाये ताकि अधिक से अधिक लोग भूजल को बचाने के लिये आगे आ सकें।

उन्होनें इस अवसर पर ग्राम्य विकास से जुडे अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि भूजल को बचाने में तालाबों की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका है अतः सभी अधिकारी ऐसे प्रयास करें कि ग्रामों के तालाबों का सौन्दर्यकरण एवं उनके खुदान की नियमित कार्यवाही कराये और जहाॅ पर तालाबों पर अतिक्रमण पाया जाये वहाॅ तत्काल उपजिलाधिकारी के माध्यम से कार्यवाही करते हुये उसके खाली कराया जाये और उसके खुदान एवं सौन्दर्यकरण कराया जाये। कृषि विभाग के अधिकारियों के द्वारा किसानों को खेत का पानी खेत में की महत्ता बतायी जाये और ऐसे प्रयास किये जाये कि बरसात का पानी उनके खेतों से बाहर न जाने पाये ताकि भूजल स्तर बढ सकें।

इसी प्रकार उन्होनें भूजल के दोहन को रोकने के लिये सम्बन्धित अधिकारियों को आहवान किया कि उनके द्वारा भी इस दिशा में लगातार कार्यवाही की जाये और जिनके द्वारा मानकों को दर-किनार करते हुये भूजल का दोहन किया जा रहा है उनके विरूद्ध तत्काल कठोरतम कार्यवाही प्रस्तावित की जाये। इसी के साथ अधिक से अधिक स्थानों पर उयुक्त रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगवाये जाये ताकि अधिक से अधिक भूजल का संरक्षण हो सकें।

आयोजित गौष्ठी में जिला विकास अधिकारी डा राम आसरे, क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी श्री अवस्थी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी गण, भूजल सेना के पदाधिकारीगण तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारियों के द्वारा भाग लिया गया।

यह भी देखे:-

जहांगीरपुर में नि: शुल्क योग शिविर का आयोजन
रोटरी क्लब से व्हीलचेयर पाकर खिल उठा रजत का चेहरा 
यमुना प्राधिकरण ओएसडी शैलेन्द्र भाटिया की कविता संग्रह "सफ़ेद कागज़" का लोकार्पण
ताइवान के डेलीगेशन ने इंटीग्रेटिड इंडस्ट्रीयल टाउनशिप का दौरा किया
दीपक भाटी निर्विरोध बने आर.डब्लू.ए. अध्यक्ष
पत्रकार की पत्नी की मौत, डाॅक्टरों पर लापरवाही का आरोप , डीएम ने दिये जांच के आदेश
भारी सुरक्षा के बीच हंरेेद्र प्रधान हत्याकांड में आज कोर्ट में हुई पहली गवाही, आरोपी हुए पेश
अन्ना हजारे की जनसभा की तैयारी जोरों पर
5 बडे कस्बे व दर्जनों गांव रोडवेज बस सेवा से जोडे गये, जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने हरी झंडी दिखाकर...
ग्रेटर नोएडा में सबसे बड़े हस्तशिल्प मेले की भव्य शुरुआत
पथिक जयंती पर विचार गोष्ठी का होगा आयोजन
महिला दिवस पर  परसन्दी देवी कॉलेज में कार्यक्रम आयोजित
जनसंख्या वृद्धि पर जल्द करना होगा विचार
सेन्ट जोसेफ स्कूल में आईसीएससी राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता का आगाज
छात्राओं के लिए निबंध, ड्राइंग और व्यक्तिगत स्वच्छता पर किया जागरूक
सम्पूर्ण समाधान दिवस पर डीएम बी.एन . सिंह ने सुनी जनता की शिकायत