आईआईएमटी कॉलेज ऑफ लॉ में विधिक सहायता केन्‍द्र का उदघाटन

आईआईएमटी कॉलिज ऑफ लॉ ग्रेटर नोयडा में सभी वर्गो को समान रुप से विधिक सहायता प्रदान करने के लिये विधिक सहायता केन्‍द्र का उद्घघाटन गौतम बुद्ध नगर के जिला एवं सत्र न्‍यायधीश प्रदीप कुमार श्रीवास्‍तव के कर-कमलों द्वारा किया गया। न्‍यायधीश महोदय ने विधि के विधार्थियों द्वारा विभिन्‍न विधिक विषयों पर आयोजित विधिक चित्रावली का भी अवलोकन किया। इस अवसर पर विधि विधार्थियों के लिये आयोजित अतिथि व्‍याख्‍यान का उद्घाटन मुख्‍य अतिथि न्‍यायधीश प्रदीप कुमार श्रीवास्‍तव , जिला एवं सत्र न्‍यायधीश विशिष्‍ट अतिथि मनीष कुमार, सिविल जज (गौतम बुद्ध नगर), आईआईएमटी कालेज समूह के प्रबंध निदेशक मंयक अग्रवाल ,तथा विधि महाविद्यालय के निदेशक डॉ आर के सिन्‍हा एवं अन्‍य विशिष्‍ट गणमान्‍य अतिथि द्वारा किया गया।

न्‍यायधीश प्रदीप कुमार श्रीवास्‍तव ने विधार्थियों से सकारत्‍मक दृष्टिकोण अपनाते हुये गुणवत्‍ता शिक्षा प्राप्‍त करने का आहृवान किया। जिससे समाज के न्‍यूनतम स्‍तर पर उपलब्‍ध सामाजिक वर्ग की सेवा सच्‍चे मन से की जा सके। मुख्‍य अतिथि ने जोर देकर कहा कि विधि महाविद्यालयों की सफलता उनके द्वारा गुणवत्‍ता से परिपूर्ण योग्‍य विधि विशेषज्ञों के निर्माण पर निर्भर करती है। केवल कुशल अधिवक्‍ता ही समाज में जागृति लाकर कानून एवं समाज दोनों की सेवा कर सकता है।

समस्‍त सम्‍मानित अतिथियों का स्‍वागत करते हुये आईआईएमटी कालेज समूह के प्रबंध निदेशक मंयक अग्रवाल ने कहा कि न्‍यायालय को छोड़कर कहीं भी न्‍याय की उम्‍मीद हम छोड़ चुके है। हम चाहे पुलिस के पास जाये या प्रशासन के पास हमे पूर्ण न्‍याय नही मिलता ,इसीलिये हम न्‍यायपालिका की तरफ उम्‍मीद की निगाह से देखते है।
सिविल जज मनीष कुमार ने भी अपनें उद्बबोधन में छात्र-छात्राओं को गहनता पूर्वक अध्‍ययन करते हुये मानवीय मूल्‍यों के विकास करने पर जोर दिया। उन्‍होने कहा कि एक्‍ट और उसको प्राप्‍त करना दोनो में बहुत अन्‍तर है , इसी अन्‍तर को दूर करने के लिये विधिक सहायता केन्‍द्र की जरुरत है।एक बड़े तबके को पता ही नही उसके अधिकार क्‍या है।
डॉ आर के सिन्‍हा ने विधिक सहायता विषय का परिचय देते हुये कहा कि भारतीय संविधान द्वारा प्रत्‍येक नागरिक को न्‍याय दिलाने हेतु विभिन्‍न विषयों पर कानूनी सलाह देने के लिए 1987 में विधिक सहायता एक्‍ट का वर्णन किया। इनके अतिरिक्‍त वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता रामशरन नागर, नरेशचंद गुप्‍ता एवं राजेन्‍द्र सिंह राणा ने भी अपने विचार वयक्‍त किये।

यह भी देखे:-

"बाबूमोशाय बन्दूकबाज़" मूवी का प्रोमोशन करने शारदा विश्विद्यालय पहुंचे नवाजुद्दीन सिद्दीकी...
कक्षाएं बंद होने पर भड़के जेआरई के छात्र, गेट पर जड़ा ताला, एबीवीपी ने आंदोलन की दी चेतावनी
अमीचंद सर्वोदय कॉन्वेंट स्कूल में शिक्षकों की भूमिका निभा कर खुश हुए बच्चे
शारदा विश्विधालय में स्कूल ऑफ़ डेंटल साईंसेज के नवप्रवेशित छात्रों का धूम- धाम से स्वागत
सीबीएसई 12 वीं की अर्थशास्त्र की परीक्षा अब अप्रैल में, 10 वीं पर सस्पेंस
छात्रों ने निकाली जागरूकता अभियान रैली
आई.टी.एस. डेन्टल काॅलिज में ”ओरल इम्पलांटोलोजी" पर कार्यशाला का आयोजन
शारदा विश्वविद्यालय: मीडिया एकैडिमिक्स और इंडस्ट्री के बीच सामंजस्य ज़रूरी
स्काईलाइन इंस्टीट्यूट आॅफ फार्मेसी में मनाया गया विश्व फार्मसिस्ट दिवस
शारदा विश्विद्यालय के छात्रों को मिला बीएमडब्लू इंजन
गलगोटिया विश्विद्यालय: छात्रों ने देश की अखंडता को बनाए रखने का दिया संदेश
इंडिगो व SRF फाउंडेशन द्वारा सरकारी स्कूलों में आवश्यक सामानों का वितरण
आईटीएस इन्जीनियरिंग काॅलेज में संकाय विकास कार्यक्रम का समापन
शारदा विश्वविधालय के चांसलर पी. के. गुप्ता को चिकित्सा तथा शिक्षा में विशेष योगदान के लिए विशिष्ट सम...
उत्तर प्रदेश राज्य संयुक्त प्रवेश परीक्षा 21 अप्रैल को, कैसे करें आवेदन, जानिए
लॉयड कॉलेज में एचआर कॉन्क्लेव का आयोजन