राकेश कुमार लगातार तीसरी बार इंडिया एक्स्पो मार्ट (आईईएमएल) के चेयरमैन चुने गए

नई दिल्ली: इंडिया एक्स्पो मार्ट (आईईएमएल) के 86वीं बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स की मीटिंग में श्री राकेश कुमार को लगातार तीसरी बार सर्वसम्मति से चेयरमैन चुना गया है. आईईएमएल के समूचे बोर्ड ने श्री राकेश कुमार के पिछले कार्यकाल की उपलब्धियों की सराहना की और लगातार तीसरे कार्यकाल के लिए उनका स्वागत किया.

राकेश कुमार ने प्रदर्शनी और कन्वेंशन सेक्टर के विभिन्न पेशेवर संघों के साथ हस्तशिल्पों के निर्यात क्षेत्र में कार्य किया है. इसके अलावा वो हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (ईपीसीएच) के कार्यकारी निदेशक भी हैं. वो कई वर्षों से इंडिया एक्सबिशन इंडस्ट्री एसोसिएशन [IEIA] के अध्यक्ष रहने के साथ ही कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संघों के बोर्ड में भी हैं.

आईईएमएल कुटीर क्षेत्र के लिए भारत की पहली अत्याधुनिक परियोजना है जो चौबीसों घंटे मार्केटिंग सेवाएं प्रदान करती है.

इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड (आईईएमएल) की स्थापना भारतीय हस्तशिल्पों के निर्यात की विशाल क्षमता को देखते हुए इसमें सुधार के लिए की गई है.आईईएमएल अपने विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचे के लिए भी प्रसिद्ध है जो विभिन्न प्रदर्शनियों और मेलों के लिए आयोजन स्थल मुहैया कराता है.

चार साल के अपने पिछले कार्यकाल के दौरान श्री राकेश कुमार ने न केवल आईईएमएल के लिए बल्कि उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर की सोसाइटी के लिए भी कई सराहनीय कार्य किए. इस दौरान उन्होंने 3 मेगावाट सोलर रूफटॉप प्रोजेक्ट कमीशन की जो आईईएमएल के साथ ही सोसाइटी के लिए भी फायदेमंद है.

उनके कार्यकाल के दौरान एशिया और दुनिया के प्रमुख एक्शबिशन संगठनों की जरूरतों को पूरा करने के लिए छह अतिरिक्त हॉल के साथ ही 140000 वर्गमीटर क्षेत्र का निर्माण कियागया.
इसके अलावा, आईईएमएल निर्यातकों और प्रदर्शकों के लिए आईईएमएल होटल प्रोजेक्ट का अनावरण भीजल्दी होगा.
श्री कुमार को उनके नए आइडियाज के लिए जाना जाता है और अपने इन्ही आइडियाज के अंतर्गत उन्होंने इंडिया इंटरनेशनल हॉस्पिटैलिटी शो (आईएचई) लॉन्च किया और इसके साथ ही कई अन्य संस्थानों जैसे मेगा ट्रेड फेयर, एस्केलेटर ऐंड एलिवेटर एक्सपो इत्यादि के साथ मिलकर कई नए मेलो का आयोजन किया.

उनके कार्यकाल के दौरान, आईईएमएल लगातार आईएचजीएफ- दिल्ली मेला का आयोजन करने में सफल रहा है जिसे लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड को दुनिया का सबसे बड़ा हस्तशिल्पों का मेला करार दिया गया. इसके साथ ही एशिया के सबसे बड़े मेलों जैसे ऑटो एक्सपो, एलेक्रामा, जीईएस, री-इन्वेस्ट समिट, सीओपी-7 इत्यादि का सफल आयोजन किया गया.
इसके अलावा उनकी पहल पर शिक्षा के क्षेत्र में आईईएमएल ने एकेडमी ऑफ कन्वेंशन ट्रेड फेयर इवेंट रिसर्च ऐंड मैनेजमेंट (एसीटीईआरएम) की एक शिक्षण संस्थान के रूप में स्थापना की गई. एसीटीईआरएम उन लोगों को विशेष शिक्षा देती है जो एमआईसीसी (MICC) के क्षेत्र में रुचि रखते हैं.

सामाजिक कल्याण के क्षेत्र में श्री कुमार सरकारी स्कूलों की शिक्षा में सुधार के लिए प्रारंभिक स्तर पर और मोबाइल स्कूल वैन के जरिए बहुत कड़ी मेहनत कर रहे हैं और साथ ही स्कूली स्तर पर लड़के और लड़कियों के लिए सैनिटेशन की सुविधा भी मुहैया करा रहे हैं.

इस साल श्री कुमार को TRAVTOUR MICE और इंटरनैशनल हॉस्पिटैलिटी ऐंड ट्रैवल अवार्ड 2018 की तरफ से MICE पर्सन ऑफ द ईयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. उनके कार्यकाल के दौरान आईईएमएल को सर्वश्रेष्ठ MICE आयोजन स्थल से सम्मानित किया गया.

यह भी देखे:-

सेक्टर - 20 पुलिस ने गहने चुराकर भागने वाले घरेलु नौकर को किया गिरफ्तार
बड़ी कार्यवाही : लेबर सेस जमा नहीं कराने पर आम्रपाली ग्रुप दो अधिकारी अरेस्ट
Hyundai Announces Blockbuster Launch of 'The New 2018 ELITE i20'
विश्व पर्यावरण दिवस पर डॉ. अभिषेक स्वामी का लेख- ‘‘प्लास्टिक प्रदूषण की समाप्ति’’
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की 112 वीं बोर्ड , बजट का हुआ निर्धारण
Innovative Machineries is organizing open mic for ideas
दादरी : लवकुश धार्मिक रामलीला कमेटी रामलीला, श्रीराम ने तोडा धनुष सीता ने पहनाई वरमाला
जमालपुर कांड के बाद दनकौर पुलिस हुई सतर्क, लोगों से की अपराधिक घटनाओं की तुरंत जानकारी देने की अपील
श्री धार्मिक रामलीला कमेटी सेक्टर पाई: शूर्पणखा की नाक कटी, रावण ने किया सीता का हरण
श्री धार्मिक रामलीला सेक्टर पाई : मूर्छित हुए लक्ष्मण, संजीवनी लाए हनुमान
केंद्रीय फिल्म सेंसर बोर्ड की सदस्य बनीं चांद सुल्ताना
स्वदेश लौटने पर गोल्फ के चैम्पियन अर्जुन भाटी का जोरदार स्वागत
मिथिलांचल को अलग राज्य का दर्जा दिलाना पहली प्राथमिकता: कृष्ण चंद्र झा
नोएडा को मिला देश का पहला राष्ट्रीय संग्रहालय संस्थान
दिल्ली-एनसीआर में धरती कांपी, थर्राए लोग
बसपा की झोली में गई गौतमबुद्ध नगर लोकसभा की सीट