मेरठ कमिश्नर ने किया कलक्ट्रेट का निरिक्षण और दिया ये निर्देश … पढ़ें पूरी खबर

ग्रेटर नोएडा। मेरठ मंडल की कमिश्नर अनीता मेश्राम के द्वारा आज अपने शीत कालीन भ्रमण के दौरान कलेक्ट्रेट गौतम बुद्ध नगर पहुंचकर कलेक्ट्रेट परिसर में स्थापित विभिन्न कार्यालयों का स्थलीय निरीक्षण करते हुए संबंधित अधिकारियों को जनता के प्रति और अधिक जवाबदेही के साथ कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने अपने स्थलीय निरीक्षण में ईआरके, आबकारी कार्यालय, मनोरंजन कार्यालय, जिला पूर्ति अधिकारी कार्यालय, खनन विभाग, सीआरए कार्यालय, संयुक्त कार्यालय तथा रिकॉर्ड रूम का स्थलीय निरीक्षण किया गया।

मंडलायुक्त द्वारा ईआरके पटल पर पहुंचकर विभिन्न रजिस्टरों का गहनता के साथ निरीक्षण किया। उन्होंने यहां पर रिकॉर्ड रूम को भी देखा और कहा कि जो फाइल है बीडिंग करने लायक हैं उनका तत्काल वीडिंग कराया जाए। कमिश्नर ने यहां यह भी उल्लेख किया कि विभिन्न डाक का कार्य स्थानीय स्तर पर ऑनलाइन कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसके उपरांत उन्होंने जिला मनोरंजन कर अधिकारी के कार्यालय का निरीक्षण किया जहां पर उन्होंने लंबित आरसी के सापेक्ष वसूली करने के निर्देश दिए। आबकारी कार्यालय में पहुंचकर मंडलायुक्त ने आबकारी अधिकारी को अवैध शराब की बिक्री पर अंकुश लगाने तथा राजस्व प्राप्ति के लिए विशेष फोकस करने के लिए इंगित किया। तत्पश्चात उनके द्वारा संयुक्त कार्यालय में पहुंचकर विभिन्न पटलो का गहनता के साथ निरीक्षण किया और विभिन्न पंजिकाओं का गहनता के साथ निरीक्षण करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। उन्होंने जे ए पटल पर चरित्र प्रमाण पत्र बनाए जाने में एसडीएम के माध्यम से प्राप्त होने वाली रिपोर्ट में 3 माह से अधिक समय होने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार शस्त्र लिपिक पटल पर सभी शस्त्रों का ऑनलाइन होने के संबंध में जानकारी प्राप्त की और यह कार्य शत-प्रतिशत पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया गया। यहां पर उन्होंने निरस्त किए गए लाइसेंस की फाइलों का निरीक्षण किया। इसके उपरांत उनके द्वारा रिकॉर्ड रूम का निरीक्षण किया गया और सभी रिकॉर्ड को मानकों के अनुसार रखने के निर्देश दिए गए तथा समय से नक़ल जारी की जा रही है इसके संबंध में गहनता के साथ जांच की गई यह कार्य सही पाया गया।

मंडलायुक्त ने दोनों ही रिकॉर्ड रूम में मानकों के अनुसार अग्निशमन यंत्र स्थापित करने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिए। उनके द्वारा जिला पूर्ति अधिकारी कार्यालय का भी निरीक्षण किया गया और पूर्ति अधिकारी से कंप्यूटर चलाने की जानकारी प्राप्त की गई। जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा कंप्यूटर ऑपरेट करना नहीं आता। इस संबंध में मंडलायुक्त ने जिलाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि सभी अधिकारियों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाए और कंप्यूटर संचालन सभी अधिकारियों के लिए आवश्यक किया जाए ताकि सरकार के कार्य में और अधिक गतिशीलता लाई जा सके। इसके उपरांत मंडलायुक्त सीआरए कार्यालय पहुंची जहां पर उन्होंने राजस्व वसूली के संबंध में जानकारी प्राप्त की। जनपद में राजस्व वसूली विगत वर्ष से अच्छी होना बताया गया। इस कार्य को और अधिक बढ़ाए जाने के निर्देश दिए गए। उनके द्वारा खनन कार्यालय में पहुंचकर भी निरीक्षण करते हुए खनन संबंधी आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए गए। इसके उपरांत मंडल आयुक्त अनीता मेश्राम के द्वारा कलेक्ट्रेट के सभागार में राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक करते हुए कहा कि सभी राजस्व विभाग के अधिकारियों द्वारा राजस्व प्राप्ति के संदर्भ में विशेष अभियान चलाकर प्रगति बढ़ाने का कार्य किया जाए ताकि शासन को अधिक से अधिक राजस्व प्राप्त हो सके। उन्होंने राजस्व वादों के निस्तारण की समीक्षा करते हुए 5 वर्षीय पुराने वादों का निस्तारण करने के निर्देश दिए और इस कार्य पर विशेष फोकस करने का आह्वान किया गया। उन्होंने समीक्षा के दौरान पाया कि राजस्व वसूली में जनपद में विगत वर्ष की भांति इस वर्ष अच्छा कार्य किया जा रहा है और प्रगति भी अधिक है। फिर भी सभी अधिकारी राजस्व वसूली में विशेष ध्यान देते हुए इसे और अधिक बढ़ाने के लिए कहा गया। समीक्षा के दौरान उन्होंने आइजीआरएस के संबंध में पाया की 177 शिकायतें डिफाल्टर की श्रेणी में है। संबंधित अधिकारियों के द्वारा इन्हें तत्काल निस्तारित करते हुए जनता को लाभ पहुंचाने की कार्रवाई की जाए। उन्होंने यह भी कहा कि जनता की समस्याओं के निस्तारण के संदर्भ में सरकार का यह बहुत ही महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। अतः सभी अधिकारियों द्वारा इस कार्य पर विशेष ध्यान देकर आने वाली शिकायतों का निस्तारण त्वरित गति के साथ सुनिश्चित किया जाए। कर्मचारियों के प्रकरणों के संबंध में समीक्षा के दौरान पाया कि किसी भी कर्मचारी का जनपद में क्लेम रुका हुआ नहीं है और सभी को समय पर लाभ प्रदान किया जा रहा है। जनपद में पेंशन प्रकरण भी कोई लंबित नहीं पाया गया। सभी कर्मचारियों एवं अधिकारियों के सर्विस बुक एवं जीपीएफ पासबुक का निरीक्षण करने पर पूर्ण पाई गई।

समीक्षा बैठक के उपरांत मंडलायुक्त ने राजस्व से जुड़े हुए अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि उनके द्वारा सरकार की मंशा के अनुरूप कार्यप्रणाली अपनाते हुए सभी सरकार की योजनाओं एवं कार्यक्रमों का लाभ जनता तक पहुंचाने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए तथा जनता के कार्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर करते हुए शासन की मंशा का लाभ उन्हें प्रदान किया जाए। बैठक में जिलाधिकारी बीएन सिंह द्वारा जेवर एयरपोर्ट के संबंध में की जा रही कार्रवाई के संबंध में विस्तृत रूप से कमिश्नर मेरठ मंडल को जानकारी उपलब्ध कराई गई। उन्होंने इस अवसर पर मंडलायुक्त को यह भी आश्वस्त किया कि राजस्व कार्यों में तेजी लाने के उद्देश्य से उनके द्वारा जो मार्ग निर्देश दिए गए हैं। सभी अधिकारियों के माध्यम से उनका अक्षर से पालन सुनिश्चित करते हुए राजस्व कार्यों में और अधिक गतिशीलता लाने का कार्य किया जाएगा। आयोजित महत्वपूर्ण बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व केशव कुमार, अपर जिलाधिकारी भूमि अध्याप्ति बलराम सिंह, एयरपोर्ट के प्रभारी अधिकारी अभय कुमार सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी राज नारायण सिंह, जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह तथा अन्य संबंधित अधिकारीगण बैठक में उपस्थित रहे।

यह भी देखे:-

सड़क हादसे में अफ़्रीकी मूल के छात्र की मौत
बुजुर्ग को काटकर बंदरों ने किया घायल, जनता ने नगरपालिका के प्रति जताया रोष
गौतमबुद्धनगर : तीनो तहसील में समाधान दिवस का आयोजन , 95 शिकायतें दर्ज 9 का मौके पर निस्तारण
खड़ी ट्रक में कार ने मारी टक्कर, दो की दर्दनाक मौत
ग्रेटर नोएडा बीटा- 1 में फ्री थर्मल थेरपी डेमो कैम्प का होगा आयोजन
निकाय चुनाव प्रेक्षक मोहम्मद जुबैर अली ने बैठक में दिए ये दिशा-निर्देश
आईआईएमटी में डांस थेरेपी , तनाव दूर करने के बताये गए उपाय
Auto Expo 2018 : Okinawa Autotech showcases 2 products, the prototype OKI 100 motorcycle
2700 करोड़ रुपये की बिजनेस के साथ IHGF हेंडीक्राफ्ट मेला का हुआ समापन
नवनियुक्त क्षेत्रीय प्रबंधक UPSIDC का आईआईए पदाधिकारियों ने किया स्वागत
गौतमबुद्ध नगर जिले में 11 स्थानों पर 3000 से अधिक स्वयंसेवक करेंगे पथसंचलन
हत्या की झूठी सूचना देने पर जेल भेजा
अब लावारिस शिशुओं की देखभाल करेगा जिला प्रशासन
ओला कैब ड्राइवर से कार लूट
जहांगीरपुर श्री रामायण मेला समिति : बराबरी पर छूटी 51 हज़ार रूपये की कुश्ती
जानिए क्यों, इस गाँव में भाजपाइयों का प्रवेश है वर्जित