ग्रेनो प्राधिकरण दफ्तर में लगे सीईओ मुर्दाबाद के नारे

आज संयुक्त किसान अधिकार आंदोलन के बैनर पर किसान सभा गुर्जर परिषद जय जवान जय किसान मोर्चा सीआईटीयू प्रगतिशील जन आंदोलन वह अन्य कई संगठनों ने मिलकर प्राधिकरण दफ्तर पर धरना प्रदर्शन किया. संयुक्त किसान अधिकार आन्दोलन द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है धरना प्रदर्शन के बाद सीईओ के बुलावे पर बात करने पहुंचे परंतु सीईओ ने 5 लोगों से अधिक लोगों से बात करने से इंकार कर दिया । किसानों के प्रतिनिधिमंडल में 44 से अधिक लोग शामिल थे.

प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है प्रतिनिधिमंडल के सदस्य वीर सिंह नगर रविंद्र भाटी डॉ रुपेश वर्मा सुनील फौजी ने सीईओ नरेंद्र भूषण से मिलकर उन्हें अवगत कराया 44 गांवों के प्रतिनिधि हैं आपकी अभी -अभी नियुक्ति हुई है हमारी आपसे सिर्फ इतनी अपेक्षा है कि आप हमारे बीच आकर हमारा स्वागत स्वीकार करें वह हमारी समस्या को सुनकर समझने के लिए समय लेकर उस पर एक्शन ले सीईओ ने साफ शब्दों में कहा अपने कमरे से बाहर कहीं नहीं जाऊंगा किसान हैं किसान आकर मुझसे मिले हमारे यह कहने पर कि किसानों ने प्राधिकरण को जमीन दी है किसानों की समस्याओं का निस्तारण पिछले 20 वर्षों से नहीं हुआ है आबादी के 2000 से अधिक प्रकरणों की लीज बैक बकाया है साडे ₹15000 विकसित किए जाने बाकी हैं परंतु सीईओ ने अपनी बात पर अड़ते हुए किसानों के प्रतिनिधिमंडल से बुलावा देने के बावजूद मिलने से इंकार कर दिया चारों प्रतिनिधियों ने सीओ को यह भी अवगत कराया कि हम चारों समस्याओं को रखने के लिए अधिकृत नहीं है किसानों ने हमें 44 की संख्या में अधिकृत कर आपके सम्मुख अपनी समस्या रखने के लिए भेजा है अतीत में इसी प्रकार सीईओ से वार्ताएं होती रही हैं प्रतिनिधिमंडल के ज्यादातर सदस्य मौजूद रहते हैं मौन रहते हैं सिर्फ दो ही लोग बात करते हैं और 10 मिनट से ज्यादा बातें नहीं होती हैं जितना समय आपने नहीं मिलने पर जो लगाने में लगा दिया उससे भी कम समय में किसानों की वार्ता समाप्त हो जाती आपको अधिकारी होने के नाते पब्लिक सर्वेंट होने के नाते किसानों से इज्जत के साथ पेश आना चाहिए आपका यह तानाशाही पूर्ण व्यवहार सही नहीं है यह कहकर किसान अपने बाकी प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों को बताने बोर्डरूम बैठक जो चौथी मंजिल पर है गए हुए उन्हें इस बात से अवगत कराया जिससे किसानों के प्रतिनिधिमंडल में आक्रोश आ गया और सभी ने प्राधिकरण के विरुद्ध व सीईओ के विरुद्ध मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए प्राधिकरण दफ्तर से बाहर आ गए आगे के आंदोलन की नीति के लिए कल 19 सितंबर को शाम 4:00 बजे मीटिंग बुलाई है जिसमें आगे की रणनीति बनाई जाएगी आज किसान सैकड़ों की संख्या में धरना प्रदर्शन में शामिल हुए थे किसानों ने यह भी घोषणा कर रखी थी यदि किसानों की समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो किसान सैमसंग कंपनी सहित कहीं पर भी आगे के आंदोलन की रणनीति बनाकर आंदोलन करेंगे।

यह भी देखे:-

जानिए डॉक्यूमेंट्री "द ब्रदरहुड" में ऐसा क्या है जो पेश करती है हिन्दू-मुस्लिम एकता की अनो...
आईआईए द्वारा जीएसटी पर कार्यशाला आयोजित
ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे का काम रोक किसानों ने रखी ये मांगे 
वाहन की टक्कर से अज्ञात की मौत
लापता बुजुर्ग महिला का मिला शव , हत्या की आशंका
लाखों के पटाखे सहित दुकानदार गिरफ्तार
नाले में गिरकर बच्चे की मौत
ग्रेटर नोएडा : उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने किया बिजली उद्योग की सबसे बड़ी प्रदर्शनी ELECRAMA-2018
बच्चों के बलात्कारियों को मिलेगी फांसी, अध्यादेश लाएगी मोदी सरकार
स्वतंत्रता दिवस पर कासना पुलिस ने निर्धन बच्चों में मिठाई फल बांटे
भारत के दिल में घर बनाना चाहती हूँ : नाज़ जोशी, ट्रांसजेंडर विश्वसुंदरी
योजेम्स एनसीआर ओपन टेनिस चैम्पियनशिप का समापन
प्रभारी मंत्री ने की विकास एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा
जीएनआईटी (आई.पी.यू. ) में ‘’इन्फिनिटी #2K18’’ की धूम
आईजीसी 2018 शिविर : एनसीसी कैडेटों को एकता और अनुशासन की दी गई सीख
सैमसंग में स्थानीय युवाओं के रोजगार का मुद्दा : 23 अक्टूबर को होगी अधिकारीयों व अ.भा . गुर्जर परिषद...