किसानों का क्रमिक अनशन दूसरे दिन भी जारी , 40 गांवों के किसान हैं शामिल 

ग्रेटर नोएडा : नए भूमि अधिग्रहण कानून के तहत ईस्टर्नपेरि फेरल ग्रेटर नोएडा के किसान चार गुणा  मुआवजा और रोजागार मांग रहे हैं। सरकार कुछ गांवों में कम मुआवजा दे रही  है। रविवार को ग्रेटर नोएडा के 40 गांवों के किसानों ने क्रमिक अनशन शुरू कर दिया है। दादरी के बील अकबरपुर गांव में किसान 100 दिन से धरना दे रहे थे। किसानों ने अपनी मांगों को लेकर ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य बंद करवा रखा है।
सोमवार को किसानों ने धरना स्थल पर पंचायत की। किसानों ने मांगें पूरी नहीं होने तक क्रमिक अनशन का निर्णय लिया गया है। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया, किसान 100 दिन से धरने पर बैठे हैं। हम लोग सीएम से मुलाकात कर चुके हैं लेकिन मांगों को पूरा नहीं किया जा रहा है।
किसानों ने अपनी मांगों को लेकर क्रमिक अनशन शुरू किया है। 40 गांवों के किसान रोजाना एक-एक दिन क्रमिक अनशन पर बैठेंगे। पहले दिन अनशन पर सुनील फौजी, योगेंद्र नागर, सुशील नागर, संदीप शर्मा, वीरपाल सिंह, महेंद्र शर्मा, राम प्रकाश शर्मा, देवेंद्र भाटी, विजय भाटी, लिखी राम भाटी, रण सिंह भाटी शामिल हुए हैं।

यह भी देखे:-

बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर सड़क पर उतरेगी जिला कांग्रेस
मुआवजा दर कम करने पर किसानों में रोष , प्रशासन से वार्ता के बहिष्कार का किया ऐलान 
मृतक आमिर के परिवार से मिले विधायक धीरेन्द्र सिंह 
सीएम योगी से नेफोवा करेगा गेनो प्राधिकरण अधिकारीयों की शिकायत
बिजली करेंट के झटके ने ली जान
विधायक धीरेन्द्र सिंह को राखी बाँध शिक्षा मित्र बहनो ने माँगा अपने जीवन यापन का अधिकार
फसल ऋण मोचन योजना कैम्प 7 अक्टूबर से शुरू
गीता पंडित ने ली दादरी नागपलिका परिषद् अध्यक्ष पद की शपथ
शारदा विश्वविद्लाया में संतोष ट्राफी का समापन
जनसंख्या वृद्धि पर जल्द करना होगा विचार
बिलासपुर मे कूड़े की समस्या को लेकर करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने दिया ज्ञापन
ग्रेटर नोएडा : धरने पर पहुंचे राकेश टिकैत, 18 जून को होने वाले अधिवेशन में हो सकता है बडा फैसला
वकील पिटाई मामले में दर्ज हुआ मुकदमा, कोर्ट में हड़ताल ख़त्म
फटा राष्ट्र ध्वज फहराने पर करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने की शिकायत
बाल दिवस: करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने बच्चों को खाद्य एवं पाठ्य सामग्री की वितरण
"बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ" रथ को डीएम बी.एन. सिंह ने दिखाई हरी झंडी