छठ पूजा के लिए सजा सूरजपुर बाराही चमत्कारी सरोवर

ग्रेटर नोएडा : प्रत्येक वर्ष की भाँती इस वर्ष भी सूरजपुर स्थित बाराही मंदिर परिसर में स्थित चमत्कारी सरोवर पर श्रद्धालु भगवान् सूर्य को अर्ध्य देंगे। इसके लिए शिव मंदिर सेवा समिति जोर-शोर से तयारी में जुटी हुई है।

शिव मंदिर सेवा समिति के महासचिव ओमवीर बैंसला ने बताया सूरजपुर और आस-पास के क्षेत्र में हज़ारों की संख्या में पूर्वांचल और बिहार के लोग रहते हैं। पिछले कई वर्षों से बाराही मंदिर परिसर में स्थित चमत्कारी सरोवर पर शिव मंदिर सेवा समिति पूजा की व्यवस्था का कार्यकर रही है। इस वर्ष भी यहाँ सुंदर व्यवस्था की गयी है। हज़ारों की संख्या में श्रद्धालु आगामी 26 अक्टूबर को डूबते हुए सूर्य व 27 अक्टूबर की सुबह उगते सूर्य को अर्ध्य देंगे। इसके लिए समिति ने व्यवस्था पूरी कर ली है। ओमवीर बैंसला ने बताया छठ का त्यौहार अब केवल बिहार और पूर्वांचल का ही नहीं रहा बल्कि दिल्ली एनसीआर क्षेत्र के लोगों का भी हो चुका है। स्थानीय लोग भी अब छठ पर्व को मानना शुरू कर दिया है।

यह भी देखे:-

आज है मिथुन संक्रांति, ऐसे करें पूजन, लक्ष्मी का होगा वास
जहांगीरपुर कस्बे में धूमधाम से निकली भगवान श्रीकृष्ण की झांकी
जानिए, ग्रेटर नोएडा में यहाँ हुई भगवान गणपति के प्रतिमा की स्थापना
गणेश महोत्सव गामा 2 में भक्तों ने गाए भजन-कीर्तन, 3 सितम्बर को भंडारा
ग्रेटर नोएडा : विधि विधान से पूजे गए देव शिल्पी विश्वकर्मा, आज शाम भोजपुरी कलाकार बिखेरेंगे जलवा
संस्कृति संनिवेश संस्था द्वारा श्री नवचंडी महायज्ञ का भव्य आयोजन
ग्रेटर नोएडा में छठ पूजा की तैयारी जोरों पर, जानिए कहां बन रहा है घाट, कहां होगा भोजपुरी कार्यक्रम
ग्रेटर नोएडा : डेल्टा - 1 पाम पार्क में होगी छठ पूजा
नोएडा स्टेडियम में सबसे बड़ी छठ पूजा का आयोजन , हज़ारों व्रतियों ने डूबते सूर्य को दिया अर्ध्य
ईद की नमाज में मांगी मुल्क में अमन चैन की दुआएं
सावन के पहले सोमवार को शिवालय में उमड़ी भक्तों की भीड़ , बोल बम के लगे जयकारे
शिवरात्रि पर्व पर मंदिरों में किया भक्तों ने जलाभिषेक
ग्रेटर नोएडा के स्कूलों में कृष्ण जन्माष्टमी की धूम
ग़मगीन माहौल में नोएडा -जहांगीरपुर में निकला मुहर्रम का जुलूस, या हुसैन की सदाओं से गूंजा शहर
जहांगीरपुर: धूम-धाम से निकली महर्षि वाल्मीकि की भव्य शोभायात्रा
ग्रेटर नोएडा : कायस्थ समाज ने की भगवान श्री चित्रगुप्त व कलम दवात की पूजा