भूमाता ब्रिगेड प्रमुख तृप्ति देसाई का कोच्चि एयरपोर्ट पर भारी विरोध

नई दिल्‍ली: सबरीमला मंदिर के कपाट आज तीसरी बार खुलने जा रहे हैं|लेकिन,सुप्रीम कोर्ट के महिलाओं के प्रवेश की इजाजत देने के बाद भी प्रदर्शनकारी महिलाओं को मंदिर में प्रवेश न करने देने पर अड़े हुए हैं। सबरीमाला जाने के लिए पुणे से कोच्चि एयरपोर्ट पर पहुंचे तृप्ति देसाई को एयरपोर्ट पर भारी विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा। गुस्साए में प्रदर्शनकारियों ने उनका रास्ता रोक दिया। उधर, एयरपोर्ट पर टैक्सी वालों ने भी वहां से उन्हें बाहर ले जाने से इनकार कर दिया। हालांकि, तृप्ति मंदिर जाने के लिए अड़ी हुई हैं। शनि शिंगणापुर मंदिर, हाजी अली दरगाह, महालक्ष्मी मंदिर और त्र्यम्बकेश्वर शिव मंदिर समेत कई धार्मिक सथानों पर महिलाओं को प्रवेश देने के अभियान का नेतृत्व करने वाली देसाई ने केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन को ई-मेल लिखकर सुरक्षा मांगी थी क्योंकि उन्हें मंदिर जाने के दौरान हमले का डर था|इस बीच भारी बवाल को देखते हुए कई इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा : आज से भारतीय नवर्ष "उमंग मेला" शुरू
दनकौर में धूमधाम से मनाया गया सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का जन्मदिन 
अब 23 जुलाई को होगी किसानों की महापंचायत, आंदोलन को दिया जाएगा व्यापक रूप
भाजपा नेता को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतारा , दो गार्ड और राहगीर युवती की भी मौत
AUTO EXPO 2018 देख खिल उठे सरकारी स्कूल के बच्चों के चेहरे, मिला नि:शुल्क प्रवेश
स्थापना दिवस पर यमुना प्राधिकरण को तोहफा, जेवर एयरपोर्ट को मिली सैद्धान्तिक मंजूरी
मनमाने तरीके से फीस वसूली का आरोप , धरने पर बैठे बी.टेक के छात्र
बिसरख पुलिस और बदमाश के बीच मुठभेड़
डीडीआरडब्लूए मेधावी छात्रों व अच्छे आरडब्लूए को करेगा सम्मानित
गौतमबुद्ध नगर : ग्रेडिंग सिस्टम में फेल होने वाले 11 पुलिस चौकी प्रभारी लाइन हाज़िर
प्रदीप कुमार ने भूटान में फहराया तिरंगा भाला फेंक में गोल्ड मेडल जीता
ग्रेटर नोएडा में ABVP ने ममता बनर्जी का फूंका पुतला
तीनों तहसील में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन
इरफ़ान के शव लाने को लेकर जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने की विदेश राज्य मंत्री से मुलाकात
श्री रामलीला कमेटी रामलीला मंचन, राजा जनक ने चलाया सोने का हल, घड़े से हुआ सीता का जन्म
ग्रेटर नोएडा वेस्ट रामलीला : मातृ -पितृ पूजन से दिया गया बड़ों के आदर का सन्देश