देश भर के 3 लाख के डाक्टरों की हड़ताल शुरू, ओपीडी में पसरा सन्नाटा, मरीज परेशान

ग्रेटर नोएडा : देश भर के डॉक्टर आज सुबह छह बजे से हड़ताल पर चले गए हैं. आज संसद में पेश होने वाले नेशनल मेडिकल कमीशन बिल के विरोध में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने ये बंद का आह्वाहन किया है, जिसमें करीब 3 लाख डॉक्टर शामिल हो रहे हैं. प्राइवेट से लेकर सरकारी अस्पतालों के ओपीडी ठप रहने का अनुमान है, हालांकि इमरजेंसी सेवा जारी रहेगी. मरीज़ों को काफ़ी परेशानी हो सकती है. इधर ग्रेटर नोएडा के यथार्थ अस्पताल, शारदा अस्पताल, आम्रपाली अस्पताल, नवीन अस्पताल में ओपीडी बंद है. हालाँकि कैलाश अस्पताल की ओपीडी खुली हुई है.

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) का कहना है कि अगर ये बिल पास हुआ तो इतिहास का काला दिन होगा. क्योंकि अगर ये क़ानून लागू हुआ तो इलाज महंगा होगा और भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलेगा.

आईएमए नए बिल के कई प्रावधानों के ख़िलाफ़ है. प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में 15% सीटों की बज़ाय 60% सीटों की फीस तय करने का अधिकार मैनेजमेंट को दिया जाना है. एमबीबीएस के बाद भी प्रैक्टिस के लिए एक और परीक्षा देने को अनिवार्य बनाना जैसे कई दूसरे प्रावधानों का विरोध हो रहा है. इसमें एमसीआई की जगह एक राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग बनाने का प्रावधान है.

आईएमए के नवनियुक्त राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ रवि वनखेडकर ने कहा, ‘‘मौजूदा स्वरूप में एनएमसी विधेयक स्वीकार्य नहीं है. यह विधेयक गरीब विरोधी, जन विरोधी है और अलोकतांत्रिक स्वरूप वाला है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए आईएमए मुख्यालय कल देशभर में सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक 12 घंटे नियमित सेवाएं बंद रखने का ऐलान करता है.’’ दिल्ली चिकित्सा संघ (डीएमए) आईएमए के विरोध प्रदर्शन का समर्थन कर रहा है और उसने राष्ट्रीय राजधानी में सभी निजी और कॉर्पोरेट अस्पतालों में ओपीडी सेवाएं बंद करने का आह्वान किया है.

आईएमए के पूर्व अध्यक्ष डॉ के के अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर विधेयक का मसौदा फिर से तैयार करने और कुछ प्रावधानों में बदलाव का आग्रह किया था.

उन्होंने कहा कि आयुष स्नातकों को एक ब्रिज पाठ्यक्रम करने के बाद आधुनिक चिकित्सा पद्धति की प्रेक्टिस करने की इजाजत देने वाला प्रावधान गलत तरह से इलाज के तरीकों को बढ़ावा देगा.

यह भी देखे:-

जानिए, दादरी स्वास्थ केंद्र में किस बात पर भड़की प्रदेश मंत्री रीता बहुगुणा जोशी
इलाज के लिए तड़पते हुए घायल युवक की मौत
मौत के साये में ग्रेनो वेस्ट के वासी, फ़्लैट से गिर रहा है प्लास्टर , सरकार करे कार्यवाही : नेफोमा 
परीचौक जाम करने पर 8 नामजद समेत 68 पर मुकदमा दर्ज
कल 20 अगस्त को कलेक्ट्रेट सूरजपुर आधार कार्ड मेले का होगा आयोजन
द्रोण मेला के दंगल में महिला पहलवानों ने दिखाया दम-खम , उमड़ी भीड़, एसपी देहात सुनीति ने विजेता पहलवान...
कानूनी जागरूकता के लिए निकाली कार रैली
नॉलेज पार्क बना नशे का अड्डा : एबीवीपी ने डीएम से की शिकायत
ग्रेटर नोएडा : "धर्मनिरपेक्षता और लोकतंत्र" विषय पर विचार गोष्ठी 27 मई को
प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में सभी लेखपाल करें अपना कार्य- डीएम
करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने मनाया समाजसेवी अन्ना हजारे का जन्मदिन
खाई में गिरी रोडवेज की बस, एक की मौत दर्जन घायल
ग्रेटर नोएडा बीटा 1 में बंदरों का आतंक, मुसीबत में जान
कड़ाके की ठण्ड में छात्र मंगलमय कॉलेज गेट पर बैठने को हुए मजबूर, पढ़ें पूरी खबर
ट्रक ने बाइक सवारों को कुचला, मौत
डिप्टी सीएम ने बोर्ड परीक्षा केन्द्रों का किया औचक निरिक्षण, कहा नकल पर अंकुश लगाना हमारी प्राथमिकत...