“मम्मी-पापा मैं आपका अच्छा बेटा नहीं बन पाया ” सुसाइड नोट लिख इंजीनियरिंग के छात्र ने की ख़ुदकुशी

कासना कोतवाली क्षेत्र के सेक्टर बीटा दो में स्थित किराए के मकान में रहने वाले मूलरूप से उडीसा के के इंजीनियरिंग के छात्र का शव सीढियों की ग्रिल से लटका मिला। छात्र ने आत्महत्या करने से पूर्व एक सुसाइड नोट लिखा था जोकि मणिपुरी भाषा में लिखा था। पुलिस ने छात्र के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं।

मणिपुर के शंघाई प्रोइम्फाल वेस्ट निवासी कॉपरेटिव विभाग से रिटायर्ड इंस्पेक्टर बीर मंगोल सिंह का बेटा दिपेंद्र मोनगजम (22 वर्ष) नॉलेज पार्क के एक कॉलेज से बीटेक तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रहा था। दिपेंद्र अपने दो साथियों के साथ सेक्टर बीटा दो स्थित एक किराये के मकान नंबर 276 में रहता था। पुलिस ने बताया कि दिवाली की छुट्टियों में दिपेंद्र और उसके दोनों साथी दिल्ली में रहने वाले दोस्तों के पास गए थे। शनिवार को दिपेंद्र दिल्ली से ग्रेटर नोएडा लौट आया। पुलिस को उसके दोस्तों ने बताया कि वह कुछ उदास से लगा रहा था। रविवार को रात को उन्होंने दिपेंद्र को फोन किया था उसने फोन नहीं उठाया । सोमवार को उन्होंने फिर से फोन किया। लेकिन दिपेंद्र का फोन नहीं उठा। शक होने पर उन्होंने ग्रेटर नोएडा में रहने वाले अपने एक दोस्त रोशन को घर भेजा। रोशन सेक्टर बीटा दो स्थित घर पहुंचा तो दिपेंद्र सीढ़ियों की ग्रिल से लटका हुआ था। रोशन ने तुरंत फोन करके अपने दोस्तों और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर शव को नीचे उतारा और पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इस मामले में दिपेंद्र के एक दोस्त मुनसिबा मुतुम ने कासना कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस ने दिपेंद्र के पिता को फोन करके घटना के बारे में बताया। पुलिस को दिपेंद्र के पिता ने बताया कि वो शंघाई प्रोइम्फाल वेस्ट से ग्रेटर नोएडा के लिए निकल चुके हैं।

मणिपुरी भाषा में सुसाइड नोट होने से पुलिस ने पढने में साथी छात्र की सहायता ली

कासना कोतवाली पुलिस ने दिपेंद्र के कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद किया है। जिसे दिपेंद्र ने मणिपुरी भाषा में लिखा है। पुलिस ने सुसाइट नोट को पढ़ने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस उसे पढ़ नहीं सकी। जिसके बाद पुलिस ने दिपेंद्र के दोस्तों से नोट को पढ़वाया।

कासना कोतवाली के उप निरीक्षक यतेन्द्र सिंह ने बताया कि मणिपुर का रहने वाला छात्र ग्रेटर नोएडा के एक कोलॅज में इंजीनियरिंग की पढाई करता था। सुसाइड नोट में किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई की मांग नही की है अपनी मर्जी से आत्महत्या करने की बात लिखी थी। परिजनों को सूचित किया गया।

यह भी देखे:-

मुआवजा दर कम करने पर किसानों में रोष , प्रशासन से वार्ता के बहिष्कार का किया ऐलान 
स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर दीप श्रृंखला बनाकर शहीदों को किया गया नमन
ग्रेटर नोएडा में आज GST MEGA CAMP , GST से सम्बंधित समस्या का होगा निराकरण
जिला सेवायोजन कार्यालय में रोजगार मेला 29 नवंबर को
जूते पाकर खिले बच्चों के चेहरे
रास्ता अवरुद्ध होने पर भड़के ग्रामीण, रोका ईस्टर्न पेरिफेरल का कार्य
ग्रेटर नोएडा में पुष्पोत्सव का समापन, विजयी प्रतिभागियों को किया गया पुरष्कृत
सम्पूर्ण समाधान दिवस में डीएम-एसएसपी ने जनता की समस्या का किया निस्तारण
लोकतंत्र एवं पंथ निरपेक्षता पर विचार गोष्ठी
जीएनओआईटी और ग्रेटर नोएडा वर्ल्ड स्कूल में योग शिविर आयोजित
शारदा अस्पताल में मनाया गया वरिष्ठ नागरिक समाज फाउण्डेशन डे
बैरीकेडिंग तोड़ ट्रोला ने पांच गाड़ियों को मारी टक्कर
बिल्डर के खिलाफ खरीदारों ने खोला मोर्चा, हंगामा प्रदर्शन
ग्रेटर नोएडा : "पेट्रो टेक-2019" में शामिल होंगे प्रधानमंत्री मोदी, तैयारियों में जुटा प...
लोकसभा चुनाव की मतगणना की व्यवस्था की गई दुरुस्त , पढ़े पूरी खबर
मजदूरों को जहरीले सांप ने काटा, हालत नाजुक