आदर्श रामलीला मंचन सूरजपुर : श्री राम भाइयों समेत शिक्षा लेने गए गुरकुल

ग्रेटर नोएडा : आदर्श रामलीला कमेटी सूरजपुर द्वारा बाराही मेला मैदान में रामलीला का मंचन किया गया। जिसमें राजा दशरथ को यह धन-धान्य राजपाट के बावजूद संतान ना होने का दुख सताने लगा।

इसके बाद गुरु वशिष्ठ द्वारा पुत्र कामना यज्ञ द्वारा महाराज दशरथ जी के पुत्र प्राप्ति के लिए याद किया गया। पुत्रोष्टि यज्ञ के बाद राम और उनके चारों भाइयों के जन्म होता है , अयोध्या में उत्सव मनाया जाता है। इसके बाद गुरु वशिष्ठ राम लक्ष्मण शत्रुघन राम-लक्ष्मण भरत शत्रुघ्न चारों भाइयों को शिक्षा-दीक्षा के लिए अपने गुरुकुल में ले जाते हैं। दर्शकों ने बड़े ही तन्मन्यता के साथ मंचन देखा। इस अवसर पर मुख्य रुप से श्री चंद भाटी , सतपाल शर्मा , कर्मवीर आर्य, मूलचंद प्रधान , जयदेव शर्मा , भोपाल ठेकेदार, भूदेव शर्मा , योगेश अग्रवाल , रामअवतार गर्ग , वीरपाल भगत , बीरबल शर्मा , ईश्वर देवधर, सुनील सोनक आदि व हज़ारों दर्शकों ने लुत्फ़ उठाया।

यह भी देखे:-

नारद मोह प्रसंग के साथ शुरू हुआ आदर्श रामलीला सूरजपुर का मंचन
जहांगीरपुर कस्बे में गणेश पूजन के साथ रामलीला का मंचन शुरू
भक्ति संगीत नृत्य प्रतियोगिता के साथ आज शाम विजय महोत्सव का होगा आगाज
कवि सम्मलेन के साथ आज शाम दशहरा महोत्सव का होगा आगाज
विजय महोत्सव : भक्ति संगीत नृत्य प्रतियोगिता, जूनियर ग्रुप डिवाइन, सीनियर में ऑक्सफ़ोर्ड ग्रीन और अक...
आदर्श रामलीला सूरजपुर में सजा रावण का दरबार
श्री रामलीला कमेटी साईट - 4 : वानर मुख मिलने पर देवर्षि नारद भगवान विष्णु को दिया श्राप
रामलीलाओं का मंचन देखने आज ग्रेटर नोएडा पहुंचेंगे डिप्टी सीएम
श्रीराम मित्र मंडल नोएडा रामलीला मंचन : धूमधाम से निकाली गयी राम बारात
श्री धार्मिक रामलीला सेक्टर पाई डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने किया उद्घाटन
श्री रामलीला कमेटी साईट - 4 के मंचन में सैकड़ों लोगों ने ली स्वच्छता की शपथ
श्री रामलीला कमेटी ग्रेटर नोएडा रामलीला मंचन : शूर्पणखा की नाक कटी, रावण ने किया सीता का हरण
आदर्श रामलीला मंचन सूरजपुर : भरत मिलाप का मंचन देख भावुक हुए दर्शक
सिकंदराबाद में निकली भव्य राम बारात , आचार्य अशोकानंद ने किया शुभारम्भ
श्री रामलीला कमेटी साईट - 4 : प्रभु राम के अग्निवाण से रावण कुम्भकरण और मेघनाद के पुतले का हुआ दहन,...
जहांगीरपुर : श्री राम के राजतिलक के साथ रामलीला का समापन