बाईक बोट स्कैम : एक और एडिशनल डायरेक्टर गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा। हजारों करोड़ रूपये के फर्जीवाड़े के मामले में दादरी कोतवाली पुलिस ने बाइक बोट कंपनी के एक और एडिशनल डायरेक्टर को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने हजारों लोगों को झांसे में लेकर कंपनी में मोटा पैसा निवेश करवाया था। बता दें एसआईटी की टीम ने रविवार रात दबिश देकर तीन एडिशनल डायरेक्टर को गिफ्तार किया था। इस मामले में कंपनी के मालिक समेत 11 आरोपी जेल में बंद हैं। एसपी देहात कुमार रणविजय सिंह ने बताया कि दादरी कोतवाली पुलिस ने बाइक बोट फर्जीवाड़ा के मामले में वांछित चल रहे आरोपी संजय गोयल को गिरफ्तार किया है। आरोपी संजय गोयल कंपनी में एडिशनल डायरेक्टर के पद पर कार्यरत था। मेरठ निवासी संजय गोयल लोगों को झांसे में लेकर पैसा निवेश करवाता था।

नोएडा पुलिस द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति – जनपद गौतमबुद्धनगर पुलिस का सराहनीय कार्य

दिनांक 06.8.2019 को थाना दादरी पुलिस द्वारा चार मूर्ति चैराहा से बाइक बोट प्रकरण मे वांछित चल रहे अभियुक्त संजय गोयल एडि0 डायरेक्टर बाईक बोट को गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार अभियुक्त का नाम पता
संजय गोयल (एडि0 डाय0 बोट बाईक) पुत्र हंस कुमार गोयल नि0 म0नं0 8 अप्पू इन्कलेव रूडकी रोड थाना पल्लवपुरम मोदीपुरम मेरठ

अभियोग का विवरणः-
मु0अ0सं0 340/2019 धारा 420/467/468/471/409/201 भादवि थाना दादरी जिला गौतमबुद्धनगर।

मीडिया सेल
गौतमबुद्धनगर पुलिस

यह भी देखे:-

एसटीएफ का सीबीआई के चर्चित अंकित चौहान मर्डर केस में खुलासा, इंजीनीयर समेत दो गिरफ्तार
शार्प शूटर का रिश्तेदार वाहन चोरी  में गिरफ्तार 
ग्रेटर नोएडा पुलिस ने फर्जी शादी कराने के आरोपी को किया गिरफ्तार 
पांच दुकानों में सेंधमारी कर हज़ारों की चोरी
परिवार सोता रहा, चोर उड़ा ले गए नगदी व जेवरात
हथियारबंद बदमाशों ने कैब लूटी
नोएडा-ग्रेटर नोएडा में बिल्डरों के खिलाफ दर्ज हुआ 13 FIR
जान की परवाह किये बिना दो बहादुर बहनों ने बदमाशों से लिया लोहा
क्रेडिट कार्ड पॉकेट में, विदेश में हो गयी ऑनलाइन शॉपिंग
लूट कर भाग रहे दो बदमाशों को पुलिस ने दबोचा
बैंक का चैनल गेट तोड़कर चोरी का प्रयास
सुन्दर भाटी गैंग के सदस्यों को दिया शरण, पंहुचा हवालात
मोबाईल शॉप की चोरी का खुलासा, दो गिरफ्तार
पुलिस मुठभेड के उपरान्त तीन शातिर अभियुक्त गिरफ्तार
बरात चढ़त के दौरान हर्ष फायरिंग करते विडियो वाइरल, दो घायल
हथियार के नोंक पर अकाउंटेंट से लूट